"ओसामा" को जी और हाफिज को साहब कहते हैं दिग्विजय सिंह

दिग्विजय सिंह इन दिनों अपनी शादी को लेकर सुर्खियों में हैं। इससे पहले भी विवादित बयानों के कारण चर्चा में रहते थे।

By: पवन राणा

Published: 07 Sep 2015, 04:54 PM IST

नई दिल्ली। कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह इन दिनों अपनी शादी को लेकर सुर्खियों में हैं। इससे पहले वह अपने विवादित बयानों के कारण चर्चा में रहते थे।

दिग्विजय सिंह का विवादों से पुराना नाता रहा है। उनके दो बयान काफी विवादों में रहे थे। एक था दुनिया के खूंखार आतंकी ओसामा बिन लादेन को "ओसामा जी" से संबोधित करना और दूसरा मुंबई हमलों के मास्टर माइंड हाफिज सईद को "साहब" कहना।



2 मई 2011 को जब अमरीका ने ओसामा के पाकिस्तान के एबटाबाद स्थित ठिकाने पर धावा बोलकर उसे ढेर किया था तब दिग्विजय सिंह ने अमरीका की इस कार्रवाई कास्वागत करते हुए कहा था, ओसामाजी पाकिस्तान में कई सालों से रह रहे थे। यह कैसे संभव है कि पाकिस्तान की अथॉरिटीज उसका पता नहीं लगा पाई। यही नहीं दिग्विजय सिंह ने कहा था कि अमरीका को सम्मानजक तरीके से ओसामा के शव को दफनाना चाहिए।

Digvijaya-Singh-4-1432314750.jpg" border="0">

हालांकि बाद में दिग्विजय सिंह ने इसे मीडिया क्रिएशन करार दिया था। 2013 में दिग्विजय सिंह ने मुंबई हमले के मास्टर माइंड हाफिज सईद को साहब से संबोधित किया था। दिग्विजय सिंह ने कहा था,हाफिज सईद साहब आतंकी गतिविधियों में लिप्त है और पाकिस्तान उनका समर्थन करता है। दिग्विजय सिंह के इस बयान को लेकर भाजपा ने कांग्रेस से पार्टी महासचिव के खिलाफ कार्रवाई करने को कहा था। दिग्विजय सिंह से पहले तत्कालीन गृह मंत्री सुशील कुमार शिंदे ने भी हाफिज को साहब से संबोधित किया था।


पवन राणा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned