तीन तलाक के बिल पर भाजपा का समर्थन नहीं करेगी JDU, कांग्रेस करेगी पुरजोर विरोध

तीन तलाक के बिल पर भाजपा का समर्थन नहीं करेगी JDU, कांग्रेस करेगी पुरजोर विरोध

Mohit sharma | Publish: Jun, 14 2019 07:58:36 AM (IST) | Updated: Jun, 14 2019 02:11:01 PM (IST) राजनीति

  • तीन तलाक के बिल पर भाजपा के खिलाफ JDU
  • राज्य सभा में भाजपा का नहीं करेगी समर्थन
  • कांग्रेस भी संसद में भाजपा का करेगी विरोध

नई दिल्ली। मोदी सरकार की प्राथमिकता वाले तीन तलाक बिल पर भाजपा के सहयोगी दल जेडीयू के विरोधी सुर सुनाई पड़ रहे हैं। बिहार के CM नीतीश कुमार की पार्टी जेडीयू ने तीन तलाक के मुद्दे पर भाजपा का विरोध करने की बात कही है। जेडीयू के श्याम रजक ने गुरुवार को कहा कि वह तीन तलाक के मुद्दे पर राज्यसभा में भाजपा नेतृत्व वाली राजग सरकार का समर्थन नहीं करेगी।

आंधी से तापमान में आई गिरावट के बाद, गुरुवार को फिर तपेगी दिल्ली

jdu

'वायु' चक्रवात: अशांत समुद्र में हलचल, 20 फीट ऊंची उठ रहीं लहरें, देखें वीडियो

तीन तलाक विधेयक के खिलाफ वोट

जेडीयू नेता के अनुसार 'हम इसके खिलाफ है और हम इसके खिलाफ लगातार खड़े रहेंगे'। उन्होंने कहा कि तीन तलाक एक सामाजिक मुद्दा है और इसे सामाजिक स्तर पर समाज के द्वारा सुलझाया जाना चाहिए। रजक ने कहा कि जेडीयू ने राज्यसभा में तीन तलाक विधेयक के खिलाफ वोट दिया था। इसके पहले नीतीश कुमार ने सार्वजनिक तौर पर तीन तलाक विधेयक का विरोध किया था।

दिल्ली: DMRC ने भेजा मेट्रो में महिलाओं के मुफ्त सफर का प्रस्ताव, सरकार से मांगा 8 माह का समय

jdu

मोंटी चड्ढा IGI एयरपोर्ट से गिरफ्तार, फ्लैट बायर्स से 100 करोड़ के फ्रॉड का आरोप

नीतीश कुमार ने रुख किया साफ

आपको बता दें कि नीतीश कुमार ने पिछले दिनों अपना रुख दोहराते हुए कहा था कि अनुच्छेद 370 को हटाने, समान नागरिक संहिता लागू करने और अयोध्या में भव्य राम मंदिर का निर्माण कराने के मामले या तो संवाद के जरिए सुलझाए जाएं या अदालत के आदेश के जरिए।

गुजरात तट को छू कर निकलेगा ‘वायु’ चक्रवात, सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाए गए 2 लाख लोग

 

jdu

'वायु' चक्रवात से मानसून पर मंडराए संकट के बादल, उत्तर भारत में संकट के आसार

'अनुच्छेद 370 समाप्त नहीं किया जाना चाहिए'

नीतीश ने कहा था कि यह हमारा विचार है कि अनुच्छेद 370 समाप्त नहीं किया जाना चाहिए। इसी तरह समान नागरिक संहिता किसी के ऊपर नहीं थोपी जानी चाहिए और अयोध्या में राम मंदिर का मुद्दा या तो संवाद के जरिए सुलझाया जाए या अदालत के आदेश के जरिए।"

अमित शाह के एक्शन ISI में हड़कंप, कश्मीर में तैयार किया नया अलगाववादी ग्रुप

 

jdu

संसद में कांग्रेस करेगी विरोध

वहीं, कांग्रेस ने भी संसद में तीन तलाक विधेयक का विरोध की बात कही है। कांग्रेस ने कहा कि विधेयक के कुछ प्रावधानों पर चर्चा की जरूरत है। वहीं सरकार की सहयोगी जनता दल युनाइटेड भी इस विधेयक के खिलाफ है। कांग्रेस के राज्यसभा सदस्य और प्रवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा कि तीन तलाक पर हमने कुछ बुनियादी मुद्दे उठाए हैं। सरकार कई बिंदुओं पर सहमत हुई है। उन्होंने कहा कि अभी भी एक या दो बिंदु बचे हैं और उन बिंदुओं पर चर्चा की जरूरत है। हम इसका (विधेयक का) विरोध करेंगे।'

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned