पीएम मोदी ने राष्ट्र के नाम संबोधन में कहा- नया कश्मीर बनाएंगे, इस तरह करेंगे कायापलट

पीएम मोदी ने राष्ट्र के नाम संबोधन में कहा- नया कश्मीर बनाएंगे, इस तरह करेंगे कायापलट

Prashant Kumar Jha | Updated: 09 Aug 2019, 07:31:49 AM (IST) राजनीति

  • धारा 370 हटने के बाद पीएम मोदी का देश के नाम संबोधन
  • करोड़ों देशभक्तों का अब सपना पूरा होगा
  • पाकिस्तान अनुच्छेद 370 का इस्तेमाल कर रहा था

नई दिल्ली। जम्मू कश्मीर से धारा 370 ( #Article 370 revoke ) को निष्प्रभावी करने के बाद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ( Prime Minister Narendra Modi ) ने आज पहली बार देश को संबोधित किया। पीएम मोदी ने कहा कि अनुच्छेद 370 से मुक्ति एक सच्चाई है, वह अब इतिहास की बात हो गई। जम्मू कश्मीर को केंद्र शासित राज्य बनाने का फैसला सोच समझकर लिया गया। अपने संबोधन में मोदी ने जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के लोगों को भरोसा दिलाया कि इस ऐतिहासिक फैसले से यहां के लोगों का वर्तमान सुधरेगा और भविष्य भी संवरेगा।

पीएम मोदी ने कहा कि जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में एक नए युग की शुरुआत हुई। अब देश के सभी नागरिकों के अधिकार समान होगा। उन्होंने कहा कि एक शांत, सुरक्षित और समृद्ध जम्मू कश्मीर बनाने का सपना है और इस दिशा में अब काम शुरू हो गया।

ये भी पढ़ें: धारा 370 पर पुनर्विचार करे भारत, तो हम राजनयिक संबंधों को बहाल करने की समीक्षा करेंगे: पाकिस्तान

धीरे-धीरे वहां के हालात सुधर जाएंगे

पीएम मोदी 8वें महीने की 8 तारीख को 8 बजे राष्ट्र के नाम संबोधित किया। टेलीविजन पर देश के नाम संबोधन में पीएम मोदी ने कहा कि कुछ लोग हालात बिगाड़ने की कोशिश कर रहे हैं। लेकिन वहां के स्थानीय लोग उन्हें माकूल जवाब दे रहे हैं। धीरे-धीरे वहां के हालात सुधर जाएंगे। हालात सुधरते ही जम्मू कश्मीर को पूर्ण राज्य का दर्जा मिल जाएगा। लद्धाख केंद्र शासित प्रदेश बना रहेगा।

पाकिस्तान कर रहा था धारा 370 का इस्तेमाल

पीएम मोदी ने अपने संबोधन में कहा कि जम्मू कश्मीर अब आंतकवाद और अलगावाद से मुक्त होगा। पीएम मोदी ने कहा कि अनुच्छेद 370 का इस्तेमाल पाकिस्तान कर रहा था। कुछ लोग वहां हालात बिगाड़ने की कोशिश कर रहे हैं, लेकिन वहां के स्थानीय लोग धैर्यपूर्वक जवाब भी दे रहे हैं। पीएम मोदी ने कहा कि हमें यह भी नहीं भूलना चाहिए कि आतंकवाद और अलगागवाद को बढ़ावा देने की पाकिस्तानी साजिश के विरोध में जम्मू-कश्मीर के ही देशभक्त लोग डटकर खड़े हुए हैं। भारतीय संविधान पर भरोसा रखने वाले सभी भाई-बहन बेहतर जिंदगी जीने का अधिकारी है।

पीएम मोदी ने कहा कि जम्मू कश्मीर और लद्दाख के लोगों का जीवन बदलने वाला है। योजनाओं को धरातल पर उतारने का काम किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि बिना भेदभाव के अवसर दिए जाएंगे। कश्मीर में युवाओं को रोजगार के नए अवसर मिलेंगे। यहां के युवा कश्मीर का प्रतिनिधित्व करेंगे।

ये भी पढ़ें: अलगाववाद और आतंकवाद से मुक्ति मिलेगी, जानिए राष्ट्र के नाम पीएम मोदी के संबोधन की 10 बड़ी बातें

 

ईद मनाने में किसी तरह की परेशानी नहीं होगी

पीएम मोदी ने ईद को लेकर भी सभी लोगों को शुभकामनाएं दी। उन्होंने कहा कि जम्मू कश्मीर और इससे बाहर रह रहे लोगों को ईद मनाने में किसी तरह की परेशानी नहीं आएगी। पीएम मोदी ने राष्ट्र के नाम संबोधन में कहा कि जम्मू कश्मीर में फिल्म की शूटिंग होती थी लेकिन हालात को लेकर बंद हो गए। यहां फिल्म और पर्यटन के क्षेत्रों में अपार संभावनाएं हैं। अब हर फिल्म यहां रोजगार लेकर आएगी।

देश के नाम पीएम मोदी का संबोधन अपडेट्स:

- सुरक्षाकर्मियों और जवानों को बहुत बहुत शुक्रिया

-ईद पर जम्मू कश्मीर जाने वाले लोगों को सुरक्षा प्रदान की जाएगी

-जम्मू कश्मीर में ईद पर विशेष सुरक्षा व्यवस्था लागू

-पाकिस्तान की साजिश का जवाब जम्मू कश्मीर के लोग दे रहे हैं

-मुट्ठीभर लोग हालात बिगड़ने वाले हैं उन्हें धौर्यपूर्वक जवाब मिल रहे हैं

-मेरा निवेदन है कि देश की भावना का सभी सम्मान करें

-देशहित को सर्वोपरि मानकर व्यवहार करें

-मैं मतभेदों और आपत्तियों का भी सम्मान करता हूं

- सोलर पावर का बड़ा केंद्र बन सकता है लद्दाख

-जम्मू कश्मीर में स्पोर्ट्स एकेडमी हो

फिल्म के लिए जम्मू कश्मीर बेहतर जगह

-जम्मू कश्मीर में दुनिया भर से लोग शूटिंग करने आएंगे

- जम्मू कश्मीर लाखों औषधीय पौधे बिखरे हुए हैं

-जम्मू-कश्मीर के युवाओं को नेतृत्व का अवसर नहीं दिया

-अब योजनाओं को धरातल पर उतारने का काम जारी है

-कुछ समय के लिए J&K को केंद्र शासित प्रदेश बनाया गया

- गवर्नर से ये भी आग्रह करूंगा कि ब्लॉक डवलपमेंट काउंसिल का गठन हो

-रोजगार के रास्ते बनाए जाएंगे

-महिला सरपंच ने कमाल कर दिया

-जम्मू कश्मीर में जल्द चुनाव कराए जाएंगे

- जम्मू कश्मीर के लोगों की जिंदगी आसान होगी

- J&K में नागरिकों को पूरा हक मिलेगा

- J&K में आतंकवाद, अलगाववाद और परिवारवाद से मुक्त कराएंगे

-जम्मू कश्मीर के लोग अब अपना प्रतिनिधि चुनेंगे

-1947 में जम्मू कश्मीर वोलों के साथ अन्याय हुआ था

- लद्दाख केंद्र शासित प्रदेश बन रहेगा

-जम्मू को केंद्र शासित राज्य बनाने का फैसला सोच समझकर लिया गया

- जम्मू कश्मीर में लाखों लोग वोट नहीं करते थे

-अब देश के सभी नागरिकों को एक समान अधिकार

-अल्पसंख्यकों के लिए जम्मू कश्मीर में आरक्षण नहीं था

-जम्मू कश्मीर की बेटियों को भी अब सारे हक मिलेंगे

-यहां लोगों को SC-ST आरक्षण का लाभ भी नहीं मिलता

-जम्मू कश्मीर और लद्दाख के लोगों का वर्तमान सुधरेगा साथ ही भविष्य बनेगा

-तीन दशक में करीब 42 हजार लोग मारे गए

-देशवासियों को बहुत-बहुत बधाई

-पाकिस्तान 370 का इस्तेमाल कर रहा था

-दोनों अनुच्छेदों का पाकिस्तान ने इस्तेमाल किया

-धारा 370 से अलगाववाद, आतंकवाद और परिवारवाद को फायदा था

 

हालांकि, पीएम का संबोधन सात अगस्त को ही होने वाला था। लेकिन, पूर्व विदेश मंत्री और बीजेपी की कद्दावर नेता सुषमा स्वराज के निधन के कारण यह कार्यक्रम स्थगित हो गया। दरअसल केंद्र सरकार ने अनुच्छेद 370 को खत्म करते हुए जम्मू-कश्मीर के विशेष दर्जे को खत्म कर दिया है। इसके अलावा जम्मू-कश्मीर राज्य को दो केन्द्र शासित प्रदेशों में भी बांट दिया गया है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned