Sanjay Raut की बढ़ सकती है मुश्किलें, वाराणसी में दर्ज हो सकता है मुकदमा

  • बीजेपी बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ प्रकल्प की डॉ. रचना अग्रवाल ने अपनी शिकायत में संजय राउत के बयान को महिला सम्मान को ठेस पहुंचाने वाला बताया।
  • शिवसेना सांसद के खिलाफ कार्रवाई न होने पर करणी सेना ने आंदोलन छेड़ने की चेतावनी दी।

By: Dhirendra

Updated: 09 Sep 2020, 05:01 PM IST

नई दिल्ली। बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत मामले को लेकर शिवसेना प्रवक्ता व राज्यसभा सांसद संजय राउत ( Sanjay Raut ) की मुश्किलें आने वाले दिनों में बढ़ सकती हैं। दरअसल, भारतीय जनता पार्टी बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ प्रकल्प की प्रदेश संयोजक डॉ. रचना अग्रवाल ने वाराणसी के सिगरा थाने में उनके खिलाफ एक शिकायत दी है। उन्होंने थाना पुलिस ने संजय राउत के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की मांग की है।

बीजेपी बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ प्रकल्प की डॉ. रचना अग्रवाल ने सिगरा थाना पुलिस को दी तहरीर में अभिनेत्री कंगना रनौत के खिलाफ अभद्र बयान को महिला सम्मान को ठेस पहुंचाने वाला बताया है। उन्होंने इस आधार पर मुकदमा दर्ज करने की मांग की है।

आज से ब्लू और पिंक लाइन पर दौड़ी Delhi Metro, 28 में से 9 मेट्रो स्टेशन पर मिलेगी इंटरचेंज की सुविधा

इस मामले में सिगरा थानाध्यक्ष आशुतोष कुमार ओझा ने बताया कि शिकायत के आधार पर मामले की जांच जारी है। फिलहाल थाना पुलिस ने ई-मेल से यह शिकायत महाराष्ट्र के पुलिस को भेजी गई है। मुंबई पुलिस का जवाब आते ही सिगरा पुलिस कार्रवाई करेगी।

संजय राउत ने पेश की सफाई

यह मामला तूल पकड़ने पर शिवसेना प्रवक्ता संजय राउत ने अपनी सफाई में कहा कि महाराष्ट्र में उसका मतलब नॉटी और बेईमान होता है। अगर इस पर कोई राजनीति करना चाहता है तो किसी भी शब्द का कुछ भी मतलब निकाल जा सकता है।

Cheteshwar Pujara : आईपीएल में मौका मिलने पर खुद को टी-20 का बेहतर खिलाड़ी साबित कर सकता हूं

आंदोलन की चेतावनी

दूसरी तरफ करणी सेना के कार्यकर्ताओं ने कंगना के खिलाफ अशोभनीय टिप्पणी को लेकर संजय राउत के खिलाफ मंगलवार को गोरखपुर में विरोध प्रदर्शन किया।करणी सेना ने शास्त्री चौक पर संजय राउत का पुतला भी जलाया। करणी सेना गोरखपुर के जिला अध्यक्ष देवेंद्र सिंह ने कहा कि संजय राउत ने कंगना के लिए जिस तरह की भाषा का इस्तेमाल किया, उससे सभी महिलाओं का अपमान हुआ है। हम महाराष्ट्र सरकार और शिवसेना से राउत के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। कार्रवाई न होने पर उन्होंने शिवसेना के खिलाफ आंदोलन छेड़ने की चेतावनी दी है।

कंगना ने मांगी थी सुरक्षा

बता दें कि सुशांत सिंह आत्महत्या मामले में पिछले कई दिनों से जुबानी जंग जारी है। कंगना रनौत ने ट्वीट कर कहा था कि उन्हें महाराष्ट्र पुलिस पर भरोसा नहीं है। उनकी सुरक्षा का ज़िम्मा हरियाणा पुलिस या केंद्र सरकार की सुरक्षा एजेंसी ले। इस बयान से आहत शिवसेना नेता संजय राउत ने कंगना को मुंबई वापस न आने को कहा था। इतना ही नहीं उन्होंने एक ट्विट में कंगना के लिए अभद्र शब्द का इस्तेमाल किया था।

Show More
Dhirendra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned