पेट्रोल-डीजल की कीमतों के रूप में रंगदारी वसूल रही है मोदी सरकार- सुब्रमण्यम स्वामी

पेट्रोल-डीजल की कीमतों के रूप में रंगदारी वसूल रही है मोदी सरकार- सुब्रमण्यम स्वामी

Kapil Tiwari | Publish: Sep, 03 2018 05:09:18 PM (IST) राजनीति

सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा है कि केंद्र सरकार को पेट्रोल-डीजल की कीमत 48 रुपए से ज्यादा नहीं रखनी चाहिए।

नई दिल्ली। बीजेपी के राज्यसभा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी अक्सर अपने बयानों की वजह से चर्चाओं में रहते हैं। यहां तक कि वो कभी अपनी ही सरकार पर निशाना साधने से नहीं बचते हैं। इस बार भी उन्होंने अपनी ही सरकार पर निशाना साधा है और जरिया बना है पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दाम। सुब्रमण्यम स्वामी ने पेट्रोल और डीजल की बढ़ रही कीमतों की निंदा की है।

पेट्रोल-डीजल की 48 रुपए से ज्यादा कीमत वसूलना रंगदारी है- स्वामी

सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा है, “सरकार पेट्रोल की कीमत को 48 रुपये प्रति लीटर से नीचे लाए। इससे ज्यादा वसूलना रंगदारी है।” गौरतलब है कि पूरे देश में पेट्रोल और डीजल की कीमतों में लगातार बढ़ोत्तरी हो रही है।

सोमवार को भी पेट्रोल में हुई बढ़ोतरी

सोमवार को दिल्ली में पेट्रोल की कीमत 31 पैसे बढ़कर 79.15 रुपये प्रति लीटर पहुंच गई, वहीं डीजल की कीमत में 39 पैसे की बढ़ोत्तरी दर्ज की गई। डीजल की कीमत सोमवार को दिल्ली में 71.15 रुपये प्रति लीटर पर पहुंच गई। इसी तरह मुंबई में पेट्रोल की कीमत 58 पैसे बढ़कर 86.56 रुपये प्रति लीटर और 44 पैसे की बढ़ोत्तरी के साथ डीजल की कीमत 75.54 रुपये पर पहुंच गई।

पेट्रोलियम मंत्री ने बताई कीमत बढ़ने की वजह

केंद्रीय पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने रविवार को आरोप लगाया था कि देश में पेट्रोल और डीजल की कीमतें बढ़ने के पीछे की वजह ‘बाहरी तत्व’ हैं, लेकिन यह बढ़ोत्तरी अस्थायी है। गुजरात के सूरत में मीडिया से बात करते हुए उन्होंने कहा था कि, “क्रूड ऑयल के उत्पादन में कमी भारत में इसकी कीमतों में बढ़ोत्तरी की एक वजह है।

रोजाना तय होती हैं पेट्रोल-डीजल की कीमतें

आपको बता दें कि पहले प्रत्येक महीने की पहली तारीख और 16 तारीख को पेट्रोल व डीजल की कीमतों को संशोधित किया जाता था। लेकिन पिछले साल जून महीने से अब प्रतिदिन सुबह छह बजे पेट्रोल व डीजल की कीमतें तय होती है।

Ad Block is Banned