त्रिपुरा: PM मोदी ने कांग्रेस और वाम दल पर साधा निशाना, कहा- राज्य को किया बर्बाद

Mohit sharma

Publish: Feb, 15 2018 05:14:12 PM (IST)

Political
त्रिपुरा: PM मोदी ने कांग्रेस और वाम दल पर साधा निशाना, कहा- राज्य को किया बर्बाद

गुरुवार त्रिपुरा की राजधानी अगरतला में रैली को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा कि यहां के लोगों ने नया इतिहास रचा है।

नई दिल्ली। पूर्वोत्तर राज्यों के दौरे पर निकले पीएम नरेन्द्र मोदी लगातार रैलियां कर रहे हैं। गुरुवार त्रिपुरा की राजधानी अगरतला में रैली को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा कि यहां के लोगों ने नया इतिहास रचा है। उन्होंने कहा कि इतनी बड़े जन सैलाब का आर्शिवाद पाने का जैसा अवसर उन्हें मिला है, इससे पहले किसी को नहीं मिला। इसके साथ ही वाम और कांग्रेस को भी आड़े हाथों लिया। उन्होंने कहा मासूम और निर्दोष लोगों की हत्या कर वामदलों ने दिखा दिया है कि वो घबराए हुए हैं। उन्होंने कहा कि जनता के पैसे पर मजे करने वाले अब सावधान हो जाएं, क्योंकि अब पब्लिक अपनी एक—एक पाई का हिसाब मांगेगी।

 

त्रिपुरा की राजनीति पर पैनी निगाह

विधानसभा चुनावों की सरगर्मियों के बीच पर्वतीय प्रदेश त्रिपुरा की फिजा बदल गई है। केंद्र की सत्ता पर काबिज भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने पूर्वोत्तर में अपने पैर पसारने के मकसद से त्रिपुरा विधानसभा चुनाव में पूरी ताकत झोंक दी है। इस कारण करीब दो दशकों से प्रदेश की कमान संभाले हुए मुख्यमंत्री माणिक सरकार को कड़ी चुनौती मिल रही है। त्रिपुरा की राजनीति पर पैनी निगाह रखने वाले लोगों को भी लगता है कि इस बार चुनाव के नतीजे कुछ अप्रत्याशित हो सकते हैं। त्रिपुरा केंद्रीय विश्वविद्यालय में राजनीतिशास्त्र की प्रोफेसर चंद्रिका बसु मजूमदार कहती हैं कि सत्तासीन वामपंथी दल, मार्क्‍सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) की पकड़ मजबूत है। करीब दो दशक से प्रदेश की सत्ता पर काबिज मुख्यमंत्री माणिक सरकार स्वच्छ व ईमानदार छवि के लिए जाने जाते हैं, लेकिन भाजपा और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के लोग पिछले कुछ समय से जिस प्रकार से जमीनी स्तर पर चुनाव प्रचार में जुटे हैं, उससे माकपा को नुकसान पहुंच सकता है।

 

त्रिपुरा के लिए विजन डॉक्यूमेंट

चंद्रिका के अनुसार फोन पर बातचीत में कहा कि मौजूदा सरकार के प्रति लोगों के भरोसे में प्रत्यक्ष रूप से तो कोई कमी नहीं दिख रही है, लेकिन लोकलुभावन वादे-इरादे चुनाव के ऐसे पहलू होते हैं जो नतीजों को प्रभावित करते हैं। भाजपा ने त्रिपुरा में युवाओं के लिए मुफ्त स्मार्टफोन, महिलाओं के लिए मुफ्त में ग्रेजुएशन तक की शिक्षा, रोजगार , कर्मचारियों के लिए सातवें वेतन आयोग की सिफारिशों को लागू करने जैसे वादे अपने चुनाव घोषणापत्र, 'त्रिपुरा के लिए विजन डॉक्यूमेंट' में किए हैं। चंद्रिका ने कहा कि भाजपा ने अपने चुनावी घोषणापत्र से सभी वर्गो के मतदाताओं को लुभाने की कोशिश की है, लेकिन इससे उतना फर्क नहीं पड़ेगा, क्योंकि प्रदेश सरकार ने भी कई काम किए हैं और उनके भी अपने वादे हैं। सबसे अहम बात जो भाजपा के पक्ष में जाती है, वह उसकी आक्रामक रणनीति है। भाजपा ने अपनी रणनीति से मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस को इस चुनाव में हाशिये पर ला दिया है।

 

 

 

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

Ad Block is Banned