डॉक्टरों की हड़ताल से चिकित्सा सेवा बाधित होने पर पहले गुस्साईं ममता बनर्जी, फिर लिखा भावुक खत

  • पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने डॉक्टरों को लिखा खत
  • खत में की मरीजों को उचित देखभाल करने की अपील
  • अपनी मांगों को लेकर हड़ताल पर चल रहे थे कई डॉक्टर

By: धीरज शर्मा

Published: 13 Jun 2019, 06:07 PM IST

नई दिल्ली। पश्चिम बंगाल में इन दिनों सबकुछ ठीक नहीं चल रहा है। एक तरफ सियासी घमासान, हिंसा तो दूसरी तरफ सरकार से जूनियर डॉक्टरों का मनमुटाव। अपनी मांगों को लेकर अड़े जूनियर डॉक्टर और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के बीच चल रहे विवाद में गुरुवार को उस वक्त नया मोड़ आया जब मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने वरिष्ठ डॉक्टरों और प्रदेश के मेडिकल कॉलेज के प्रमुख को एक खत लिखा। इस खत के जरिये ममता बनर्जी ने मरीजों को लेकर न सिर्फ अपनी चिंता जाहिर की बल्कि डॉक्टरों से अपील भी की, कि वे हर मरीज का पूरा ख्याल रखें।

ममता बनर्जी ने खत में क्या लिखा
पश्चिम बंगाल में डॉक्टरों की हड़ताल के चलते इलाज से वंचित मरीजों को लेकर सीएम ममता बनर्जी का दर्द छलक उठा। इसके बाद ममता बनर्जी ने वरिष्ठ चिकित्सकों को एक भावुक खत लिखा। ममता ने इस खत में लिखा, 'मेरा निवेदन है कि हर मरीज की उचित देखभाल की जाए चाहे वो किसी भी जिले के हों। मैं आपकी आभारी रहूंगी अगर अस्पताल में मरीज को किसी भी तरह की परेशान नहीं आएगी। अस्पताल में सबकुछ शांतिपूर्वक चलता रहे।'

पंजाबः घमासान के बीच नवजोत सिंह सिद्धू के लिए अच्छी खबर, दूसरी पार्टियों ने दिया शामिल होने का न्योता

हड़ताली डॉक्टरों को चेतावनी
उधर..ममता बनर्जी ने हड़ताली डॉक्टरों को फटकार लगाने के साथ ही चेतावनी भी दे डाली। दरअसल डॉक्‍टरों की हड़ताल के बीच गुरुवार को नियमित सेवाएं बाधित होने के कारण सीएम ममता बनर्जी का पारा चढ़ गया। जब ममता हालात का जायजा लेने सरकारी अस्पताल पहुंचीं तो वहां कई डॉक्टर नदारद मिले। सीएम ने तुरंत चेतावनी देते हुए कहा अगले चार घंटे में सभी डॉक्टर काम पर लौटें।


...तो खाली करवा दिए जाएंगे हॉस्टल
ममता बनर्जी ने कहा कि अगर जो भी डॉक्‍टर इस बीच काम पर नहीं लौटा, उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। यही नहीं सीएम ने कहा कि अगर ऐसा नहीं किया तो जूनियर डॉक्‍टरों के हॉस्‍टलों को खाली करा दिया जाएगा।


ममता बनर्जी के इस अल्‍टीमेटम के बाद कोलकाता के एसएसकेएम हॉस्पिटल के आपातकालीन वार्ड में इलाज की सेवा शुरू हो गई है। जबकि एनआरएस हॉस्पिटल के डॉक्‍टर अभी भी हड़ताल पर हैं।

Show More
धीरज शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned