शीतकालीन सत्र में आज हंगामे के आसार, महाराष्‍ट्र के मुद्दे पर विपक्ष की है सरकार को घेरने की तैयारी

  • विपक्ष सदन में उठा सकता है महाराष्‍ट्र का मुद्दा
  • शिवसेना हमलावर रुख का दे सकती है परिचय
  • अजित पवार ने दो दिन पहले दिया था समर्थन का पत्र

Dhirendra Kumar Mishra

25 Nov 2019, 10:33 AM IST

नई दिल्‍ली। सोमवार का दिन संसद के शीतकालीन सत्र के लिहाज से काफी अहम रहेगा। ऐसा इसलिए कि सत्र के दौरान ही महाराष्ट्र में सरकार गठन को लेकर घमासान मचा है। इसलिए सतापक्ष और विपक्ष में हंगामेदार बहस की आशंका है।

महाराष्ट्र में सत्ता हाथ से छिनने की वजह से शिवसेना हमलावर होगी तो अपनी किरकिरी होने से कांग्रेस भी सरकार के खिलाफ आक्रामक होगी। एनसीपी के लिए यह मुश्किल समय होगा, क्योंकि उसकी टूट से ही यह स्थिति बनी है। वहीं एक और राज्य में सत्ता हाथ आने से भाजपा पलटवार करने की कोशिश करेगी।

बता दें कि 23 नवंबर नवंबर को एनसीपी के प्रमुख नेता और पार्टी प्रमुख शरद पवार के भतीजे अजीत पवार ने भाजपा को एनसीपी के समर्थन का पत्र दे दिया और भाजपा के देवेंद्र फडणवीस के नेतृत्व में सरकार ने शपथ ग्रहण कर ली। इससे पूरा विपक्ष बौखला गया है।

इसकी झलक दो दिन के साप्ताहिक अवकाश के बाद शुरू संसद के सत्र में देखने को मिलेगी। इसी बीच आज ही दिन में इस मामले में उच्चतम न्यायालय का फैसला आना है। संसद में सत्तापक्ष और विपक्ष के तेवर इस बात पर भी निर्भर करेगी कि शीर्ष न्यायालय इस मुद्दे पर क्या आदेश देता है। उसी के अनुरूप विपक्ष अपना रुख तय करेगा।

Dhirendra Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned