फायरिंग के आरोपियों नहीं हुई गिरफ्तारी, आक्रोशित लोगों ने बंद कराया बाजार, दिया धरना

फायरिंग के आरोपियों नहीं हुई गिरफ्तारी, आक्रोशित लोगों ने बंद कराया बाजार, दिया धरना
फायरिंग के आरोपियों नहीं हुई गिरफ्तारी, आक्रोशित लोगों ने बंद कराया बाजार, दिया धरना

Hitesh Upadhyay | Updated: 09 Oct 2019, 07:52:07 PM (IST) Pratapgarh, Pratapgarh, Rajasthan, India

पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी पहुंचे समझाइश करने, नहीं माने अरनोद बाशिंदे

अरनोद. कस्बे में दो दिन पहले हवाई फायरिंग कर दहशत फैलाने के मामले में आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं होने से कस्बे के लोग आक्रोशित हो गए। लोगों ने बुधवार को कस्बा बंद कराया। ज्ञापन देने के लिए गांव में वाहन रैली निकाली। वहीं पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों के कार्यालय में नहीं मिलने से रोष फैल गया। इसे लेकर राजमहल चौक में धरना दिया।सूचना पर पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी मौके पर पहुंचे और समझाइश का प्रयास किया। लेकिन ग्रामीण नहीं माने।
गौरतलब है कि कस्बे के गौतमेश्वर रोड पर 7 अक्टूबर को बाइक पर सवार आए दो युवकों ने हवाई फायरिंग की थी। इसे लेकर ग्रामीणों में रोष फैल गया।
आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर बुधवार को लोग एकत्रित होकर वाहन रैली के रूप में उपखंड कार्यालय पहुंचे।लेकिन यहां अधिकारी नहीं होने पर रोष फैल गया आरोपियो की गिरफ्तारी की मांग को लेकर अरनोद कस्बा बंद करा दिया गया और सभी लोग राजमहल चौक में धरने पर बैठ गए।
शाम तक चला समझाइश का दौर
धरने पर बैठे लोगों ने कहा कि एसपी या जिला कलक्टर धरना स्थल पर आने पर बात चीत करने पर ही धरना समाप्त किया जाएगा। सूचना पर दोपहर को तहसीलदार अशोक शाह, विकास अधिकारी धनसिंह रावत धरना स्थल पर पहुंचे और समझाईश की।लेकिन लोग नहीं माने। इस पर अपराह्न तीन बजे थाना अधिकारी धर्मसिंह मीणा भी पहुंचे।उन्होंने बताया कि आरोपियों की पहचान कर ली गई है। दबिश देने की भी जानकारी लोगों को दी।लेकिन लोग नहीं माने। इस पर शाम को उप अधीखक गोवर्धनलाल मौके पर पहुंचे और समझाइश की।
लेकिन लोग नहीं माने। धरने पर बैठे लोगों और व्यापारियों ने क्षेत्र में अवैध हथियार बरामदी, कस्बे में बिना काम के बाइक लेकर घूमते युवकों पर अंकुध लगाने की मांग की।पुलिस द्वारा वाहनों की चैकिंग करना, एक पुलिस चौकी कस्बे में स्थापित व थाने में जाप्ता पूरा लगाने और आरोपियों की गिरफ्तार करने की मांग पर अड़े रहे।
आज भी बंद का आह्वान
वहीं दूसरी ओर धरने पर बैठे लोगों व व्यापारियों को कोई ठोस आश्वासन नहीं मिला है। इस पर गुरूवार को भी बन्द रखने का निर्णय लिया।
आरोपियों की पहचान, दे रहे दबिश
थाना अधिकारी धर्मसिंह ने बताया कि सीसीटीवी कैमरे में फुटेज के आधार पर आरोपियों की पहचान कर ली गई है। जिसमें दोनों आरोपी देवल्दी के बताए गए है। जिसमें से एक का नाम फरीद खां है। आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए लगातार दबिशें दी जा रही है। यहां तक की उनके रेश्तेदारों के यहां भी तलाश जारी है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned