Health: पानी पीने से कैसे बिगड़ गई 100 लोगों की तबीयत

Hitesh Upadhyay | Updated: 11 Jul 2019, 07:22:06 PM (IST) Pratapgarh, Pratapgarh, Rajasthan, India

अरनोद क्षेत्र के चाचाखेड़ी गांव का मामला

मौके पर पहुंची चिकित्सा विभाग की टीम
किया उपचार, 14 लोगों को कराया सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में भर्ती
पुलिस और चिकित्साधिकारियों ने लिया जायजा
प्रतापगढ़/अरनोद. जिले के अरनोद इलाके के वीरावली गांव के चाचाखेड़ी गांव में गुरुवार दोपहर को एक नलकूप का दूषित पानी पीने से सौ से अधिक लोगों की तबीयत बिगड़ गई।सूचना पर चिकित्सा विभाग की टीम गांव में पहुुंची।जहां 101 लोगों की तबीयत खराब मिली। इनमें से अधिकांश का मौके पर ही उपचार किया गया।जबकि इनमें से 14 लोगों को अरनोद के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में भर्ती कराया गया है। सभी की हालत सही है। वहीं नलकूप का पानी का नमूना लेकर जांच के लिए भिजवाया गया है। इसके साथ ही नलकूप के पानी पर प्रतिबंध लगाया गया है। सूचना पर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. वी.के. जैन, थाना प्रभारी धर्मसिंह मीणा भी मौके पर पहुंचे और ग्रामीणों को पानी का उपयोग नहीं करने की हिदायत दी गई।
अरनोद उपखंड के विरावाली ग्राम पंचायत के चाचाखेड़ी रोड पर ग्राम पंचायत के नलकूप एवं यहां लगी टंकी का पानी पीने से गुरुवार दोपहर को कई लोग बीमार हो गए। सभी को पेट दर्द, उल्टी एवं दस्त की शिकायत हो गई। सूचना मिलने पर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र अरनोद की चिकित्सा टीम मौके पर पहुंची।जहां दूषित पानी पीने से बीमार 101 लोग बीमार मिले। मौके पर सभी लोगों का उपचार किया एवं दवाइयां दी गई। इस दौरान स्थिति को देखते हुए इनमें से 14 लोगों को 108 एंबुलेंस व अन्य साधनों से अरनोद सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर लाया गया।चिकित्सालय में भर्ती किया और उपचार शुरू किया। गांव में लोगों को उबला हुआ पानी पीने की सलाह दी गई।
नलकूप के पास दूषित पानी
यहां गांव में जिस स्थान पर नलकूप है।इसके पास में एक पुराने कुएं में पूरे गांव की नालियों का दूषित पानी एकत्रित होता है। वहीं पानी जमीन में पहुंचकर नलकूप में समाहित हो रहा है।जिसके चलते नलकूप का पानी दूषित हो गया। इस पानी को पीने से लोग बीमार हो गए। वीरावली में चिकित्सा विभाग कि टीम में डॉ. मुनेश एवं डॉ. कमलेश अपनी चिकित्सा टीम के साथ पहुंचे और घर-घर जाकर लोगों का उपचार किया।
पहुंचाया एंबुलेंस से
सूचना पर चिकित्साकर्मी मौके पर पहुंचे। एंबुलेंस और अन्य साधनों को ले जाया गया।108 एंबुलेंस पायलेट विजेन्द्रसिंह सिसोदिया ने बताया कि वीरावली से 14 बीमार को यहां सीएसी में लाया गया। जहां उपचार किया जा रहा है।
दूषित पानी से हुए बीमार
वीरावली गांव में चाचाखेड़ी मार्ग पर एक नलकूप है। यहां पूरे गांव का दूषित पानी एकत्रित होता है।जो जमीन में उतरता है। ऐसे में इस पानी के पीने से लोगों की तबीयत बिगड़ी है। अधिकांश का मौके पर पही उपचार किया गया है। 14 को यहां चिकित्सालय लजाया गया है। उपचार जारी है और सभी की हालत सामान्य है। पानी के नमूने लेकर जांच के लिए भिजवाए है। नलकूप के पानी के उपयोग पर अभी रोक लगवा दी गई है।
डॉ. मुनेश चौधरी
प्रभारी, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र, अरनोद

 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned