बड़ी खबर: बीएसएनएल की बिल्डिंग में लगी आग, ठप हुई फोन एवं बैंकिंग सेवा

फायर ब्रिगेड दस्ते की चार टीमें आग बुझाने की कोशिश में जुटीं, घंटों बीत जाने के बाद भी आग पर काबू पाने की कोशिशें जारी

By: Abhishek Srivastava

Published: 05 May 2018, 08:01 PM IST

प्रतापगढ़. शहर के दहिलामऊ स्थित बीएसएनएल की तीन मंजिली बिल्डिंग में शनिवार को आग लग गई। जिससे भवन के ट्रान्समिशन रूम एवं एसी प्लांट में विस्फोट हो गया। फायर ब्रिगेड दस्ते की चार टीमें आग बुझाने की कोशिश में जुटी थीं। चार घंटे से अधिक समय व्यतीत हो जाने के बाद भी समाचार लिखे जाने तक आग पर काबू पाने की कोशिशें जारी थीं।

जानकारी के अनुसार शनिवार को पूर्वाह्न बीएसएनएल की बिल्डिंग में सबकुछ सामान्य चल रहा था कि धुआं फैलने लगा। कर्मचारी कुछ समझ पाते, इससे पहले ही ट्रान्समिशन रूम में विस्फोट हो गया। स्विच रूम में काम कर रहे जेटीओ भागते हुए पहुंचे ही थे कि अचानक एसी प्लांट में भी विस्फोट हो गया। हर तरफ आग और धुआं फैल गया। कर्मचारी जान बचाकर बाहर की तरफ भागने लगे। देखते ही देखते पूरा परिसर जहरीले धुंए से भर गया जिसके चलते सांस ले पाना भी मुश्किल हो रहा था। बाहर से कर्मचारी तीन मंजिला इमारत की खिड़कियों को पत्थरों से तोड़ने में जुट गए। खिड़कियां अगर नहीं तोड़ी जातीं तो विस्फोट के साथ बिल्डिंग भी धराशाई हो सकती थी। सूचना पाकर फायर दस्ते के चार वाहन मौके पर पहुंचे और आग बुझाने में जुट गए।


धुएं की चपेट में पूरा मोहल्ला, बैंकिंग सेवा भी प्रभावित

बीएसएनएल की बिल्डिंग में लगी आग के कारण पूरा मोहल्ला धुएं की चपेट में आ गया। लोगों को सांस लेने में भी दिक्कत होने लगी। वहीं, मोबाइल सेवा प्रदाता कई कंपनियां स्विचरूम का उपयोग करती हैं। इस हादसे के कारण मोबाइल और लैंडलाइन सेवा ध्वस्त हो गई, जिसे बहाल होने में महीनों लग सकता है। बैंकिंग सेवाओं पर भी विपरीत असर पड़ा है। कई बैंकों में लेनदेन ठप हो गया। ज्यादातर बैंक बीएसएनएल की लीज लाइन का ही इस्तेमाल करते हैं।


संसाधनों का अभाव बना आग बुझाने में रोड़ा

फायर दस्ते के पास संसाधनों का अभाव आग बुझाने में बड़ा रोड़ा बन गया। बाहर से ही पानी की बौछार कर आग को काबू करने की कोशिश में जुटे बिल्डिंग के भीतर प्रवेश करना बड़ी चुनौती बन गया। दस्ते के पास ना तो ऑक्सीजन की व्यवस्था थी, और ना ही अग्निरोधी ड्रेस ही। पुलिस अधिकारियों ने इलाहाबाद से ऑक्सीजन सिलेंडर और मास्क की मांग की, लेकिन खबर लिखे जाने तक वह भी नहीं पहुंच सका था।

 

By: सुनील सोमवंशी

bsnl
Abhishek Srivastava
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned