दरोगा पर लगा छात्रा के साथ अश्लील हरकत करने का आरोप, शिकायत करने पहुंची एसपी कार्यालय

दरोगा पर लगा छात्रा के साथ अश्लील हरकत करने का आरोप, शिकायत करने पहुंची एसपी कार्यालय

Ruchi Sharma | Publish: Sep, 16 2018 02:36:39 PM (IST) | Updated: Sep, 16 2018 02:40:30 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

दरोगा पर लगा छात्रा के साथ अश्लील हरकत करने का आरोप, शिकायत करने पहुंची एसपी कार्यालय

 

 

रायबरेली. योगी सरकार पुलिस विभाग में करोड़ों रुपये का बजट पानी की तरह इस लिये बहा रहा है कि हमारे प्रदेश की पुलिस और आम जनता में एक मित्रवत व्यवहार हो सके साथ ही प्रदेश की कानून व्यवस्था सही पटरी पर आ सके, लेकिन पुलिस विभाग के कुछ ऐसे लोग जो इस विभाग को बदनाम करने में कोई कसर नहीं छोड़ रहे है। ताजा मामला हरचंदपुर का आया जहां एक दरोगा के ऊपर एक छात्रा के साथ छेड़खानी करने का आरोप लगा है।


रायबरेली हरचंदपुर थाने में तैनात एक ऐसे रंगीले मिजाज के दरोगा का मामला थाना क्षेत्र में आया है। यहां की रहनी वाली एक छात्रा ने दरोगा पर छेड़छाड़ का आरोप लगाते हुए एसपी कार्यालय पर जाकर न्याय की गुहार लगाई। हरचंदपुर के दरोगा के ऊपर छेड़छाड़ का आरोप लगते ही एक बार फिर पुलिस विभाग पर दाग लग गया है। एसपी से दरोगा की शिकायत होने पर दरोगा ने छात्रा के परिजनों से मामले में सुलह के दबाव बनाने का भी प्रयास किया गया है लेकिन परिजन इस बात को मानने को तैयार नहीं है। वह दरोगा पर कार्रवाई होने की बात कह रहे है।

हरचन्दपुर थाना क्षेत्र के एक गांव की रहने छात्रा ने एसपी दफ्तर पहुंचकर पुलिस अधिकारियों को एक शिकायती पत्र देकर आरोप लगाया कि थाने के एक दरोगा ने उसके घर में बहाने से घुसकर उसके साथ अश्लील हरकत की है और उसका हाथ पकड़कर उसके साथ छेड़छाड की। आरोप है कि छात्रा ने चिल्लाना शुरू किया तो दरोगा ने उसे फर्जी मुकदमें में फंसाकर जेल भेजने की धमकी देते हुए भाग गया। दिए गए शिकायती पत्र में छात्रा ने बताया कि घटना के समय मां खेत गई थी और पिता बाजार गए थे। छात्रा घर में अकेली थी इसलिए मौका पाकर दरोगा ने घर में उसके साथ छेड़छाड और अश्लील हरकत की है। इस बारे में जब थानाध्यक्ष सचिन गुप्ता से जानकारी की गई तो उन्होंने बताया कि उन्हें इस तरह की कोई जानकारी नहीं है।

क्या कहते हैं दरोगा जी

हरचंदपुर थाने में तैनात दरोगा महेन्द्र सिंह का कहना है कि छात्रा द्वारा लगाए आरोप बेबुनियाद है। छात्रा और उसके पड़ोसियों से जमीन को लेकर विवाद चल रहा था, जिसकी जांच करने के लिए वह हल्का लेखपाल के साथ मौके पर गए हुए थे। उसमें एक पक्ष से उन्हें फंसाने के लिए इस तरह का आरोप लगाया है।

सीओ महाराजगंज ने बताया कि पूरा मामला जमीन विवाद का है। छेड़छाड़ करने का आरोप सही नहीं दिख रहा है। जल्द ही घटना की जगह पर जाकर जांच की जाएगी और रिपोर्ट उच्चाधिकारियों को भेजी जाएगी।

Ad Block is Banned