रायबरेली के ऊंचाहार NTPC में फिर हुआ हादसा, पांच महीने पहले बॉयलर फटने से मरे थे 45 लोग, देखें तस्वीरें

रायबरेली के ऊंचाहार NTPC में फिर हुआ हादसा, पांच महीने पहले बॉयलर फटने से मरे थे 45 लोग, देखें तस्वीरें

Hariom Dwivedi | Publish: Mar, 14 2018 12:47:11 PM (IST) Raebareli, Uttar Pradesh, India

मंगलवार शाम को रायबरेली के उचाहांर एनटीपीसी में एक और हादसे की खबर फैलते ही हड़ंकप मच गया, अधिकारी मामले को दबानें में जुटे

रायबरेली. रायबरेली के उचाहांर में एनटीपीसी में घटनाओं का दौर रुकने का नाम नही ले रहा है। एनटीपीसी के बॉयलर फटे अभी पांच महीने भी नहीं बीते कि मंगलवार को एक बार फिर हादसे की बात सामने आ रही है। इस हादसे में एक मजदूर गंभीर रूप से झुलस गया। एनटीपीसी में हादसे की खबर फैलते ही लोग में खौफ में आ गये। क्योंकि अभी छह महीने पहले हुए हादसे में करीब 45 मजदूरों की मौत हो गयी थी और सैकड़ों लोग घायल हो गये थे।

रायबरेली-ऊंचाहार एनटीपीसी प्लांट में किसी ब्लास्ट के कारण एक मजदूर झुलस गया। एनटीपीसी प्लांट के यूनिट नंबर 6 में विभागीय चूक के कारण ब्लास्ट की बात सामने आ रही है। गंभीर रूप से झुलसे दैनिक श्रमिक (इलेक्ट्रिशियन) को एनटीपीसी के आवासीय परिसर स्थित अस्पताल में भर्ती कराया गया है। घायल दैनिक श्रमिक विजय (38 वर्ष) गोरखपुर जिले के कम्पियरगंज का रहने वाला है।

जिम्मेदार मौन, लोग बोले कार्रवाई हो
लोगों का कहना है कि एनटीसीपी में मजदूर का झुलसना एनटीपीसी अधिकारियों की बड़ी चूक है। इसकी जांच होनी चाहिए और दोषियों के खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिये। जिम्मेदार कुछ भी बोलने को तैयार नहीं है। अधिकारी-कर्मचारी मौन हैं। मजदूर के घायल होने के मामले को एनटीपीसी के अधिकारी व कर्मचारी दबाने में जुटे हैं। फिलहाल कैमरों के सामने कोई भी कुछ बोलने को तैयार नहीं है, यहां तक कि अस्पताल के अधिकारी भी खामोश हैं।

 

ntpc boiler blast unchahar raebareli

कोतवाल बोले- जांच के बाद साफ होगी स्थिति
ऊंचाहार कोतवाल धनजंय सिंह का कहना है की एक दैनिक मजदूर विजय जो इलेक्ट्रीशियन है, काम करने के दौरान किसी कारण करंट लगने से वह झुलस गया है। मामला मेरी जानकारी में आया है। मजदूर कैसे घायल हुआ? इसकी पूरी जांच होने के बाद ही मामला सामने आयेगा।

 

ntpc boiler blast unchahar raebareli

नवंबर 2017 में हुआ था बड़ा हादसा
रायबरेली-ऊंचाहार एनटीपीसी प्लांट में एक नवंबर 2017 को बॉयलर एरिया में ब्लास्ट हुआ था। इस हादसे में एनटीपीसी के तीन एजीएम समेत करीब 45 लोगों की मौत हो गई थी, जबकि सैकड़ों घायल हो गये थे। इनमें से कई घायल श्रमिक ऐसे हैं, जिनका अभी भी अस्पताल में इलाज चल रहा है।

Ad Block is Banned