थानाध्यक्ष का नया फरमान, पुलिस ने ठान लिया है कि अब क्षेत्र में न तो कच्ची शराब बनेगी और न ही बिकेगी

थानाध्यक्ष का नया फरमान, पुलिस ने ठान लिया है कि अब क्षेत्र में न तो कच्ची शराब बनेगी और न ही बिकेगी।

 

रायबरेली . गुरुबक्शगंज पुलिस ने क्षेत्र में अवैध शराब का कारोबार पूरी तरह समाप्त करने का अभियान छेड़ दिया है। थानाध्यक्ष कुँवर बहादुर सिंह के नेतृत्व में पुलिस की एक टीम ने बीती रात क्षेत्र की हाजीपुर पंचायत के पथरीगढ़ और चाँदेमऊ पंचायत के बसिगँवा गाँव में छापा मारकर करीब पौने दो सौ लीटर बनी शराब और कई कुन्तल लहन बरामद किया। एक पुरुष व तीन महिलाओं की गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने जब कार्रवाई आगे बढाई तो अनेक उपकरण व अन्य सामग्री भी पुलिस के हत्थे चढ़ गयी।थानाध्यक्ष का कहना है पुलिस ने ठान लिया है कि अब क्षेत्र में न तो कच्ची शराब बनेगी और न ही बिकेगी।

 

अब क्षेत्र में न तो कच्ची शराब बनेगी और न ही बिकेगी।

गुरुबक्शगंज थाना प्रभारी निरीक्षक कुँवर बहादुर सिंह व उनके हमराहियों की टीम ने मंगलवार की रात करीब एक बजे कच्ची शराब के कारोबार को समाप्त करने के मकसद से हाजीपुर ग्राम पंचायत के पथरीगढ़ और चाँदेमऊ पंचायत के बसिगँवा में शराब बनाने के कई अड्डों पर अलग-अलग छापेमारी की।इस छापेमारी में पुलिस को लगभग चार कुन्तल सूखा महुआ, करीब तीन कुन्तल सड़ाया गया महुआ व अन्य सहायक सामग्री मिली।इन अड्डों से पुलिस को एल्युमिनियम के करीब तीन दर्जन पतीले और एक दर्जन प्लास्टिक के शराब भरे पन्द्रह-पन्द्रह लीटर के डिब्बे भी मिले है। पुलिस ने सारा सामान शील कर दिया है और गिरफ्तार किये गये प्रेम शंकर, राजू देवी, सुनीता व केवला को जेल भेज दिया है।शराब के खिलाफ छेड़े गये इस अभियान में प्रभारी निरीक्षक कुँवर बहादुर सिंह के साथ हेड कांस्टेबल रामजियावन वर्मा, कां० धर्मेन्द्र शुक्ला, हेड कां० सुरेश कुमार के अलावा अन्य सिपाही व होमगार्ड के जवान भी शामिल रहे।

Show More
Madhav Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned