दबंगई : ग्रामीणों से कहा, जो भी रेलवे लाइन का विरोध करेगा उसे मारकर फेंक दिया जाएगा, ग्रामीण पहुंचे कलेक्टर के पास...

दबंगई : ग्रामीणों से कहा, जो भी रेलवे लाइन का विरोध करेगा उसे मारकर फेंक दिया जाएगा, ग्रामीण पहुंचे कलेक्टर के पास...

Vasudev Yadav | Publish: Jul, 26 2019 07:25:21 PM (IST) Raigarh, Raigarh, Chhattisgarh, India

Performed against SKS : एसकेएस की दबंगई को लेकर ग्रामीणों के सब्र का बांध टूट गया। करीब सौ से अधिक ग्रामीण प्रबंधन की शिकायत लेकर शुक्रवार को कलक्टोरेट पहुंचे और कलक्टर को प्रबंधन की मनमानी से अवगत कराया।

रायगढ़. एसकेएस की दबंगई को लेकर ग्रामीणों के सब्र का बांध टूट गया। कलक्टर को प्रबंधन की मनमानी से अवगत कराते हुए प्रबंधन के खिलाफ प्रदर्शन (Performed) किए। साथ ही पूर्व में हुए समझौते का पालन कराने की मांग किए। बिंजकोट दर्रामुड़ा में स्थित एसकेएस (SKS) पॉवर जनरेशन की मनमानी को लेकर ग्रामीणों में आक्रोश एक बार फिर से बढ़ते जा रहा है। इसको लेकर ग्रामीणों ने मोर्चा खोल दिया है भारी संख्या में प्रभावित ग्रामीण प्रबंधन व प्रशासन के खिलाफ प्रदर्शन किए। कलक्टोरेट के मुख्य गेट के सामने प्रबंधन व प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी किए।

Read More : नाला में दबाई गई लाश की गुत्थी सुलझी, पढि़ए इस हत्याकांड में कौन-कौन थे शामिल और कैसे दिया घटना को अंजाम
ग्रामीणों का कहना है कि एसकेएस (SKS) प्रबंधन पूर्व में ग्रामीणों के साथ प्रशासन की उपस्थिति में हुए समझौते का पालन नहीं कर रहा है। इसके अलवा कंपनी के उच्च अधिकारी आरके सिंह, व्हीआर पांडेय, अमोद पोडेय, ईडी एसके जैन, एवं संजय चौधरी द्वारा ग्राम के मुख्य मार्ग को काटकर जबरिया रेलवे लाईन डालना चाहते हैं इस कार्य के लिए ग्रामीणों की सहमति न होने के कारण ग्रामीणों को डराया धमकाया जा रहा है। विरोध करने पर दो गाडिय़ों में बाहरी तत्वों को भेजकर गाली गलौज कर मारपीट करने की धमकी दिया जा रहा है। कंपनी के इनोवा व एक स्कार्पियों में लगातार कंपनी के कुछ लोगों को भेजकर ग्रामीणों के बीच भय पैदा किया जा रहा है।

दबंगई : ग्रामीणों से कहा, जो भी रेलवे लाइन का विरोध करेगा उसे मारकर फेंक दिया जाएगा, ग्रामीण पहुंचे कलेक्टर के पास...

ग्रामीणों ने बताया कि गुरुवार की रात्र करीब 12.30 बजे भी चार गाडिय़ों में कुछ लोग आए। गाड़ी नंबर को ढंका हुआ था और यह कह रहे थे कि जो भी रेलवे लाइन का विरोध करेगा उसे मारकर फेंक दिया जाएगा। जिससे ग्रामीणों में भय है साथ ही अप्रिय घटना की संभावना बढ़ते जा रही है। कंपनी के इस मनमानी को लेकर ग्रामीण काफी परेशान है जिसको लेकर ग्रामीणों ने सुरक्षा की मांग करते हुए कलक्टर को ज्ञापन सौंपा है साथ कंपनी प्रबंधन के इस कार्य को लेकर कड़ी कार्रवाई करने की मांग की है।

Read More : लूट की घटना को अंजाम देने वाले दो आरोपी को पुलिस ने ऐसे किया गिरफ्तार

कर्मचारियों को भी कर रहे हैं प्रताडि़त
उक्त उद्योग में में काम करने वाले कर्मचारियों में लोकल ग्रामीण श्रमिक का काम करते हैं। जिन्हे रोज नए नए हथकंडे अपनाकर प्रताडि़त किया जा रहा है। कभी किसी को नौकरी से बाहर करना तो कभी कुछ और कारण से डराने धमकाने का काम किया जा रहा है। इसको लेकर यहां काम करने वाले स्थानीय श्रमिक भी परेशान हैं।

समझौता के बाद भी कर रहे ऐसा
ग्रामीणों की माने तो पूर्व में भी इस प्रकार के विवाद की स्थिति थी जिसमें प्रशासन के हस्तक्षेप के बाद त्रिपक्षीय वार्ता हुई थी। और इसमें सात बिंदुओं पर समझौता हुआ था। लेकिन जिन बिंदुओं पर समझौता किया गया है कंपनी प्रबंधन अब उसके विपरीत काम कर रहे हैं और प्रशासन अब तक कुछ नहीं कर रहा है।

Chhattisgarh Employee Corner से जुड़ी खबरें यहां पढि़ए ...

Chhattisgarh से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter और Instagram पर या ताजातरीन खबरों, Live अपडेट के लिए Download करें Patrika Hindi News App.

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned