Video- गड्ढे में फंसी ट्रकें, 10 किलोमीटर तक लगी रही जाम, प्रशासन पर तंज कसते रहे लोग

Shiv Singh | Publish: Sep, 10 2018 05:04:08 PM (IST) Raigarh, Chhattisgarh, India

-लाखा डेम के पास जर्जर मार्ग बना लोगों के लिए परेशानी का सबब

रायगढ़. लाखा डेम के पास जर्जर सड़क लोगों के लिए परेशानी का सबब बना हुआ है। इस जर्जर मार्ग पर सोमवार की सुबह करीब ८ बजे जर्जर सड़क पर दो ट्रकें फंस गई। इससे मार्ग पर जाम लग गया। धीरे-धीरे कर यह जाम करीब १० किलोमीटर तक बढ़ गया। करीब चार घंटे बाद जाम धीरे-धीरे कर खुली और इस मार्ग पर आवागमन शुरू हो सका। बस बीच कई ट्रक, टैक्सी व बसों के अलावा अन्य छोड़ी बड़ी गाडिय़ां फंसी हुई थी।

शहर से करीब ८ किलोमीटर दूर केलो डेम के पास डायर्वटेड मार्ग बनाया गया है। यह डायर्वटेड मार्ग मौजूदा समय में जर्जर हो चुकी है। सबसे ज्यादा खराब स्थिति केलो डेम के मुख्यद्वार के पास है। यहां बड़े-बड़े कई गड्ढे हो चुके हैं। इससे लोगों को आवागमन करने में परेशानी हो रही है। सोमवार की सुबह हुई बारिश से इन गड्ढों में पानी भर गया था। इससे ट्रक चालक यह नहीं समझ पाए कि गड्ढा कितना गहरा है और ट्रक निकालने के चक्कर में गड्ढे में वाहन घुसा दिया। इससे ट्रक फंस गई।

इसके के साथ दूसरा ट्रक चालक भी ट्रक को साइड से निकलने के चक्कर में दूसरे गड्ढे में फंस गया। इससे कुछ समय में ही वाहनों की लंबी कतार लग गई। थोड़ी देर में ही स्थिति यह निर्मित हुई कि लाखा डेम के पास से जो शुरू हुई जाम इधर उर्दना बेरियर तक जाम लग गया। वहीं दूसरी ओर यह जाम गेरवानी के कुछ दूर पहले तक जाम लग गया। इस जाम में रायगढ़ से धरमजयगढ़, तमनार व लैलूंगा जाने वाली कई बसें फंसी रही।

Read More : Video- पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमत के विरोध में कांग्रेस का भारत बंद का जिले में दिखा ऐसा असर...
इसी तरह धरमजयगढ़, तमनार व लैलूंगा से आने वाली बसें भी जाम में फंसी रहीं और इन बसों में सवार यात्रियों को घंटो हलाकान होना पड़ा। बसों के अलावा छोटे चार पहिए वाहन भी जाम में फंसे रहे। इस सममस्या को लेकर न तो पुलिस प्रशासन के अधिकारी वहां पहुंचे और ना ही जिला प्रशासन के अधिकारी मौके पर पहुंचे। ऐसे में कुछ वाहन चालक की सड़क पर उतरे और वाहनों को व्यस्थित कराते हुए जगह बनाया। वाहन चालकों ने करीब एक घंटे तक मशक्कत के बाद गड्ढों में फंसे वाहनों को किनारे करवाया और वाहनों के निकलने का रास्ता बनाया। इसके बाद दोपहर करीब १२ बजे धीरे-धीरे वाहनों का निकलना शुरू हो सका।

महतारी के साथ फंसी एंबुलेंस
इस जाम में महतारी एक्सप्रेस के साथ एंबुलेंस भी फंसी रही। लाखा से करीब पांच किलोमीटर पहले १८ नाला पुल के पास एक एंबुलेंस जाम की वजह से आगे नहीं बढ़ पा रही थी। इस एंबुलेंस में मरीज सवार थे। इसी तरह इससे आगे एक महतारी एक्सप्रेस भी जाम में फंसी हुई थी। हालांकि जाम खुलने के बाद ये अन्य वाहनों के साथ ये वाहन भी आगे बढऩे लगे।

परेशान लोग कस रहे थे तंज
जाम में फंसे वाहन चालक और यात्रियों में प्रशासन के प्रति गुस्सा भी देखने को मिला। लोग यह कहने से नहीं चूक रहे थे कि सड़क पर बड़े-बड़े गड्ढे ही सरकार के विकास कार्य हैं। यदि सड़क की स्थिति सही रहती तो जाम की स्थिति निर्मित नहीं होती। वहीं जाम लगने के बाद जिला प्रशासन व पुलिस की टीम मौके पर पहुंचते हुए यातायात को व्यवस्थित करा सकती थी, लेकिन कोई नहीं पहुंचा। ऐसे में लोगों ने ही व्यवस्था संभालने की कमान संभाली।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned