CM की बजट थीम 'हाइट' को पूर्व CM ने बताया, खोखला, डरावना और सभी वर्गों से पूरी तरह अछूता

- सदन में हाइट वर्सेस हाइट: बजट पर सामान्य चर्चा
- विपक्ष और सत्तापक्ष में कई मुद्दों पर तीखी नोंक-झोंक

By: Ashish Gupta

Published: 03 Mar 2021, 12:43 PM IST

रायपुर. विधानसभा में बजट पर सामान्य चर्चा शुरू हुई। इसमें विपक्ष के तीखे तेवर देखने को मिले। चर्चा के दौरान कई बार सत्ता और विपक्ष के बीच वाद-विवाद की स्थिति भी बनी। चर्चा की शुरुआत करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह (Former Chhattisgarh CM Raman Singh) ने हाइट को परिभाषित करना शुरू किया।

उन्होंने इस बजट को खोखला, डरावना और सभी जाति-वर्गों से अछूता बताया। डॉ. रमन ने कहा कि अधिकारियों ने जो हाइट समझी और जिसे जनता ने जाना उसमें बहुत अंतर है। सरकार के वित्तीय घाटे में लगातार बढ़ोतरी हो रही है। सरकार की आमदनी अठन्नी और खर्चा ज्यादा है।

छत्तीसगढ़ में यहां बनेगा श्रीयंत्र के आकार का पिलग्रिम सेंटर, मिलेंगी विश्व स्तरीय पर्यटन सुविधाएं

प्रमुख मुद्दों पर सवाल-जवाब
बिजली बिल हाफ- बीजेपी विधायक पुन्नूलाल मोहिले ने बिजली बिल हाफ पर सवाल किया तो सीएम ने जवाब दिया। कहा कि अब तक 38.68 लाख उपभोक्ताओं के 1271 करोड़ रुपए हाफ किए गए हैं

भारतनेट परियोजना फेस2- विधायक अजय चंद्राकर ने ग्राम पंचायतों में भारतनेट योजना के तहत ब्रॉड देरी क्यों हुई? जिस पर सीएम ने कहा कि अनेक कारण हैं। एक साल में कार्य पूरा होना था और काम नहीं होने पर पेनाल्टी लगाई जाती है। नोटिस दिया है व भुगतान भी रोक दिया है।

महाशिवरात्रि को बन रहा कल्याणकारी शिवयोग, जानिएं शुभ मुहूर्त में क्या और कैसे करें पूजा

यह केवल दुर्ग संभाग का बजट- अजय चंद्राकर
सरकार का गेयर बॉक्स फंस गया है। क्या डे भवन हवा में बनेगा? पौनी पसारी योजना शुरू की गई, मगर इसे आज तक परिभाषित नहीं किया गया। यह बजट प्रदेश का नहीं बल्कि दुर्ग संभाग का बन गया है। मेडिकल कॉलेजों की घोषणा की गई है, यह केंद्र की परिवर्तित योजना है। यह कट मनी, पैकेट मनी का बजट है।

Show More
Ashish Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned