नहानबिरी के जंगल में पेड़ों को काटकर वनभूमि पर कब्जा

वन सुरक्षा समिति ने चरागाह के लिए पट्टा देने की मांग की

By: Gulal Verma

Updated: 14 Oct 2020, 04:31 PM IST

मैनपुर। वन परिक्षेत्र मैनपुर के अंतर्गत नहानबिरी के जंगल में कुकरीपानी, कौहापानी, आमापानी, बरकोना, केवलबांध क्षेत्र कक्ष क्रमांक 1041, 1042 में चार वर्ष से पेड़ों की कटाई कर वनभूमि पर कब्जा किया जा रहा है। वहीं, नहानबिरी के ग्रामीण वन विभाग से उक्त जंगल क्षेत्र को कब्जाधारियों से मुक्त कराकरगांव को सामुदायिक वनपट्टा देकर चरागाह के लिए वनभूमि को आरक्षित करने की मांग कर रहे हैं। ग्रामीणों का कहना है 70- 80 एकड़ वन क्षेत्र में पेड़ों को काटकर कब्जा किया जा रहा है। इसकी जानकारी वन प्रबंधन समिति द्वारा वन विभाग को देने के बावजूद कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है।
वन सुरक्षा समिति अध्यक्ष धनसिंह नेताम के नेतृत्व में कांग्रेस के ब्लॉक महामंत्री रामसिंह नागेश, पूर्व सरपंच ईश्वर नागेश, चन्दन सिंह, सोपसिंह नागेश, पुनऊराम ध्रुव, ईतवारी राम ध्रुव, जगतु राम, घनश्याम यादव, हीरालाल यादव, लाल सिंह ध्रुव, दुलार यादव, सुखेदव यादव, बलदेव यादव, सुमेर सिंह नागेश, धनुष राम, लवन सिंह, जयसिंह, अलेख राम, बी.एस नागेश, लच्छिनदर सिंह, कमलेश नागेश, जगदीश नागेश, भानूराम नागेश, गौतम व ग्रामीणों ने निरीक्षण में पाया कि नाहनबिरी के जंगल, कौहापानी, सीलपानी, आमापानी नर्सरी में पेड़ों की अवैध कटाई की जा रही है। घने जंगल मैदान में तब्दील हो गई है। वहीं, दर्जनों बड़े-बड़े साल, बीजा के इमारती पेड एक-दो दिन के भीतर काटा गया है। जिसके ठूंठ वहां मौजूद है।
नहानबिरी के ग्रामीण बसंत राम, बिरबल, अनेक राम, नैनसिंह, जीवन, रायसिंह, रामेश्वर, शिवचरण, हरलाल, ईतवारी, सुखदास, रामजी यादव ने बताया कि वन विभाग द्वारा पूर्व में वन सुरक्षा समिति के माध्यम से इसी जंगल क्षेत्र को चरागाह, पौधरोपण निस्तार तथा सामुदायिक वनपट्टा प्रदान करने चिन्हांकित किया गया है। लेकिन, अब तक इस जगह का वनपट्टा चरागाह के लिए गांव को प्रदान नहीं किया गया। बल्कि, कब्जाधारी लगातार बड़े-बड़े पेड़ों को काट रहे हैं। ग्रामीणों ने वन मंत्री मोहम्मद अकबर व गरियाबंद वन मंडला अधिकारी मयंक अग्रवाल से नाहनबिरी के जंगल में हो रहे अवैध कटाई पर तत्काल रोक लगाने और आरोपियों पर कार्रवाई करने की मांग की है।


यह अतिक्रमण 2007- 08 का है। इस कक्ष क्रमांक 1141, 1142 में मंै नव पदस्थ हूं। सूचना के आधार पर कार्रवाई की जा रही है।
- जुगलाल नायक, फारेस्ट गार्ड, वन परिक्षेत्र, मैनपुर

Gulal Verma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned