तीन माह बीत गए, पुलिस को नहीं मिल रही अंधे क़त्ल का सुराग

तीन माह बीत गए, पुलिस को नहीं मिल रही अंधे क़त्ल का सुराग

Bhupesh Tripathi | Updated: 14 Jun 2019, 09:29:23 PM (IST) Raipur, Raipur, Chhattisgarh, India

* 3 महीने पहले अन्धेरे का फायदा उठा कातिल ने दिया था घटना (Blind murder case) को अंजाम

* प्रदीप के हत्यारे का अब तब पुलिस के हाथ नहीं लगा सुराग

रायपुर। बेमेतरा जिले के सांकरा गांव के पूर्व सरपंच धोबी समाज के जिला उपाध्यक्ष पंचराम निर्मलकर के जवान बेटे प्रदीप निर्मलकर के धरसींवा थाना अंतर्गत पठारी घाट में 13 मार्च 2019 को किसी ने हत्या (Blind murder case) कर दी। इसके हत्यारे का पुलिस अब तक पता नहीं लगा पाई है। 6 जून को पुलिस ने अज्ञात आरोपियों के विरुद्ध जुर्म दर्ज किया गया है।

धरसींवा पुलिस (Chhattisgarh police) मर्ग कायम कर जांच प्रारंभ की थी, परंतु हत्या का अपराध 6 जून को दर्ज अज्ञात आरोपियों के विरुद्ध किया गया। पीड़ित परिजनों ने समाज के महापंचायत में पहुंचकर गुहार लगाई है, जिसे समाज ने गंभीरता से लेते हुए प्रदेश अध्यक्ष सूरज निर्मलकर के साथ मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (Bhupesh baghel) के समक्ष हत्यारों की गिरफ्तार की मांग को लेकर गुहार लगाई है। इस पर मुख्यमंत्री (CM Chhattisgarh) ने जिला पुलिस अधीक्षक मोहम्मद आरिफ बेग को तत्काल कार्रवाई के निदेश दिए हैं।

 

murder

गौरतलब रहे 3 माह बीत जाने के बाद भी पुलिस ने इस अंधे क़त्ल के हत्यारों की सुराग नहीं लगा पाई है जो चर्चा का विषय बना हुआ है। प्रतिनिधिमंडल में समाज के प्रदेश अध्यक्ष सूरज निर्मलकर के साथ प्रदेश उपाध्यक्ष कार्तिक राम निर्मलकर, महामंत्री चंद्रहास निर्मलकर, रायपुर जिला अध्यक्ष जगमोहन निर्मलकर, नगर युवा अध्यक्ष अंबे बघमार, बेमेतरा जिला के अध्यक्ष मेघनाथ निर्मलकर, मृतक के पिता पंच राम निर्मलकर, पत्नी पुष्प लता निर्मलकर, कवर्धा जिला के अध्यक्ष स्वदेश निर्मलकर, महासचिव हिमलेश निर्मलकर, तारा निर्मलकर, रामकुमार निर्मलकर, पाटन परिक्षेत्र के युवा महासचिव नेम निर्मलकर, महाका खुर्द मनोज निर्मलकर, हेमन्त रजक, मोहन निर्मलकर, प्रदीप निर्मलकर, प्रदेश संगठन मंत्री दुर्ग जिला प्रभारी नकुल निर्मलकर, युवा प्रदेश अध्यक्ष अनिल रजक, युवा प्रदेश महासचिव राजेंद्र निर्मलकर, भोजराम निर्मलकर, महासमुंद जिलाध्यक्ष कन्हैया निर्मलकर, धरमलाल निर्मलकर, मंदिर हसौद, बलोदा बाजार, जांजगीर सहित अनेक सामाजिक मुखिया शामिल थे।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned