छत्तीसगढ़ : राशन कार्ड धारियों को 78 अस्पतालों में मुफ्त इलाज की सुविधा, यहाँ से बनवाए ई-कार्ड

ई-कार्ड (आयुष्मान कार्ड) बनवाने के लिए जिले के सभी 59 शासकीय चिकित्सालयों एवं 19 निजी चिकित्सालयों को चिह्नांकित किया गया है।

 

By: bhemendra yadav

Published: 21 Jan 2021, 11:38 PM IST

रायपुर. कोरोना काल में शुरू कराई गई ई-कार्ड योजना से निःशुल्क इलाज का लाभ प्रदेश के 78 अस्पतालों में दिया जा रहा है। वहां सभी राशनकार्डधारियों को इलाज की सुविधा मिलेगी। जिला स्तर पर भी स्वास्थ्य विभाग ने जरूरतमंदों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधा दिलाने व्यवस्था पूरी कर ली है। आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (एबी-पीएमजेएवाय), डॉ. खूबचंद बघेल स्वास्थ्य सहायता योजना (डीकेबीबीएसएसवाय) अंतर्गत ई-कार्ड (आयुष्मान कार्ड) बनाया जा रहा है।

ई-कार्ड (आयुष्मान कार्ड) बनवाने के लिए जिले के सभी 59 शासकीय चिकित्सालयों एवं 19 निजी चिकित्सालयों में आने वाले सभी आईपीडी एवं ओपीडी मरीजों तथा उनके परिवार के सदस्यों का भी योजनांतर्गत ई-कार्ड (आयुष्मान कार्ड) निःशुल्क बनाकर प्रदान किया जा रहा है। प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के लिए ई-कार्ड (आयुष्मान कार्ड) जिला अस्पताल कमरा नंबर पांच भू-तल बसंतपुर डोंगरगांव रोड राजनांदगांव को चिह्नांकित किया गया है।

इन स्थानों पर बनाएं ई-कार्ड
इलाज के लिए लोगों को भटकना न पड़े, इसके लिए ई-कार्ड बनाने के लिए हर क्षेत्र में सुविधा दी जा रही है। शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र शंकरपुर एवं मोतीपुर, सिविल अस्पताल खैरागढ़, समस्त सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र, समस्त प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र एवं समस्त पंजीकृत 19 निजी चिकित्सालय में ई-कार्ड (आयुष्मान कार्ड) बनवाने के लिए चिह्नांकित किया गया है।

डॉ. खूबचंद बघेल स्वास्थ्य सहायता योजना के अंतर्गत उन परिवार अथवा परिवार के सदस्यों को अपने राशनकार्ड के अनुसार स्वास्थ्य सहायता की पात्रता की जानकारी मिल सके एवं आपात स्थिति में परिवार या सदस्य, स्वयं आसानी से ईलाज प्राप्त कर सकें।

50 हजार से पांच लाख तक मुफ्त इलाज
बताया गया कि योजना के अंतर्गत एसईसीसी सूची में शामिल परिवार, अंत्योदय एवं प्राथमिकता राशन कार्डधारी परिवारों को पांच लाख रुपये प्रति परिवार एवं शेष अन्य राशनकार्ड धारी परिवारों को 50 हजार रुपये प्रति परिवार प्रति वर्ष की पात्रता है। ई-कार्ड (आयुष्मान कार्ड) बनवाने के लिए मरीज या हितग्राही को केवल अपना आधार कार्ड एवं राशन कार्ड लाना अनिवार्य है। परिवार के सभी सदस्यों का ई-कार्ड (आयुष्मान कार्ड) अलग-अलग बनाकर दिया जाएगा। ई-कार्ड (आयुष्मान कार्ड) बनाने के लिए शासन द्वारा दिए गए कोविड निर्देशों का पालन करते हुए किसी भी वार्ड या पंचायत या ग्राम स्तर पर शिविर नहीं लगाया जा रहा है।

पंजीकृत निजी चिकित्सालय में भी ले सकते हैं योजना का लाभ
ई-कार्ड (आयुष्मान कार्ड) निश्शुल्क बनवााकर योजना का लाभ शासकीय एवं समस्त पंजीकृत निजी चिकित्सालय में ले सकते हैं। आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना डॉ. खूबचंद बघेल स्वास्थ्य सहायता योजना की जानकारी, शिकायत एवं समस्या के निराकरण के लिए कार्यालय मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी राजनांदगांव एवं हेल्पलाईन टोल फ्री नंबर 104 पर 2437 संपर्क किया जा सकता है।

bhemendra yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned