scriptDo not click on the link with discount in cheap plot and body checkup | सस्ते में प्लॉट और बॉडी चेकअप व खरीदी में भारी डिस्काउंट वाले लिंक को न करें क्लिक, वरना ये हो जाएगा हाल... | Patrika News

सस्ते में प्लॉट और बॉडी चेकअप व खरीदी में भारी डिस्काउंट वाले लिंक को न करें क्लिक, वरना ये हो जाएगा हाल...

साइबर ठगों ने बैंक में जमा लोगों की पूंजी में सेंध लगाने के लिए आकर्षक मैसेज का नया तरीका निकाला है। वे सस्ते में प्लॉट, बॉडीचेकअप व खरीदी में भारी डिस्काउंट का मैसेज देकर साथ में एक लिंक भेजते हैं। लालच में आकर आपने लिंक को क्लिक किया तो यकीन मानिए आपका खाता खाली होना तय है।

रायपुर

Updated: April 03, 2022 01:42:21 am

रायपुर. आम लोगों को ठगने के लिए साइबर ठग नित नए तरीके अपना रहे हैं। अब वे लोगों को सस्ता प्लॉट, बॉडी चेकअप व खरीदी पर भारी डिस्काउंट जैसे आकर्षक मैसेज भेज रहे हैं। और हर मैसेज के साथ एक इंटरनेट लिंक जुड़ा रहता है। मैसेज भी इतने आकर्षक होते हैं कि उसे पढऩे के बाद उस लिंक में एक बार क्लिक करने की इ'छा हो जाती है। लिंक को क्लिक करने और उसमें आगे की प्रक्रिया करने पर ऑनलाइन ठगी के शिकार हो जाते हैं। दरअसल यह फिशिंग कहलाता है। ऑनलाइन ठगी के कई तरीके होते हैं। इनमें फिशिंग भी एक तरीका है। सबसे ज्यादा ऑनलाइन ठगी फिशिंग के जरिए हो रही है। रायपुर में भी अधिकांश लोग ऑनलाइन ठगी का शिकार हो रहे हैं।
पिछले साल 2300 से ज्यादा ठगी
पिछले साल रायपुर जिले में 23 सौ से ज्यादा ऑनलाइन ठगी के मामले सामने आए थे। इसमें सीधे पुलिस के पास 1043 और ऑनलाइन पोर्टल में 1394 प्रकरण आए थे। इस तरह कुल 2437 केस दर्ज हुए थे। इनमें से पुलिस ने 640 प्रकरण के 35 लाख 97 हजार 187 रुपए पीडि़तों को वापस किया था।
दो माह में 409 मामले
रायपुर जिले के अलग-अलग थानों में जनवरी 2022 से 28 फरवरी तक ऑनलाइन ठगी के कुल 409 मामले सामने आए हैं। इनमें आधे से ज्यादा ठगी फिशिंग के जरिए हुई है। 66 मामलों में पुलिस की साइबर टीम ने पीडि़तों को 6 लाख 63 हजार 376 रुपए वापस कराया है।
सस्ते में प्लॉट और बॉडी चेकअप व खरीदी में भारी डिस्काउंट वाले लिंक को न करें क्लिक, वरना ये हो जाएगा हाल...
सस्ते में प्लॉट और बॉडी चेकअप व खरीदी में भारी डिस्काउंट वाले लिंक को न करें क्लिक, वरना ये हो जाएगा हाल...
घबराएं नहीं, इन नम्बरों पर करें शिकायत
साइबर क्राइम या ऑनलाइन ठगी होने पर घबराएं नहीं। बल्कि गृह मंत्रालय की ओर से जारी टोलफ्री नंबर 1930 पर शिकायत करें। पहले इसके लिए 155260 नंबर था, जिसे बदल दिया गया है। इसके अलावा रायपुर एंटी क्राइम एंड साइबर यूनिट प्रभारी के मोबाइल 94791-91019 या लैंडलाइन नंबर-0771-4247109 पर तुरंत संपर्क किया जा सकता है।
ऐसे मैसेजों से दूर रहें
रायपुर एसएसपी प्रशांत अग्रवाल का कहना है कि मोबाइल में आने वाले किसी भी अनजान लिंक को क्लिक नहीं करना चाहिए। इसके अलावा आकर्षक मैसेज इसलिए भेजे जाते हैं ताकि कोई उस लिंक पर क्लिक करें। फिशिंग के जरिए ऑनलाइन ठगी करने वाले भी यही तरीका अपनाते हैं। इस तरह के मैसेजों पर ध्यान न दें।
ये हुए ठगी के शिकार
रायपुर के शंकर नगर निवासी एक युवती के मोबाइल में ऑनलाइन कपड़े खरीदने पर 70 फीसदी छूट का ऑफर वाला मैसेज आया। उसमें एक लिंक था। आकर्षक ऑफर देखकर युवती ने उसे क्लिक किया। क्लिक करते ही उनका मोबाइल हैक हो गया। कुछ देर बाद उनके एकाउंट से 40 हजार रुपए निकल गए। इसी तरह रायपुर मोवा के एक कारोबारी के पास सस्ते में प्लॉट बेचने का ऑफर वाला मैसेज आया, तो उन्होंने क्लिक किया। इसके बाद गूगल में एक फार्म खुल गया। और व्यक्तिगत जानकारी मांगने लगे। कारोबारी ने कुछ जानकारी भर दिया। इसके बाद बैंक खाता नंबर वाला ऑप्शन आया। कारोबारी को शक हुआ। उन्होंने जानकारी नहीं दी।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

महाराष्ट्र की राजनीति में बड़ा उलटफेर: एकनाथ शिंदे ने ली मुख्यमंत्री पद की शपथ, देवेंद्र फडणवीस बने डिप्टी सीएमMaharashtra Politics: बीजेपी ने मौका मिलने के बावजूद एकनाथ शिंदे को क्यों बनाया सीएम? फडणवीस को सत्ता से दूर रखने की वजह कहीं ये तो नहीं!भारत के खिलाफ टेस्ट मैच से पहले इंग्लैंड को मिला नया कप्तान, दिग्गज को मिली बड़ी जिम्मेदारीAgnipath Scheme: अग्निपथ स्कीम के खिलाफ प्रस्ताव पारित करने वाला पहला राज्य बना पंजाब, कांग्रेस व अकाली दल ने भी किया समर्थनPresidential Election 2022: लालू प्रसाद यादव भी लड़ेंगे राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव! जानिए क्या है पूरा मामलाMumbai News Live Updates: शरद पवार ने किया बड़ा दावा- फडणवीस डिप्टी सीएम बनकर नहीं थे खुश, लेकिन RSS से होने के नाते आदेश मानाUdaipur Murder: आरोपियों को लेकर एनआईए ने किया बड़ा खुलासा, बढ़ी राजस्थान पुलिस की मुश्किल'इज ऑफ डूइंग बिजनेस' के मामले में 7 राज्यों ने किया बढ़िया प्रदर्शन, जानें किस राज्य ने हासिल किया पहला रैंक
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.