बिना जानकारी दिए लाइन मेंटीनेंस कर रही बिजली कंपनी, उपभोक्ताओं की बढ़ी परेशानी

- जानकारी के अभाव में पानी को तरसते रहे ५ हजार से ज्यादा उपभोक्ता, गुढि़यारी जोन का मेंटीनेंस उपभोक्ताओं के लिए सिरदर्द बना।

By: Bhupesh Tripathi

Updated: 26 Oct 2020, 10:47 AM IST

रायपुर। त्योहार के समय लाइट गुल होने की समस्या ना हो, इसलिए बिजली कंपनी के अधिकारियों ने जिले में लाइन मेंटीनेंस का काम शुरू कर दिया है। लाइन मेटीनेंस का यह काम, अब उपभोक्तााओं के सिर का दर्द बन गया है। उपभोक्ताओं को जानकारी दिए बिना, बिजली कंपनी के जिम्मेदारों ने इलाके की लाइट ६ से ८ घंटे के लिए बंद कर दी। बिना जानकारी लाइट बंद होने से गुढि़यारी, शिवानंद इलाके के रहवासी दिन भर पानी समेत अन्य परेशानियों से जूझते रहे। स्थानीय रहवासियों ने पड़ोसियों से और अन्य लोगों से पानी मांगा, इसके बाद दिनचर्या शुरू की।

पहले ये थे नियम
बिजली विभाग के जिम्मेदार मेंटीनेंस करने से पहले निर्धारित इलाके के उपभोक्ताओं को मैसेज भेजते हैं। समाचार पत्रों में विज्ञापन प्रकाशित करते है और प्रेस रीलिज मीडियाकर्मियों के जारी करते थे। अधिकारियों के बदलने के बाद जानकारी की व्यवस्था बदल गई है।

पुराना सिस्टम फिर करेंगे लागू
जिलेवासियों की समस्या को देखते हुए पत्रिका ने बिजली कंपनी के जिम्मेदारों से बात की। बिजली कंपनी के अधिकारियों ने आश्वासन दिया है, कि जल्द पहले वाला सिस्टम लागू किया जाएगा, ताकि उपभोक्ताओं को परेशानी ना हो। मैसेज सिस्टम भी अपडेट करने की बात बिजली कंपनी के अधिकारियों ने की है।

इनका है कहना
बिना जानकारी दिए कंपनी के कर्मचारियों द्वारा लाइट बंद कर दी गई है। लाइट बंद होने से मैं अपने ऑफिस की मीटिंग अटेंड नहीं कर पाया। कंपनी के कर्मचारी मंेटीनेंस करें, लेकिन जानकारी पूर्व में दे, ताकि तैयारी की जा सके।
जित्तू कुमार, शिवानंद नगर

पानी भरने के समय लाइट बंद कर दी गई। पानी ना होने की वजह से दिनचर्या पूरी तरह से प्रभावित हो गई है। नवरात्रि के समय पूजा समय पर की जा सके, इसलिए पड़ोसियों से पानी मांग कर काम चलाना पड़ रहा है।
राम सिंह, गुढि़यारी

आय दिन मेंटीनेंस के नाम पर इलाके की लाइट बंद कर दी जाती है। समस्या है, तो एक ही बार में समाधान कर दें, हर दिन केवल खानापूर्ति कंपनी कर्मचारियों द्वारा की जाती है।

शुभम कुमार, गुढि़यारी

इलाके के ट्रांसफारमरों से तेल गिरता रहता है, उनका मेंटीनेंस देखने के बाद भी नहीं होता। लाइन फाल्ट हो जाती है, उसके बाद सुधारने में कर्मचारियों को घंटों लग जाता है। मेंटीनेंस चल रहा है, तो ट्रांसफारमर भी सुधारों भाई।
सुधीर कुमार, पहाड़ी चौक

वर्सन
मेंटीनेंस के लिए बिजली बंद की जाती है, तो मैसेज के माध्यम से उपभोक्ताओं को सूचना दी जाती है। पुराना सिस्टम फिर से शुरू किया जाएगा, ताकि उपभोक्ताओं की जानकारी जल्द मिल सके।
अनीस लखेरा,एसई, रायपुर।

Show More
Bhupesh Tripathi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned