महिलाओं को बाथरूम में बंद कर दलाल करता था एेसी गंदी हरकत, 3 आरोपी ने पुलिस को बताई ये बात तो..

महिलाओं को बाथरूम में बंद कर दलाल करता था एेसी गंदी हरकत, 3 आरोपी ने पुलिस को बताई ये बात तो..

Chandu Nirmalkar | Publish: Sep, 05 2018 04:45:48 PM (IST) Raipur, Chhattisgarh, India

महिलाओं को बाथरूम में बंद कर दलाल करता था एेसी गंदी हरकत, 3 आरोपी ने पुलिस को बताई ये बात तो..

रायपुर/बालोद. छत्तीसगढ़ में मानव तस्करी का एक और मामला सामने आया है। यहां बालोद पुलिस ने तीन आरोपी को गिरफ्तार कर इसका खुलासा किया है। बताया जा रहा है कि पुलिस ने भिलाई के बोरसी क्षेत्र के एक मकान से पीडि़त महिला को मानव तस्करों से छुड़ाया है, वहीं इस मामले में तीन आरोपी महिला को भी छापामार कार्रवाई करते हुए भिलाई से गिरफ्तार किया है। पुलिस की कार्रवाई देख आरोपी महिलाओं ने पीडि़ता को बाथरूम में बंद कर दिया था, ताकि महिला को पुलिस न ढूंढ सके। इस दौरान दरवाजा तोड़कर महिला को बाहर निकाला गया और भिलाई से बालोद लाया गया।

आरोपी दलाल ने रेप के बाद सेक्स रैकेट के धंधे में धकेला..
पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक घटना 6 जुलाई 2018 की है, जहां बालोद थाना के अंतर्गत एक गांव की 29 साल की महिला गांव से गायब हो गई थी, जिसके बाद परिजन ने बालोद थाने में गुमशुदगी का मामला दर्ज करवाया था। शिकायत के बाद पुलिस ने मुखबीर और संभावित आरोपियों के कॉल डिटेल के जरिए आरोपी तक पुलिस पहुंची। पुलिस के कब्जे में आई पीडि़त महिला ने बताया कि उनकी शादी 6 साल पहले हुई थी। शादी के 6 साल में बच्चा नहीं होने से परेशान होकर अपने मायके चली गई। बताया कि 6 जुलाई को महिला अपने पिता के साथ कुसुमकसा गई थी। वहां से वापस घर आने के बाद अचानक घर से किसी को बिना बताए निकल गई। पुलिस के मुताबिक महिला को ग्राम चारामा निवासी 27 वर्षीय युवक किरण गोंड़ का फोन आया था जिन्होंने महिला को चारामा बुलाया।

 

CG News

शादी करने और रोजगार दिलाने का दिलाया भरोसा
थाना प्रभारी राम किंकर यादव ने बताया कि युवक के बुलाने पर महिला 6 जुलाई को ही चारामा गई और युवक के साथ दो दिन रही। महिला ने बताया कि किरण ने उनसे शादी करने की बात कह कर उसके साथ दुष्कर्म भी किया। दो दिन साथ रखने के बाद दोनों भानुप्रतापपुर चले गए। पीडि़ता ने पुलिस को बताया कि वह जिस युवक पर भरोसा किया वही उनके साथ धोखा किया। युवक ने उसे अच्छा काम दिलाने की बात कह कर भिलाई ले गया। जहां आरोपी किरण ने भिलाई के बोरसीभाठा क्षेत्र में रहने वाली महिला अन्नू के पास छोड़ दिया।

पीडि़त बेटी को नहीं पहचान पाए पिता
पुलिस ने बताया कि आरोपी महिलाओं की चंगुल से छुड़ाकर जब पुलिस ने पीडि़ता को बालोद लाया गया तो महिला के पिता को बुलाकर पहचान कराया गया, पर पिता ने पहले अपनी बेटी को पहचान नहीं पाए, क्योंकि आरोपी पीडि़ता को धंधा कराने के लिए पहले उसका मेकअप कराते थे ताकि महिला और खूबसूरत दिखाई दे। थाने में पीडि़त मेकअप में थी इसलिए पिता बेटी को पहचान नहीं पाए।

नौकरानी की तरह बर्ताव, कराती थी घृणित धंधा
मामले को सुलझाने के लिए बालोद पुलिस के सामने बड़ी चुनौती थी। महिला आरक्षक नर्मदा कोठारी इस मामले पर लगातार मेहनत करते हुए संबंधितों पर नजर रखी हुई थी। जब लोकेशन के आधार पर जानकारी मिली, तो बालोद पुलिस की पांच सदस्यीय टीम ने बोरसी जाकर रात 9 बजे आरोपी महिला के घर पर छापेमारी की और घर की तलाशी ली। जहां आरोपी महिलाओं ने महिला को घर के बाथरूम में छुपा कर रख दिया था। जांच में खुलासा हुआ कि पीडि़त महिला के साथ वे मारपीट करते हुए देह व्यापार के लिए मजबूर करते थे। कहा जाए महिला के साथ नौकरानी की तरह बर्ताव किया जाता था।

ये आरोपी पुलिस की गिरफ्त में
यशोदा मानिकपुरी पति स्व. रमेश दास (44) वर्तमान निवासी बोरसी, रिंकी (ढाली) पति राजा (32) मूल निवासी पखांजूर (कांकेर) वर्तमान निवासी बोरसीभाठा, बिंदिया भारती उर्फ दिव्या पति थान सिंह (25) निवासी अहिवारा (नंदनी) को गिरफ्तार कर तीनों महिलाओं को धारा 366, 344, 376, 371, 506, 34 भादंवि के तहत ज्यूडिशियल रिमांड पर जेल भेज दिया गया। इधर आरोपी किरण गोंड़ की तलाश पुलिस कर रही है।

6 जुलाई को गुमशुदगी का मामला परिजन ने दर्ज कराया
बालोद थाना प्रभारी रामकिंकर यादव ने बताया 6 जुलाई को गुमशुदगी का मामला परिजन ने दर्ज कराया था, जिसकी जांच चल रही थी। इस मामले में बोरसी से पीडि़त महिला को बरामद किया गया है। वहां इस महिला के साथ देह व्यापार कराया जाता था। इस मामले में तीन महिला आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है और आरोपी युवक किरण की तलाश जारी है।

मुख्य आरोपी युवक पुलिस गिरफ्त से बाहर
मामले में पीडि़त महिला को एक युवक द्वारा इन महिलाओं के पास बेचने की बात सामने आ रही है। पर इस मानव तस्करी का मुख्य आरोपी युवक अभी पुलिस गिरफ्त से बाहर है, जिसकी तालाश की जा रही है। उसे पकडऩे संभावित ठिकानों पर छापेमारी की जा रही है। वहीं मौके से तीन आरोपी महिलाओं को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned