अब सरकारी स्कूलों के बच्चों को मध्याह्न भोजन के साथ मिलेगा सुबह का नाश्ता भी

अब सरकारी स्कूलों के बच्चों को मध्याह्न भोजन के साथ मिलेगा सुबह का नाश्ता भी

Akanksha Agrawal | Updated: 27 May 2019, 09:18:11 AM (IST) Raipur, Raipur, Chhattisgarh, India

सरकारी स्कूलों (Government School) में अब अगले सत्र से नई योजनाएं लागू होने जा रही है। छत्तीसगढ़ के स्कूलों में अब मध्याह्न भोजन (Mid day meal) के साथ स्टूडेंट्स को सुबह का नाश्ता भी दिया जाएगा। इसके साथ ही 10 हजार स्कूलों में किचन गार्डन (Kitchen Garden) का कॉन्सेप्ट भी होगा लागू ।

विकास सोनी@रायपुर. 16 जून से शुरू होने वाले नए सत्र से सरकारी स्कूलों (Government School) में पढऩे वाले बच्चों को मध्याह्न भोजन (Mid day meal) के साथ सुबह का नाश्ता भी मिलेगा। प्रदेश सरकार ने सरकारी स्कूलों में बच्चों की उपस्थिति बढ़ाने के लिए यह फार्मूला इजात किया है। नाश्ते मेें पैक्ड फूड (Packed Food) आयटम दिया जाएगा। बच्चों के पोषण को ध्यान में रखते हुए अंडा और एक दिन के बजाय दो दिन सोयाबीन दूध दिया जाएगा।

इसके लिए बीते दिनों दिल्ली में हुई पीएबी (प्रोजेक्ट अप्रूवल बोर्ड) की बैठक में भी MHRD (मानव संसाधन एवं विकास मंत्रालय) ने सहमति दे दी है। यह योजना फिलहाल चुनिंदा ब्लॉकों में शुरू होगी, जिसका अभी चयन नहीं किया गया है।

लोक शिक्षण संचालनालय के संचालक एस. प्रकाश ने बताया कि दो तीन ब्लॉकों में ही यह व्यवस्था की जाएगी, जिसके चिन्हांकन की प्रक्रिया चल रही है। वहीं, इस व्यवस्था से 15-20 हजार बच्चों को सालभर तक नाश्ते की व्यवस्था में लगभग दो करोड़ रूपए खर्च किया जाएगा। जिसमें 60 फीसदी की हिस्सेदारी केन्द्र और 40 फीसदी राज्य शासन वहन करेगा। बैठक में मध्याह्न भोजन प्रणाली में सुधार के कुछ औश्र प्रस्तावों पर केन्द्र से अपू्रवल मिला है। जिसमें किचन गार्डन की व्यवस्था भी प्रमुख है। इसका मकसद शहरी क्षेत्रों के स्कूलों में ग्रीनरी को बढ़ावा देना है।

किचन गार्डन से मिलेगी ताजी सब्जियां
मध्याह्न भोजन योजना में नाश्ते के साथ ही किचन गार्डन के प्रस्ताव पर भी केन्द्र से सहमति मिली है। इसमें सत्र 2019-20 के लिए 10 हजार स्कूलों में किचन गार्डन की व्यवस्था की जाएगी। जिसमें परोसे जा रहे भोजन में हरी और ताजी सब्जियों परिसर की ही बागवानी में उगाई जा सकेंगी। इसमें पर्यावरण के साथ बच्चों की पौष्टिक आहार भी मिल पाएगा। इससे पूर्व इस व्यवस्था में सब्जियों के बजाय दाल और चटनी को ज्यादा प्राथमिकता दी जाती थी।

लोक शिक्षण संचालनालय के संचालक एस. प्रकाश ने बताया कि एमडीएम में कुछ परिवर्तन प्रस्ताव पर केंद्र ने सहमति जताई है। इसके तहत कम उपस्थिति वाले कुछ स्कूलों में किचन गार्डन की व्यवस्था की जाएगी। इससे बच्चों को ताजी सब्जियां और ग्रीनरी को भी बढ़ावा मिलेगा।

 

Chhattisgarh से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter और Instagram पर ..

CG Lok sabha election Result 2019 से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए Download करें patrika Hindi News

खेलो पत्रिका flash bag NaMo9 contest और जीतें आकर्षक इनाम

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned