रायपुर बन रहा कोरोना हॉट-स्पॉट, 24 घंटे में मिले 45 मरीज, कांकेर में बीएसएफ जवानों समेत 110 संक्रमित

अब प्रदेश में संक्रमित मरीजों की संख्या 3415 पहुंच चुकी है, जिनमें 673 एक्टिव और 2728 मरीज स्वस्थ होकर घर लौट चुके हैं। भले प्रदेश में कोरोना मरीजों का रिकवरी रेट 80 के करीब हो, मगर अब स्वास्थ्य विभाग के अफसरों ने भी यह कहना शुरू कर दिया है कि असली चुनौती अब है।

By: Karunakant Chaubey

Published: 07 Jul 2020, 09:12 PM IST

रायपुर. राजधानी रायपुर प्रदेश में कोरोना का नया हॉट स्पॉट बन रही है। यहां हर दिन बड़ी संख्या में संक्रमित मरीज मिल रहे हैं जिनमें हर तबके के लोग शामिल हैं। मंगलवार को आई रिपोर्ट में प्रदेश में 110 लोगों में वायरस की पुष्टि हुई, जिनमें से अकेले 45 मरीज रायपुर और बिरगांव नगर निगम क्षेत्र से हैं। इनमें बिरगांव नगर निगम की सफाईकर्मी है, जो 'सुपर स्प्रेडर' बन गई है। इस सफाईकर्मी से 10 लोग संक्रमित हुए हैं, जिनमें छात्र, गृहणी और फैक्टरी कर्मी शामिल हैं। तो वहीं कांकेर में बीएसएफ के ४ जवान भी संक्रमित पाए गए हैं। रायपुर के बाद सर्वाधिक १९ मरीज जांजगीर चांपा से मिले हैं।

अब प्रदेश में संक्रमित मरीजों की संख्या 3415 पहुंच चुकी है, जिनमें 673 एक्टिव और 2728 मरीज स्वस्थ होकर घर लौट चुके हैं। भले प्रदेश में कोरोना मरीजों का रिकवरी रेट 80 के करीब हो, मगर अब स्वास्थ्य विभाग के अफसरों ने भी यह कहना शुरू कर दिया है कि असली चुनौती अब है। क्योंकि अब वायरस जिस तेजी से स्प्रेड हो रहा है, वायरस सोर्स नहीं मिल रहा है और नई-नई चैन बनती जा रही हैं वही परेशानी पैदा कर रही हैं।

जुलाई में मिल चुके हैं 557 मरीज-

30 जून तक प्रदेश में 2858 मरीज संक्रमित थे। जुलाई के सिर्फ 7 दिनों में ही 557 लोग संक्रमित पाए जा चुके हैं। रोजाना मिलने वाले लोगों की कांटेक्ट ट्रेसिंग की जा रही है, जिनमें हर मरीज के पीछे औसतन 20 सैंपल लिए जा रहे हैं। उधर, स्वास्थ्य विभाग ने सभी जिलों को सैंपलिंग बढ़ाने को कहा है।

रायपुर में इलेक्ट्रिशियन, सफाईकर्मियों ने बढ़ाई मुसीबत-

रायपुर में कोरोना संक्रमित मरीजों का आंकड़ा अब 492 जा पहुंचा है, जिनमें 246 एक्टिव मरीज हैं। संक्रमित और एक्टिव मरीजों के आंकड़े प्रदेश के किसी भी जिले में सर्वाधिक हैं। इनमें अब विदेश से लौटने वाले के अतिरिक्त बड़ी संख्या में सफाईकर्मी, स्वास्थ्यकर्मी और पुलिसकर्मियों पॉजिटिव मिल रहे हैं। मंगलवार को जारी हुई रिपोर्ट में लैब टेक्नीशियन, इलेक्ट्रिशियन, ट्रांसपोर्टर, दो फैक्टरियों में काम करने वाले मजदूर और क्वारंटाइन होटल में काम करने वाले चार हाउस कीपिंग स्टाफ शामिल हैं।

Coronavirus Pandemic
Karunakant Chaubey Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned