फेसबुक में विदेशी से रोमांस फिर महंगे गिफ्ट के लालच में महिला ने गवाएं 25 लाख

- ऑनलाइन ठगी की शिकार हुई महिला, गहने बेचकर, पैसा उधार लेकर साइबर ठगों को दिया, खमतराई पुलिस ने दर्ज किया मामला .

By: Bhupesh Tripathi

Published: 24 Jul 2021, 12:05 AM IST

रायपुर . फेसबुक में सक्रिय साइबर ठगों ने एक महिला को अपने जाल में फांस लिया और उससे ऑनलाइन 25 लाख रुपए ठग लिए। इसके लिए साइबर ठग ने कारोबारी परिवार की 48 वर्षीया महिला से फेसबुक में दोस्ती की। खुद को विदेश का कारोबारी बताया। फिर महिला के लिए महंगा गिफ्ट भेजा। गिफ्ट पाने के लालच में महिला उनके झांसे में फंस गई। और अलग-अलग समय में 25 लाख रुपए ठगों के बताए खाते में जमा करवाती रही। बाद में इसकी शिकायत खमतराई थाने में की। पुलिस ने अज्ञात आरोपी के खिलाफ अपराध दर्ज कर विवेचना में लिया है।

पुलिस के मुताबिक खमतराई की रहने वाली पीडि़त महिला की करीब डेढ़ माह पहले फेसबुक में एलेन नाम के युवक से दोस्ती हो गई। उसने अपने प्रोफाइल में खुद को यूके का कारोबारी बताया था। फेसबुक चैटिंग के बाद महिला और युवक के बीच मोबाइल में बातचीत होने लगी। वाट्सएप कॉलिंग, चैटिंग होने लगी। इस बीच युवक ने महिला को विदेश से एक महंगा गिफ्ट भेजा। महिला गिफ्ट को लेने के लिए तैयार हो गई। दूसरे दिन एक महिला ने उसे फोन किया और बताया कि दिल्ली एयरपोर्ट के कस्टम विभाग से बोल रही हूं। आपके नाम से गिफ्ट आया है। इसे छुड़ाने के लिए 10 हजार लगेंगे। इस पर महिला ने 10 हजार रुपए उनके बताए खाते में जमा कर दिया।

कुछ देर बाद फिर फोन आया। उन्होंने बताया कि गिफ्ट में विदेशी मुद्रा है। इसे भारतीय मुद्रा में बदलना होगा। इसका शुल्क अलग लगेगा। इसके लिए डेढ़ लाख रुपए लगेंगे। महिला ने फिर उनके बताए खाते में डेढ़ लाख रुपए जमा कर दिए। इसके बाद टैक्स, जीएसटी व अन्य शुल्क के नाम पर महिला से करीब 10 लाख रुपए जमा करवा लिया गया।

कार्रवाई के नाम पर डराया
फिर दूसरे दिन एक अन्य व्यक्ति ने फोन किया और खुद को सीबीआई वाला बताकर विदेशी करेंसी मंगाने पर कार्रवाई के नाम पर महिला को डराने लगे। और सेटलमेंट के नाम पर अलग-अलग खातों में पैसा जमा करवाते रहे। इस तरह आरोपियों ने महिला को झांसा देकर डेढ़ माह के भीतर 25 लाख रुपए अपने खातों में जमा करवा लिया। महिला के पास पैसा खत्म हो गया, तो उन्होंने खमतराई थाने में सूचना दी। पुलिस ने अज्ञात ठगों के खिलाफ अपराध दर्ज कर विवेचना में लिया है।

गहने बेचा, उधार लिया
महिला ठगों के जाल में बुरी तरह फंस गई थी। ठग कभी सीबीआई वाला बनकर फोन कर रहे थे, तो कभी उनके सारे पैसे वापस करने का आश्वासन देते थे। इस कारण महिला उनके बताए अनुसार पैसा जमा करती रही। ठगों को देने के लिए महिला ने अपने सारे जेवर बेच दिए। इसके बाद कुछ करीबी रिश्तेदारों से उधार भी लिया। इस तरह कुल 25 लाख रुपए ठगों को दे दिया।

नाइजीरियन गिरोह पर शक
आमतौर पर फेसबुक में महिलाओं से दोस्ती करके ठगी करने के लिए नाइजीरियन गिरोह कुख्यात है। नाइजीरियन गिरोह महिलाओं को फंसाने के लिए फेसबुक में आकर्षक युवक को फोटो लगाते हैं। और अपने प्रोफाइल में कारोबारी, डॉक्टर या बड़े उद्योगपति का जिक्र करते हैं, जिससे महिलाएं व युवतियां उनसे दोस्ती करने के लिए आकर्षित होती हैं। दोस्ती होने के बाद ठग शादी करने, महंगे गिफ्ट भेजने आदि का झांसा देते हैं। इससे युवतियां और महिलाएं आसानी से उनके जाल में फंस जाती हैं। और ठगी का शिकार हो जाती हैं।

Bhupesh Tripathi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned