Teachers Day: इस शिक्षक की करतूतों को जानकर खून खौल जाएगा आपका, करता थे गंदा काम

Teachers Day: इस शिक्षक की करतूतों को जानकर खून खौल जाएगा आपका, करता थे गंदा काम

Deepak Sahu | Publish: Sep, 05 2018 02:12:35 PM (IST) Raipur, Chhattisgarh, India

बच्चों के साथ ये शिक्षक करता था ऐसा काम जिससे खौल जाएगा आपका खून

बलौदा बाजार . पूरे देशभर में आज शिक्षक दिवस के रूप में मनाया जा रहा है। हमेशा से ही हमारे जीवन में शिक्षक का विशेष महत्त्व होता है। शिक्षक बच्चों को हमेशा से ही अच्छे-बुरे का ज्ञान देते है। लेकिन छत्तीसगढ़ में एक ऐसा मामला सामने आया है जहां प्राथमिक शाला का हेड मास्टर ने मासूम छात्रों की बेदम पिटाई कर दी। नेवरा प्राथमिक शाला के प्रधान पाठक शंकरलाल आडिल के बारे में बच्चों ने बताया कि वह थाली लाने से मना करते हैं। जब बच्चों ने खाना खाने की बात कही तो वह आक्रोशित हो गया और बच्चों की पिटाई कर दी जिससे बच्चे काफी सहमे हुए हैं।

इतना ही दोष था कि वे भोजन करने की जिद
इस प्रायमरी स्कूल के हेड मास्टर स्कूल शराब पीकर पहुंचा था। वो इतने नशे में था कि ठीक से खड़े तक नहीं हो पा रहा था। उसने न केवल मध्याह्न भोजन बनाने वाले महिला रसोइयों से दुव्र्यवहार किया बल्कि बच्चों की भी जमकर पिटाई की। बच्चों का सिर्फ इतना ही दोष था कि वे भोजन करने की जिद कर रहे थे।

 

TEACHERS DAY

बच्चों से कहा कि कोई भी बच्चा भोजन नहीं करेगा
बताया गया की रसोइयों के साथ दुव्र्यवहार करने के बाद वे क्लास में गए और बच्चों से कहा कि कोई भी बच्चा भोजन नहीं करेगा। बावजूद कई बच्चे थाली लेकर किचन में भोजन बना रही महिलाओं के पास आ गए और खाना खाने की बात कहने लगे।

महिलाएं बच्चों को खाना परोसती इसके पहले ही वहां शराबी हेड मास्टर पहुंच गया और बच्चों को क्लास जाने की बात कहकर डांटने लगा। इससे बच्चे डर गए और वापस क्लास रूम चले गए। उन्होंने क्लास में कुछ बच्चों की जमकर पिटाई भी की।

प्रशासन ने भी की ढिलाई सारे मामले की जानकारी
एबीओ एवं मध्याह्न भोजन प्रभारी नीलम शर्मा को महिलाओं के द्वारा तत्काल दी गई थी और उन्हें मौके पर आने के लिए कहा गया था। लेकिन वे वहां नहीं पहुंची। दो ढाई घंटे बाद मौके पर समन्वयक बैरागी को भेजा गया। तब बच्चों ने उन्हें बताया कि हेड मास्टर शंकर लाल नायक ‘बड़े सर’ ने उनसे मारपीट की है। उनको यह भी बताया कि बड़े सर बच्चों को थाली नहीं लाने की बात कहते है और डांटते हैं।

बताया जाता है कि जब प्रधान पाठक आडिल को पता चला है कि महिलाएं उनके खिलाफ थाना में रिपोर्ट दर्ज कराने गई है तो वे स्कूल से निकल कर चले गए। शराब के नशे में होने के कारण एक जगह पर वे गिर गए जिससे उसके हाथ पैरों में चोटें भी आई है। लेकिन शाला में जांच करने शिक्षा विभाग का कोई अधिकारी पहुंचा था।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned