टूलकिट विवाद: पूर्व सीएम रमन सिंह और संबित पात्रा को राहत, हाईकोर्ट ने FIR पर लगाई रोक

हाईकोर्ट ने टूलकिट (Toolkit case) मामले में सोमवार को पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह (Raman Singh) व भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा (Sambit Patra) की याचिका पर सुनवाई के बाद अंतरिम राहत देते हुए आगामी सुनवाई तक एफआईआर पर रोक लगा दी है।

By: Ashish Gupta

Updated: 14 Jun 2021, 08:44 PM IST

बिलासपुर. हाईकोर्ट ने टूलकिट (Toolkit case) मामले में सोमवार को पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह (Raman Singh) व भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा (Sambit Patra) की याचिका पर सुनवाई के बाद अंतरिम राहत देते हुए आगामी सुनवाई तक एफआईआर पर रोक लगा दी है। कोर्ट ने पाया कि मामला राजनीति से प्रेरित है और याचिकार्ताओं पर दर्ज एफआईआर पर रोक लगाने के पर्याप्त कारण मौजूद हैं।

यह भी पढ़ें: तीसरी लहर की आशंका पर स्वास्थ्य मंत्री बोले, कोई वैज्ञानिक आधार नहीं, लेकिन तैयारियों में कोई कमी नहीं

बता दें कि रमन सिंह और संबित पात्रा ने एफआईआर के खिलाफ हाईकोर्ट में याचिका दायर की थी। मामले पर सुनवाई करते हुए जस्टिस नरेंद्र कुमार व्यास की सिंगल बेंच ने एफआईआर पर रोक लगाने का आदेश दिया है। याचिकाकर्ताओं ने हाईकोर्ट में दलील दी थी कि उनके खिलाफ पॉलिटिकल एजेंडे के तहत एफआईआर दर्ज की गई है।

यह भी पढ़ें: पूर्व CM ने कहा - पीएससी भ्रष्टाचार का अड्डा, इनके चेयरमैन का बायोडाटा देख लें युवा तो इंटरव्यू न दें

यह है मामला
बता दें कि देश और प्रदेश में बढ़ते कोरोना संक्रमण को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह व पात्रा ने 18 मई को ट्विटर पर कांग्रेस का कथित लेटर पोस्ट किया था। पोस्ट में उन्होंने कांग्रेस द्वारा देश का माहौल खराब करने की प्लानिंग के संबंध में जानकारी दी थी। पोस्ट में यह भी लिखा गया था कि कांग्रेस विदेशी मीडिया में देश को बदनाम करने का दुष्प्रचार रही है। इसे लेकर युवा कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने लेटर को फर्जी बताते हुए इस मामले की शिकायत पुलिस से की थी।

Show More
Ashish Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned