युवक ने की पत्नी समेत माता-पिता की हत्या, 5 साल का बेटा अस्पताल में भर्ती

युवक ने की पत्नी समेत माता-पिता की हत्या, 5 साल का बेटा अस्पताल में भर्ती

Amit Mishra | Publish: May, 17 2019 11:46:13 AM (IST) Raisen, Raisen, Madhya Pradesh, India

पैसों को लेकर था विवाद, छह साल के मासूम पुत्र पर भी किया जान लेवा हमला...

घटना वाले ग्राम सेमरीघाट में शोक का माहौल...

रायसेन/बरेली. घर में रखे रुपए बिना बताए ले जाने और फिर पिता द्वारा वापस मांगने से नाराज एक नशेलची युवक ने अपने माता, पिता सहित पत्नी की हत्या कर दी और छह साल के मासूम बेटे प भी जानलेवा हमला किया। जो भोपाल के एक अस्पताल में जिंदगी और मौत के बीच झूल रहा है। घटना बुधवार-गुरुवार की दरमियानी रात की है। थाना बरेली क्षेत्र के ग्राम सेमरी घाट में उक्त दिल दहला देने वाली बारदात को अंजाम देकर कलयुगी पुत्र मौके से फरार हो गया, पुलिस उसकी तलाश कर रही है।


घटना के बाद से ग्राम सेमरी घाट में मातम का माहौल है। लोग सकते में हैं, वहीं पुलिस ने प्रकरण दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। सुबह से शाम तक घटना को लेकर तरह-तरह की चर्चाएं चलती रहीं। कभी कट्टे की गोली तो कभी कुल्हाड़ी से हत्या करने की चर्चाएं होती रहीं।


सोते समय बेरहमी से किया हमला...
जानकारी के अनुसार आरोपी जितेंद्र सिंह पुरविया ने सोते समय बेरहमी से अपनी पत्नी शारदा बाई, मां सुनीता बाई और पिता जालम सिंह ठाकुर सहित अपने बेटे छह वर्षीय सिद्धांत पर हमला किया। जिसमें शारदा बाई और सुनीता बाई की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि जालम सिंह की मौत भोपाल ले जाते समय रास्ते में हुई। बेटा सिद्धांत का भोपाल के अस्पताल में इलाज चल रहा है।

 

गोली भी चलाई कुल्हाड़ी भी मारी...
सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार आरोपी ने पहले अपनी पत्नी पर देशी कट़्टे से गोली चलाई, गोली की आवाज सुनकर पहुंचे माता, पिता पर कुल्हाड़ी से हमला किया। इसके बाद बेटे पर भी कुल्हाड़ी से हमला कर मौके से फरार हो गई। घटना के बाद यह जानकारी सामने आई थी कि जितेंद्र ने सभी पर गोली चलाईं, लेकिन शवों के अस्पताल पहुंचने के बाद पता चला कि आरोपी ने सभी पर कुल्हाड़ी से भी हमला किया था।


रुपए बने विवाद और फिर हत्या का कारण...
बताया जा रहा है की नशे का आदी आरोपी जितेंद्र सिंह 15 दिन पहले घर में रखे पचास हजार रुपये बिना बताए लेकर चला गया था। इस बात को लेकर घर के लोग जितेंद्र सिंह से नाराज थे।

घटना से एक दिन पहले जितेंद्र सिंह घर वापस लौटा था। पिता जालमसिंह ने उससे रुपए लौटाने की बात कही। इसी बात को लेकर बाद में पति-पत्नी के बीच विवाद हुआ और आरोपी ने घटना को अंजाम दे दिया।


पूरे गांव में शोक का माहौल...
घटना के बाद से पूरे गांव में शोक का माहौल है। घरों में चूल्हे तक नहीं जले। लोग कलयुगी पुत्र को कोस रहे हैं। हंसता खेलता खुश हाल परिवार के मौत के मुंह में समा जाने पर पूरा गांव दुखी है। रोते बिलखते परिजनों द्वारा मृतक सुनीता बाई और शारदा बाई का अंतिम संस्कार कर दिया गया है। मृतक जालम सिंह के शव का भोपाल से वापस लाए जाने का इंतजार कर रहे थे।

 

बड़ा बेटा मामा के घर था तो बच गया...
आरोपी जितेंद्र अपने मां-बाप का इकलौता पुत्र है। जबकि उसके दो बेटे हैं। बड़ा बेटा सूर्यांश अपने मामा के घर गया हुआ था, इसलिए वह इस घटना का शिकार होने से बच गया। घटना के बाद जालमसिंह के रिश्ते नातेदार मौके पर पहुंच गए थे। जो इस घटना को लेकर सकते में हैं।

एसपी ने की पूछताछ
घटना की जानकारी रात में ही डायल 100 को मिली, सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने घायलों को अस्पताल पहुंचाया। जिनमें दो की मौत हो चुकी थी। जालमसिंह और सिद्धांत को भोपाल भेजा। गुरुवार सुबह एसपी मोनिका शुक्ला अन्य पुलिस अधिकारियों के साथ मौके पर पहुंची। उन्होंने ग्रामीणों सहित परिजनो से बात कर मामले की जानकारी एकत्र की। मामा के घर से गांव पहुंचे आरोपी के बड़े पुत्र सूर्यांश से भी बात की।


आरोपी जितेंद्र सिंह के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर तलाश शुरू कर दी है। पुलिस आरोपी पर पांच हजार का इनाम घोषित किया है। मृतकों के शव पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंप दिए हैं। आरोपी ने अपने परिवार पर कुल्हाड़ी से हमला किया, जिसमें तीन की मौत हो गई है, जबकि एक घायल है।
मोनिका शुक्ला, पुलिस अधीक्षक

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned