बाइपास के जिस वन-वे पर पांच दिन पहले पांच की जान गई थी वहीं फिर भिड़े ट्रेवलर और ट्रक, दो की दर्दनाक मौत

सारंगपुर में फिर दर्दनाक हादसा : इंदौर से प्याज भरकर आसाम जा रहे ट्रक ने सामने से आई ट्रैवलर को टक्कर मारी

By: Rajesh Kumar Vishwakarma

Published: 29 Jun 2020, 08:08 PM IST

सारंंगपुर.नेशनल हाईवे क्रमांक-तीन पर फोरलेन बाइपास के वन-ने फिर से दो लोगों की जान ले ली। पांच दिन पहले जिस बाइपास के वन-वे पर हादसे में पांच लोगों की जान गई थी वहीं, पर फिर से ट्रैवलर और ट्रक में भिड़ंत हो गई, जिसमें दो लोगों की जान चली गई। गोपालपुरा बाइपास से महज 100 मीटर दूर एहसानपुरा जोड़ पर यह हादसा हुआ है।
जानकारी के अनुसार इंदौर मंडी से लहसुन-प्याज भरकर आसाम जा रहे ट्रक (एमपी09एचएच7794) ने भैंसवामाता से इंदौर जा रही टैम्पो ट्रैवलर (एमपी09टीबी7076) को टक्कर मार दी। जिससे ट्रैवलर के परखच्चे उड़ गए, इसमें सवार 14 में से दो रेणुका पति सोनू (40) निवासी नंदलालपुरा, इंदौर और ड्रायवर संतोष पिता दुर्गाप्रसाद पंवार (21) निवासी बिजासन गोम्मटगिरि, इंदौर की मौके पर ही मौत हो। हादसा इतना भीषण था कि उन्हें हादसे के बाद निकाल पाना मुश्किल हो रहा था। उनमें से बचे हुए 12 लोगों को भी गंभीर चोटें आई हैं, उनका सिविल अस्पताल में उपचार किया गया। घायलों रतनबाई पति विजयसिंह (40), सारिका पति कारू (35), आर्यन पिता मनीषसिंह (20, पारू पिता विजयसिंह (35), बेजंता पति अमित (40), सोनू पिता राजेंद्र (40), माधव पिता अमित चौहान (4), अश्विनी पिता अमित चौहान (9), रूपाली पति देवेंद्र (30), वैदिना पिता दीपेंद्र (३), करूणा पति मनीष (35), विशेष पिता सोनू सभी निवासी नंदलालपुरा इंदौर शामिल हैं। पोस्टमॉर्टम के बाद दोनों के शव परिजनों को सौंप दिए गए।

घायल ट्रैवलर सवार ने बताया कि हम भैसवामाताजी मां बिजासन के दर्शन करने के बााद रात को इंदौर लौट रहे थे। तभी सामने से आ रहे ट्रक ने टक्कर मार दी।
वन-वे और उस पर भी दिशा-सूचक नहीं, इसलिए हो रहे हादसे
लगातार हो रहे हादसों में देवास-ब्यावरा फोरलेन बना रही ओरिएंटल कंपनी की लापरवाही सामने आई है। करीब सालभर से कंपनी वन-वे का काम पूरा नहीं कर पा रही। खास बात यह है कि बाइपास के जिस हिस्से को वन-वे बनाया गया है वहां कोई दिशा-सूचक भी नहीं है। ऐसे में दूर-दराज और बाहर से आने वाले वाहन चालक जिन्हें मार्ग का पता नहीं है वे हादसे का शिकार हो जाते हैं। निर्माण एजेंसी की लापरवाही का खामिजा आम राहगीर अपनी जान देकर भुगत रहे हैं।

Show More
Rajesh Kumar Vishwakarma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned