इंग्लिश मीडियम स्कूल व्याख्याता भर्ती में बड़ी गड़बड़ी, पहले हिंदी मीडियम बोलकर किया अपात्र, अब इंटरव्यू में बुलाया अभ्यर्थी को

शिक्षा विभाग द्वारा अपात्र शिक्षक को इंग्लिश मीडियम में जीवविज्ञान विषय का व्याख्याता बनाने के लिए इंटरव्यू में बुलाने का मामला आया है।

By: Dakshi Sahu

Updated: 16 Sep 2020, 11:59 AM IST

राजनांदगांव. शिक्षा विभाग द्वारा अपात्र शिक्षक को इंग्लिश मीडियम में जीवविज्ञान विषय का व्याख्याता बनाने के लिए इंटरव्यू में बुलाने का मामला आया है। सर्वजनहित समिति के अध्यक्ष अशोक फडऩवीस ने शिकायत करते हुए कहा है कि विभाग ने 11 मई को अपनी सूची में हिंदी माध्यम से स्कूली शिक्षा लेने पर अपात्र किया था और अब 15 सितम्बर को इंटरव्यू के लिए बुलाया गया है। सर्वजनहित समिति के अध्यक्ष फडऩवीस के पास अपात्र शिक्षक की शिकायत दस्तावेज के साथ कलेक्टर टोपेश्वर वर्मा व जिला शिक्षा अधिकारी को कर सम्पूर्ण मामले की जांच कर दोषियों पर कार्रवाई करने कहा है।

मंगाए थे शिक्षकों से भी आवेदन
फडऩवीस ने बताया कि नगर निगम के उत्कृष्ट अंग्रेजी माध्यम के स्कूल में पढ़ाई कराने विभिन विषयों के लिए विभागीय और बाहरी लोगों की भर्ती करने टीचरों की नियुक्ति के लिए भर्ती प्रक्रिया अपनाई गई जिसमें शुद्ध रूप से इंग्लिश मिडियम से स्कूली पढ़ाई की हो उन्हें ही आवेदन करना है। इसके पूर्व विभाग ने प्रतिनियुक्ति के लिए अपने शिक्षकों से आवेदन मंगवाए।

इंटरव्यू के बाद बनी थी पात्रों की सूची
बकायदा इंटरव्यू लिया गया और पात्रों की सूची बनी। उन्होंने कहा कि इसमे शिक्षा विभाग ने शिक्षक के आवेदन को अपात्र माना क्योंकि उक्त शिक्षक की प्रारंभिक स्कूली शिक्षा शुद्ध रूप से देवानंद जैन शिक्षा मंदिर में हुई है, जहां हिंदी माध्यम से ही पढ़ाई होती है। शिकायत में कहा गया है कि इस मामले की जांच कर गलत तरीके से इंटरव्यू के लिए आमंत्रित करने वालों पर कार्रवाई की जाए।

Show More
Dakshi Sahu Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned