डोंगरगढ़ सहित अंचल में मनाया गया धूमधाम से जन्माष्टमी पर्व

डोंगरगढ़ सहित अंचल में मनाया गया धूमधाम से जन्माष्टमी पर्व

Nakul Sinha | Publish: Sep, 08 2018 10:17:20 AM (IST) | Updated: Sep, 08 2018 01:01:59 PM (IST) Rajnandgaon, Chhattisgarh, India

दहीलूट बना आकर्षण का केंद्र

राजनांदगांव / डोंगरगढ़. भगवान के अवतार लेने तक भजन संध्या में देर रात तक झूमते रहे भक्त, श्रीकृष्ण की जीवंत झांकी देखनें उमड़ी भीड़। संध्या होते ही श्रीकृष्ण जन्माष्टमी का माहौल धर्मनगरी में शुरू हो गया। सोमवार की रात घर-घर भगवान की मनमोहक झांकियां सजाई गई। दो दिवसीय भव्य आयोजन की शुरूआत महावीर मंदिर से हुई। जहां सुबह साढ़े ९ बजे भगवान श्रीकृष्ण की स्थापना गोविंदा उत्सव समिति के अध्यक्ष अनिल गट्टानी ने पूजन-अर्चन कर किया। गोविंद भगवान की स्थापना पूजा महंत साकेत बिहारी दास ने की। महावीर मंदिर में श्रीकृष्ण-गोविंदा धून प्रारंभ होने के बाद बुधवार सुबह साढ़े ९ बजे समाप्त हुई। निरंतर २४ घंटे तक मंदिर में घंटा बजता रहा। इधर मां बम्लेश्वरी नीचे मंदिर प्रांगण में बाल कलाकारों ने कृष्ण जन्मोत्सव की जीवंत झांकी का चित्रण किया। रात ८ बजे से साढ़े १२ तक म्यूजिकल भजन संध्या में भक्त झूमते रहे। पहली दही हांडी श्रीकृष्ण जन्मोत्सव के बाद नीचे मंदिर में लुटाई गई। भजनों की प्रस्तुति में भक्त देर रात तक नाचते रहे।

अलग-अलग रूप में दिखें नंदलाल
श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के अवसर पर मंगलवार की रात पटेल वार्ड, जयस्तंभ चौक व अन्य वार्डों के घरों में लोगों ने भगवान के अलग-अलग रूपों का वर्णन करते हुए झांकियों के माध्यम से प्रस्तुत किया। रात १ बजे तक घरों में सजी झांकियों को देखनें शहर में लोगों की चहल-पहल बनी रही। बुधवार को गोविंदोत्सव पर महावीर मंदिर से डोला में सवार होकर भगवान श्रीकृष्ण को शहर भ्रमण कराया गया। शहर में भक्तिमय माहौल देखने को मिला।

लगातार ८ दिनों तक चला सीताराम का जाप
बेलगांव. अंचल में तीन सितंबर को कृष्ण जन्माष्टमी पर्व धूमधाम से मनाई गई। गांव से लेकर पूरे क्षेत्र के ग्रामीण इलाकों में मंदिरों को भव्य रूप से सजाया गया था। देर रात तक जय कन्हैया लाल की जयकारे मंदिरों सहित गांवों में गुंजते रहे। मंदिरों में भजन-कीर्तन का कार्यक्रम कई जगहों पर आयोजित किया गया था। गाल गांव में राम सप्ताह भजन पाठ का कार्यक्रम आयोजित किया गया। इसी प्रकार आयुर्वेद ग्राम बेलगांव में प्राचीन काल से चलते आ रहे राम सप्ताह का आयोजन ऐतिहासिक है।

मनाया गोविंदा उत्सव
सोमनी. ग्राम सोमनी में जन्माष्टमी पर्व पर 3 सितंबर को भगवान श्रीकृष्ण की मूर्ति स्थापित कर, पूजा अर्चना कर प्रसादी वितरण भी किया गया। समस्त यादव समाज के लोग बड़े हर्ष के साथ इस पर्व को मनाते हैं। दूसरे दिन भगवान कृष्ण की पालकी सजाकर पूरे गांव का भ्रमण कराते हैं और साथ ही जगह-जगह दही लूट का कार्यक्रम रखा गया था।

राधा-कृष्ण प्रतियोगिता
डोंगरगांव. जन्माष्टमी की पूर्व संध्या पर 1 सितंबर को शहर में संचालित युनियन पब्लिक स्कूल में राधा-कृष्ण स्पर्धा का आयोजन किया गया। जिसमें छात्र-छात्राओं ने बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया। प्री-प्राइमरी में प्रथम पंक्ति गुप्ता-अनन्या गुप्ता, द्वितीय अमित साहू-हर्षिका लोढ़ा व उमेश केसरिया-मौली हिरवानी एवं तृतीय स्थान प्रणय सोनी-पूर्वी लोढा व दैनिक यदु-मेघा साहू की जोड़ी ने प्राप्त किया। मिडिल से प्रथम दिव्यांश हिरवानी-यूनिका यादव, द्वितीय समीर सोनवानी-तृप्ति यदु एवं वाहिश सोनटेके एवं तृतीय स्थान पर सौम्या जैन व रीमा देवांगन रहे। कार्यक्रम के अंत में दही लूट का आयोजन भी किया गया।

Ad Block is Banned