इस जिले में सिर्फ महिला हेल्थ वर्कर लगाएंगी लोगों को कोरोना वैक्सीन, दवा की पहली खेप पहुंची छत्तीसगढ़

चार वैक्सीनेशन सेंटर से टीकाकरण की शुरूआत की जाएगी, उन सभी में स्वास्थ्य विभाग की महिला कर्मचारी ही टीका लगाएंगी।

By: Dakshi Sahu

Published: 13 Jan 2021, 06:58 PM IST

राजनांदगांव. कोरोना संक्रमण पर नियंत्रण के लिए 16 जनवरी से देश भर में कोरोना टीकाकरण शुरू कर दिया जाएगा। सरकार की ओर से इसकी अधिकृत घोषणा होने के बाद जिला प्रशासन ने अपनी तैयारियों को अंतिम रूप देना शुरू कर दिया है। कोरोना टीकाकरण के लिए संबंधित विभाग के अधिकारियों व कर्मचारियों को प्रशिक्षण देने के साथ ही विभिन्न दिशा-निर्देश दिए गए हैं। इसके अलावा जिले में वैक्सीनेशन के लिए 64 बूथ बनाए गए हैं, लेकिन पहले दौर में केवल चार बूथ से वैक्सीनेशन की शुरूआत की जाएगी। इन चारों सेंटरों के परिणाम के बाद ही शेष बूथ में टीकाकरण प्रारंभ किया जाएगा। इस संबंध में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मिथलेश चौधरी ने बताया, कोरोना टीकाकरण को लेकर जिले में व्यापक तैयारी की जा रही है। कोरोना वैक्सीन को सुरक्षित रखने के लिए स्वास्थ्य विभाग द्वारा 54 कोल्ड स्टोरेज चेन की व्यवस्था करा दी गई है। वैक्सीन को लंबे समय तक सुरक्षित रखा जा सके, इसके लिए दो प्रकार के फ्रीजर की व्यवस्था की गई है। साथ ही सिरिंज से लेकर कोरोना वैक्सीन तक को सुरक्षित रखने हेतु कोल्ड स्टोरेज चेन की व्यवस्था पूरी कर ली गई है।

तैयारी अंतिम चरण में
टीकाकरण के लिए जिला मुख्यालय से लेकर जिले के सभी विकासखंडों के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र तथा प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों में तैयारियां अंतिम चरण में है। राजनांदगांव जिला मुख्यालय में पेंड्री मेडिकल कॉलेज अस्पताल तथा जिला चिकित्सालय के साथ-साथ अन्य चिन्हांकित स्थानों पर टीकाकरण की व्यापक तैयारी चल रही है।

नियमित प्रशिक्षण जारी
इस दौरान फ्रंट लाइन पर कार्य करने वाले स्वास्थ्य विभाग कर्मचारियों को टीकाकरण का नियमित प्रशिक्षण दिया जा रहा है। टीकाकरण के दौरान बरती जाने वाली सावधानी को लेकर सचेत किया जा रहा है। इसके साथ-साथ उन्हें अन्य आवश्यक सुविधाएं मुहैया कराई जा रही हैं।

पहले दिन 4 सौ को टीका
टीकाकरण के संबंध में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी गाईड लाइन के अनुसार, पहले दिन जिले में 400 लोगों को ही टीका लगाया जा सकेगा। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी गाईड लाइन में यह स्पष्ट किया गया है कि एक दिन में एक वैक्सीनेशन सेंटर में अधिकतम 100 लोगों को ही टीका लगा सकता है। यही कारण है कि जिले में भी शुरूआत के दिनों में चार सेंटरों में केवल 400 स्वास्थ्य कर्मियों को ही कोरोना का टीका लगाया जा सकेगा। टीकाकरण का कार्य प्रतिदिन सुबह 9 से शाम 5 बजे तक किया जाएगा।

महिला स्वास्थ्य कर्मी लगाएंगी टीका
जिले में चल रही कोरोना टीकाकरण की तैयारी के बीच एक और बड़ी बात सामने आ रही है और वह यह है कि लोगों को टीका लगाने की जिम्मेदारी स्वास्थ्य विभाग के महिला कर्मचारियों की रहेगी। जिले में जिन चार वैक्सीनेशन सेंटर से टीकाकरण की शुरूआत की जाएगी, उन सभी में स्वास्थ्य विभाग की महिला कर्मचारी ही टीका लगाएंगी। इसके अलावा हर बूथ में चार कर्मचारियों को तैनात किया जाएगा। वैक्सीनेशन के लिए पहले चरण में स्वास्थ्य कर्मियों का चयन किया गया है। इसके लिए पंजीयन का कार्य भी पूरा कर लिया गया है। जिले से वैक्सीनेशन के लिए कुल 14048 स्वास्थ्य कर्मियों ने अपना पंजीयन कराया है। इनमें शासकीय स्वास्थ्य कर्मियों के साथ ही निजी अस्पतालों में कार्यरत स्वास्थ्यकर्मी शामिल होंगे।

Show More
Dakshi Sahu Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned