मनरेगा में फर्जी बिल लगाकर डेढ़ लाख रुपए का गबन करने वाली महिला सरपंच और सचिव गिरफ्तार

फर्जी बिल लगाकर एक लाख 54 हजार रुपए की गड़बड़ी कर फरार चल रहे सरपंच और सचिव को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

By: Dakshi Sahu

Updated: 20 Jan 2021, 11:13 AM IST

राजनांदगांव. जिले के अंबागढ़ चौकी थाना क्षेत्र के ग्राम सांगली में मनरेगा के तहत सड़क निर्माण कार्य में फर्जी बिल लगाकर एक लाख 54 हजार रुपए की गड़बड़ी कर फरार चल रहे सरपंच और सचिव को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। आरोपियों के खिलाफ धारा 420, 120 बी व 406 भादवि के तहत कार्रवाई की जा रही है। यह मामला तीन साल पुराना है।

आरोप सिद्ध हुआ तो हो गए फरार
आरोप सिद्ध होने के बाद से आरोपी सरपंच साधना सेवता पति मुकेश सेवता 28 साल व सचिव मकसूदन साहू पिता दशरथ साहू 52 साल फरार चल रहे थे। ये लगातार तीन साल तक पुलिस को चकमा देकर फरार थे। मिली जानकारी अनुसार ग्राम सांगली में डब्ल्यू बीएम रोड निर्माण की स्वीकृति मिली थी। इस कार्य को वर्ष 2016-17 में मनरेगा के तहत तत्कालीन सरपंच साधना सेवता व सचिव मकसूदन साहू जोशीलमती द्वारा कराया जा रहा था।

डेढ़ लाख रुपए का किया गबन
कार्य में टै्रक्टर मालिक शोभारा सिन्हा, कमलेश कौशिक, गिरवर राम, मुकेश सिन्हा, घनश्याम साहू द्वारा मिट्टी-मुरम डाला गया था। सरपंच सचिव द्वारा कुटरचित करते हुए फर्जी बिल लगाकर डेढ़ लाख रुपए गबन किया गया था। मामले में जनपद पंचायत अंबागढ़ चौकी की कार्यपालन अभियंता चंद्रकला कुशवाहा ने जांच उपरांत अंबागढ़ चौकी थाने में दोनों के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज कराया था।

Show More
Dakshi Sahu Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned