बैराज के डूबान में डूब गई सड़क, सप्ताह भर से स्कूल नहीं जा पा रहे नौनिहाल

सीएम के जिले में शिक्षा व्यवस्था का हाल बेहाल, ग्रामीणों ने घेरा एसडीएम कार्यालय

By: Nakul Sinha

Published: 24 Jul 2018, 11:03 AM IST

राजनांदगांव / खैरागढ़. प्रधानपाठ बैराज के डुबान में आए सड़क के चलते लक्षणा पंचायत के आश्रित ग्राम लक्षणा टोला के पालकों ने हप्ता भर से सड़क नहीँ होने के कारण बच्चों के स्कूल नही जाने को लेकर स्थानीय एसडीएम कार्यालय का घेराव कर दिया। लक्षणा टोला के पालक अपने बच्चों को लेकर पहुंचे थे। बच्चों के साथ आए पालकों सहित ग्रामीणों ने बताया कि पुराने लक्षणा के प्रधानपाठ बैराज के डूबान में आने के बाद गांव को अलग लगह शिप्ट किया गया है लेकिन लक्षणा के टोला में तीन वार्डों के प्राथमिक शाला के बच्चों की परेशानी बढ़ गई है।

स्कूल नहीं पहुंच पाए बच्चे
पालकों ने एसडीएम कार्यालय का घेराव करते बताया कि लक्षणा जाने वाला मार्ग डूबान में आ गया है। चार दिन पहले जोरदार बारिश के चलते प्रधानपाठ बैराज के भरने से पूरी सड़क डूब गई जिसके कारण प्राथमिक स्कूल के बच्चे नए लक्षणा में शिप्ट किए गए स्कूल नहीं पहुंच पाए।

टोला में ही चलाएं स्कूल
ग्रामीणो ने एसडीएम से शिकायत के बाद टोला मे बने राजीव गांधी सेवा केन्द्र मे ही स्कूल संचालन करने की बात कही। ग्रामीणों ने कहा कि वैकल्पिक व्यवस्था तक शासकीय भवन में स्कूल का संचालन किया जा सकता है। ग्रामीणों ने बताया कि पुराना स्कूल एक किमी पड़ता था लेकिन नया लक्षणा का स्कूल पुरानी सड़क से तीन किमी पड़ेगा, ऐसे में बच्चों को रोजाना परेशानी होगी। सिंचाई विभाग अधिकारी को भी ग्रामीणो ने डूबान मे आए रहे सड़क की व्यवस्था सुधारने की बात कही ताकि टोला के ग्रामीणों को परेशानियां न हो। सिंचाई विभाग अधिकारी शर्मा ने बताया कि परेशानी होने तक प्रधानपाठ बैराज मे पानी का स्टोरेज नही किया जा रहा है।

कार्यालय में आए एसडीएम तो बताई शिकायत
एसडीएम सीपी बघेल के ई-जनदर्शन में होने के दौरान टोला के बच्चे पालकों और ग्रामीणों के साथ एसडीएम कार्यालय पहुंच सामने ही बैठ गए। एसडीएम बघेल के आने के बाद ग्रामीणों ने इसकी शिकायत करते कहा कि स्कूल की व्यवस्था टोला में ही होनी चाहिए। एसडीएम बघेल ने त्वरित रूप से बीईओ महेश भुआर्य और सिंचाई विभाग अधिकारी एसएन शर्मा को बुलाकर मामले मे कार्यवाही की बात कही। ग्रामीणो ने बताया कि टोला से लगभग 33 बच्चे रोजाना लक्षणा प्राथमिक शाला आते हंै सड़क समस्या के कारण सप्ताह भर से पालक स्कूल नही भेज रहे हैं। इस दौरान एसडीएम ने व्यवस्था बनाने के निर्देश भी बीईओ को देते कहा कि त्वरित रूप से मौका मुआयना कर इसकी जानकारी उच्चाधिकारियों को दें। डूबान की स्थिति की जानकारी लेते सिंचाई विभाग अधिकारी शर्मा से भी बारिश तक प्रधानपाठ बैराज के डूबान वाले सड़क की व्यवस्था बनाए रखने और बैराज मे ज्यादा पानी नही भरने के निर्देश दिए।

बन रही सड़क
सिंचाई विभाग द्वारा नये लक्षणा मे जारी निर्माण कार्य के बाद ग्रामीणों ने टोला तक सउ़क निर्माण की धीमी प्रक्रिया की शिकायत की तो शर्मा ने बताया कि निर्माण जल्द कराया जाएगा। इस दौरान बीईओ ने ग्रामीणो से मौका मुआयना के लिए गांव चलने की बात कही तो ग्रामीण समस्या का हल नही निकलने का हवाला देकर कलक्टर को शिकायत करने राजनांदगांव रवाना हो गए।

निर्देश दिए गए हैं
एसडीएम खैरागढ़, सीपी बघेल ने कहा कि लक्षणा के टोला के ग्रामीण पालक और छात्र पहुंचे थे। वे अलग स्कूल की मांग कर रहे थे। वैकल्पिक व्यवस्था बनाने बीईओ को मौका मुआयना करने कहा गया है। सिंचाई विभाग अधिकारी को भी व्यवस्था बनाने सड़क निर्माण पूरा कराने निर्देश दिए गए हैं।

दलदल और मिट्टी के कारण चलना दूभर हो रहा
ग्रामीणों ने बताया कि नए लक्षणा के लिए टोला से आने जाने कोई अलग से सड़क की व्यवस्था नहीं की गई है जिसके कारण छात्रों को बारिश में खतरों के बीच डूबान वाले सड़क से ही स्कूल जाना पड़ेगा। फिलहाल सड़क मे दलदल और मिटटी के कारण चलना भी दूभर हो रहा है जिसके कारण बच्चे सप्ताह भर से स्कूल नही जा पा रहे हंै।

Nakul Sinha
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned