पोला त्योहार पर बैल दौड़ देखने उमड़ी लोगों की भीड़

पोला त्योहार पर बैल दौड़ देखने उमड़ी लोगों की भीड़

Nakul Ram Sinha | Publish: Sep, 11 2018 12:58:15 PM (IST) Rajnandgaon, Chhattisgarh, India

छुईखदान में: लगता है बड़ा बाजार

राजनांदगांव / छुईखदान. नगर में पोला त्योहार के एक दिन पहले बड़ा बाजार लगता है। जिसके चलते आसपास के लोग समान की खरीददारी के लिए बाजार आते है। इस त्योहार के दो महीने पहले ही कुम्हार अपने घर मे मिट्टी के खिलोने या नदिया बैल बनना शुरु कर देते है जिसकी बिक्री त्योहार के पहले दिन तक की जाती है। इस वर्ष नदिया बैला की जोड़ी 20-30 रूपये बेचीं गई। समान की खरीदारी के लिए लोग दूर-दूर से बाजार में आते है जिसके कारण बाजार में भरी भीड़ नजर आती है, व्यपारियों में भी उत्साह देखने को मिलता है। त्यौहार के दिन माँ काली मंदिर के सामने मैदान बैला पसरा में आसआस के राउत अपने गायों को लाते है और दौड़ करते है। बैलो के दौड़ को देखने के लिए भारी संख्या में लोग उपस्थित रहते है इसका आनंद उठते है।

बच्चों में मिट्टी के बैल व खिलौने खुशी
जंगलपुर. छतीसगढ़ की पांरपरिक तिहार पोला को गांव में आज भी बड़े धूमधाम से मनाया जाता है। इस आधुनिकता के जमाने में आज भी बच्चे मिट्टी के खिलौने से खेलते है लड़कियाँ मिट्टी के पोरा जाता, कड़ाही, बाल्टी से व लड़के बैल गाड़ी से खेलते है।

उपरवाह. ग्रामीण अंचल में छोटे छोटे त्योहारों का भी विशेष महत्व होती है। सभी तीज त्योहारों का ग्रामीण भरपूर आनंद उठाते है। कुछ यही नजारा खैरागढ़ इलाके के ग्राम खम्हारडीह में शनिवार को शुरू रामसत्ता की विसर्जन पर किया गया। इस दौरान गांव में जगह-जगह दही लूट का आयोजन रखा गया था।

खम्हारडीह में दहीलूट का आयोजन
उपरवाह. ग्रामीण अंचल में छोटे छोटे त्योहारों का भी विशेष महत्व होती है। सभी तीज त्योहारों का ग्रामीण भरपूर आनंद उठाते है। कुछ यही नजारा खैरागढ़ इलाके के ग्राम खम्हारडीह में शनिवार को शुरू रामसत्ता की विसर्जन पर किया गया। इस दौरान गांव में जगह-जगह दही लूट का आयोजन रखा गया था।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned