सर्राफ की दुकान से 10 लाख से ज्यादा का सोना पार

- ग्राहक बनकर आए दो युवक
- नाथद्वारा के आठ हट्या क्षेत्र की घटना

By: Rakesh Gandhi

Published: 07 Sep 2020, 09:23 PM IST

गिरिराज सोनी
नाथद्वारा.
शहर में एक सर्राफा व्यवसायी की दुकान पर ग्राहक बनकर आए दो युवकों दुकानदार के पुत्र को बातों में लगा लगभग 200 ग्राम सोना चुरा लिया और बाद में मोटरसाइकिल से फरार हो गए।
शहर के लाल बाजार पुरानी पुलिस चौकी के नीचे स्थित आठ हट्या क्षेत्र में सिद्धि ज्वैलर्स के नाम की रमेश सिंयाल की दुकान पर सोमवार को प्रात: साढ़े ११ बजे दो जने पहुंचे। उनमें से एक मोटे शरीर वाला युवक अंदर गया और सिंयाल के पुत्र विमल से पेंडल बताने को कहा। इस दौरान बातों-बातों में उसने सोने की चैन भी दिखाने को कहा और विमल का ध्यान बटाकर सोने की चैन की पुडिय़ा जो अखबार में बंधी थी वो चुरा ली। उसका वजन लगभग 206 ग्राम बताया है, जिसका बाजार भाव लगभग 10 लाख रुपए बताया है। वहीं इस व्यक्ति ने सामान ले जाने के बहाने पहले ५०० रुपए रखे और उसके बाद 500 का एक नोट और रखा। कुछ ही देर में ये दोनों मोटरसाइकिल पर सवार होकर फरार हो गए। इसके बाद विमल ने अपने सामना का वजन किया तो उसमें सोने की चैन की पुडिय़ा नहीं थी। तब सामने पड़ौसी की दुकान पर लग रहा सीसीटी कैमरा देखा और उसके बाद माजरा समझ में आया। फिर विमल ने पुलिस थाने में प्रकरण दर्ज कराया। समाचार लिखे जाने तक चोरों का पता नहीं चल पाया। जिस मोटरसाइकिल से आए थे एवं जब बाद में लाल बाजार से होकर गए, उसमें एक दुकान पर लगे कैमरों में हुलिया भी दिखाई दिया।

चांदी के पेंडल खरीदने के बहाने पहुंचा
विमल के यहां आने से पहले ये दोनों व्यक्ति उसके भाई की दुकान पर पहुंचे, जो विमल के ठीक सामने ही है। वहां जाकर उसने सोने का पेंडल जिस पर ऊं लिखा हो मांगा और भाई ने चांदी का पेंडल दिखाया तो उसने 120 रुपए देकर पेंडल खरीद लिया और सोने के पेंडल की मांग की। तब भाई ने कहा कि हमारी सामने वाली दुकान पर सोने के आयटम मिल जाएंगे। पेंडल खरीदने के बाद यह मोटा व्यक्ति विमल की दुकान पर पहुंचा और सोने का पेंडल मांगने के साथ ही सोने की चैन आदि भी बताने को कहा। इस दौरान उसने चैन देखी और देखते देखते ही बातचीत में कब सोने की चैन का एक पैकेट उठा लिया वो विमल को पता नहीं लगा। इसके बाद वो वहां से चले गए।

तेजी से जाने पर हुई शंका हुई
विमल के यहां से कु छ खरीदा भी नहीं और 500-500 के दो नोट पेशगी के रूप में देकर पसंद आया सामान वापस आकर ले जाने का कहकर ये दोनों व्यक्ति चले गए। जाने के दौरान उस व्यक्ति के तेजी से जाते देख विमल को कुछ शंका हुई और कुछ देर बाद विमल ने अपने सामान का वापस वजन किया तो उसमें २०५ ग्राम वजन कम निकला।

गो दान-गो दान ही बोलता रहा
विमल को पेंडल एवं चैन मांगने के दौरान यह व्यक्ति बार-बार गो-दान गो-दान ही बोलता रहा। जिस पर विमल को लगा कि गो-दान के लिए यह सामग्री चाहिए होगी। खरीददारी करने के बहाने आया यह एक बार भी नहीं बैठा और कब हाथ साफ कर दिया, पता ही नहीं चला। बताया जा रहा कि दोनों व्यक्तियों ने जिस मोटरसाइकिल का उपयोग किया वो बिना नंबर की थी।

एक और शिकार होते बचा
जानकारी के अनुसार ये दोनों ही व्यक्ति शहर के कुम्हारवाड़ा में स्थित राजेन्द्र सोनी की दुकान पर भी गए थे। जहां पर कान में पहने की बाली मांगी तो इस मोटे व्यक्ति ने ही वहां पर बातचीत की। इस दौरान राजेन्द्र को कहा कि मेरे पास तो आप मांग रहे वो आयटम नहीं है। मैं तो सोने-चांदी के गहनों आदि की मरम्मत का कार्य करता हूं। फिर उस व्यक्ति ने कहा कि बाली होगी क्या, तो दुकानदार ने कहा चांदी की नहीं है। मेरे पास सोने की भी तैयार नहीं है बना सकता हूं। इस पर राजेन्द्र ने ग्राहक समझ उसको सोने का दो तीन ग्राम का टुकड़ा भी बताया कि ये ९० टंच का है। इस पर उस व्यक्ति ने कहा कि मेरे को तो प्योर चाहिए। राजेन्द्र ने बताया कि इस दौरान वह व्यक्ति मेरे दराज तक भी बार-बार हाथ ला रहा था, लेकिन गनीमत यह रही कि वो कुछ ले जा नहीं पाए।

हुलिया सीसीटीवी में कैद
सोने की चैन चुराकर भागे इन दोनों व्यक्तियों का हुलिया विमल के पड़ौस में स्थित अलंकार ज्वेलर्स की दुकान पर लगे सीसीटीवी कैमरों पर बाहर निकलने के दौरान का हुलिया कैमरे में आ गया। वहीं लालबाजार में ही कपड़े की दुकान पर भी लगे सीसीटीवी कैमरे में भी मोटरसाइकिल पर जाते हुए दिखाई दिए। सूचना मिलने पर पुलिस ने घटना की जानकारी ली और मामले की जांच शुरू कर दी है।

Rakesh Gandhi Editorial Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned