VIDEO : अपनों के तिरस्कार से बेसहारा हुआ वृद्ध पुलिस की मदद से फिर जी उठा

Laxman Singh Rathore | Publish: Jun, 11 2019 12:29:20 PM (IST) Rajsamand, Rajsamand, Rajasthan, India

बेटा करेगा सेवा, पुलिस लेती रहेगी खैर खबर, केलवा पुलिस की पहल से बदले हालात

केलवा. अपनों के ही द्वारा बिसराया वृद्ध दस दिन से केलवा अस्पताल बेहसहारा हालत में घुट घुट कर जी रहा था। भूख की वजह से इतना कमजोर हो गया था कि वह उठ भी नहीं पाह रहा था और पेट सिकुड़ गया। बेसहारा वृद्ध सोए होने की सूचना मिली तो केलवा थाना प्रभारी भगवान लाल पहुंचे, दर्दभरी हालत देख वे पसीज गए। वे उसे न सिर्फ थाने ले गए, बल्कि उसे जूस पिलाया और नहला कर नए कपड़े पहनाए। फिर परिजनों का पता कर बेटे को थाने बुला लिया, तब वृद्ध परिजनों की प्रताडऩा से घर जाने को तैयार नहीं हुआ। थाना प्रभारी ने बेटे को सेवा करने के लिए पाबंद करते हुए वृद्ध की नियमित खैर खबर लेने के लिए बीट कांस्टेबल विक्रमसिंह की ड्यूटी लगा दी।

यह दर्दभरी दास्तांन है पसूंद निवासी मोहन (65) पुत्र माना रेगर की है। एक बेटा दयाराम हो ड्राइविंग करता है, जबकि दूसरा बेटा भैरूलाल शराब का आदी है, जो आए दिन वृद्ध से बदसलूकी व मारपीट तक को उतारू हो जाता है। परिजनों की इसी प्रताड़ता से आहत होकर वृद्ध सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र केलवा पहुंच गया, जहां जो कोई व्यक्ति बिस्कीट, रोटी या जो भी खाने का कोई कुछ दे दें, तो खा लेता और वहीं कुर्सी पर सो जाता। भूख के चलते दिनोंदिन वृद्ध मोहन की हालत बिगड़ती गई, जो बीमार हालत में सोया रहा। इस पर केसरसिंह ने केलवा थाने में सूचना दी, तो थाना प्रभारी भगवान लाल खुद ही अस्पताल पहुंच गए।

डॉक्टर-नर्स का नहीं पसीजा दिल
बेसहारा वृद्ध बीमार हालत में दस दिन से अस्पताल परिसर में पड़ा (सोया) रहा, जहां न पंखा था न ही सोने के लिए बिस्तर। पत्थर की बे्रंच पर कम्बल सिरहाने देकर सोया वृद्ध का पेट सिकुड़ गया, पसलियां दिखने लग गई। वृद्ध की गंभीर हालत देखकर भी किसी डॉक्टर व नर्स का दिल नहीं पसीजा और किसी ने सुध तक नहीं ली।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned