उज्ज्वला सफल, फिर भी धुआं मुक्त नहीं हुए गांव : एक लाख परिवार गैस कनेक्शन से वंचित

उज्ज्वला सफल, फिर भी धुआं मुक्त नहीं हुए गांव : एक लाख परिवार गैस कनेक्शन से वंचित

Laxman Singh Rathore | Publish: Sep, 16 2018 11:19:39 AM (IST) | Updated: Sep, 16 2018 11:19:40 AM (IST) Rajsamand, Rajasthan, India

राजसमंद जिले में साढ़े तीन लाख में से ढाई लाख परिवारों के घर ही गैस कनेक्शन

लक्ष्मणसिंह राठौड़ @ राजसमंद

घर-घर में गैस कनेक्शन देकर उज्ज्वला योजना के लक्ष्य सौ फीसदी अर्जित करने के बाद भी गांव, ढाणियां धुआं मुक्त नहीं हो पाएगी। उज्ज्वला में अब तक 94 फीसदी परिवारों को गैस कनेक्शन दे दिए, जबकि छह फीसदी कनेक्शन दिसम्बर तक जारी हो जाएंगे। वहीं, योजना के दायरे में नहीं होने से एक लाख परिवारों का गैस कनेक्शन से वंचित रहना, धुआं मुक्ति में बड़ा अड़ंगा है। प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के तहत राजसमंद जिले में 8 5 हजार 200 परिवारों को गैस कनेक्शन दिए जाने का लक्ष्य है। इसके मुकाबले 31 अगस्त 2018 तक 79 हजार 316 परिवारों को कनेक्शन दे दिए, जबकि 5 हजार 884 परिवारों को दिसम्बर 18 तक कनेक्शन जारी होने का रसद विभाग द्वारा दावा किया जा रहा है। खाद्य सुरक्षा योजना के तहत जिले में साढ़े तीन लाख परिवार हैं, जिसमें से उज्ज्वला सहित करीब ढाई लाख परिवार गैस कनेक्शन से जुड़ जाएंगे। इसके बावजूद एक लाख परिवार कनेक्शन से वंचित रह जाएंगे। इस प्रकार उज्ज्वला योजना की सौ फीसदी सफलता के बाद भी इक्कसवीं सदी में धुआं देने वाले ईंधन से मुक्ति संभव नहीं हो पाएगी।

76 फीसदी घटी केरोसिन आपूर्ति
राज्य सरकार द्वारा वर्ष 2016 में राजसमंद को 900 किलो लीटर केरोसिन आवंटित किया जा रहा था। उज्ज्वला योजना के गैस कनेक्शनों के बाद अब राजसमंद जिले को सिर्फ 216 किलो लीटर केरोसिन ही मिल रहा है। इससे स्टोव पर खाना बनाने वाले परिवार भी कम हुए हैं।

घरों में चूल्हे ही खाना
ग्रामीण क्षेत्र तो क्या शहरी इलाके में भी कई लोग आज भी चूल्हे पर खाना बनाने को मजबूर हैं। राजसमंद में गाडरियावास, राजनगर, धोइंदा क्षेत्र में तंबू तले गुजर बसर करने वाले परिवार आज भी भोजन पकाने के लिए चूल्हे पर ही आश्रित है। इससे घर घर उज्ज्वला कनेक्शन की हकीकत सामने आ गई।


ये हैं उज्ज्वला योजना की स्थिति
गैस एजेंसी जारी कनेक्शन
चन्देल गैस एजेंसी खमनोर 8,577
द्वारकेश गैस एजेंसी कांकरोली 4,752
कारगिल गैस एजेंसी भीम 8,859
कुंभलगढ़ गैस एजेंसी केलवाड़ा 11,716
रामकृष्ण गैस एजेंसी पीपरड़ा 9,962
शक्ति गेस सर्विस राजसमंद 8,622
श्री बालाजी गैस एजेंसी कांकरोली 4,272
शुभम गैस एजेंसी कांकरोली 3,936
सरस्वती एचपी गैस ग्रामीण 11,68
चारभुजा गैस सर्विस आमेट 4,475
श्री विनायक इंडियन गैस 6,712
सोनल गैस एजेंसी नाथद्वारा 6,265

उज्ज्वला योजना के तहत 94 फीसदी परिवारों को गैस कनेक्शन दे दिए हैं और शेष छह फीसदी को दिसम्बर तक कनेक्शन दे दिए जाएंगे। जिले में कई संयुक्त परिवार है, जो रहते, खाते-पीते साथ है, मगर राशन कार्ड अलग बना दिए हैं। इसलिए ज्यादातर परिवार चूल्हे के प्रदूषण से मुक्त हो गए हैं। वंचितों को प्रेरित व प्रोत्साहित किया जाएगा।
रणजीतसिंह सिसोदिया, जिला रसद अधिकारी राजसमंद

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned