युवक की हत्या कर तांत्रिक रात भर शव के साथ तांत्रिक क्रिया करता रहा

बेशक यह दौर आधुनिक तरक्की (Progress period ) का हो पर शिक्षा और सामाजिक जागृति ( Lack of awarnewss ) के अभाव में अंधविश्वास ( Root of blind faith ) की जड़े अभी पूरी तरह खत्म नहीं हुई हैं। झारखंड में ऐसे ही अंधविश्वास के चलते तांत्रिक ने एक युवक की हत्या ( Youth murdered by Tantric ) कर दी और पूरी रात उसके शव के साथ बैठ कर तांत्रिक क्रिया करता रहा।

By: Yogendra Yogi

Published: 23 May 2020, 02:48 PM IST

रामगढ़(झारखंड)रवि सिन्हा: बेशक यह दौर आधुनिक तरक्की (Progress period ) का हो पर शिक्षा और सामाजिक जागृति ( Lack of awarnewss ) के अभाव में अंधविश्वास ( Root of blind faith ) की जड़े अभी पूरी तरह खत्म नहीं हुई हैं। झारखंड में ऐसे ही अंधविश्वास के चलते तांत्रिक ने एक युवक की हत्या ( Youth murdered by Tantric ) कर दी और पूरी रात उसके शव के साथ बैठ कर तांत्रिक क्रिया करता रहा। पुलिस ने आरोपी तांत्रिक को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी हत्या की वारदात करना स्वीकार कर ली है।

हाथों पर लगे रक्त को धो रहा था
झारखंड के खलारी कोयलांचल क्षेत्र के चुरी दक्षिणी पंचायत के मचवाटांड गांव में अंधविश्वास में गांव के ही 55 वर्षीय रामा मुंडा ने अपने ही गांव के 25 वर्षीय बैजनाथ मुंडा की टांगी से वार कर हत्या कर दी। घटना को अंजाम देने के बाद आरोपी आराम से उसी के घर बैठा रहा और सुबह में आरोपी जब अपने हाथ-पैर में लगे खून को धो रहा था, उसी बीच मृतक की मां ने उससे खून लगे होने के कारण के बारे में जानकारी मांगी, तो रामा मुंडा ने साफ-साफ बताया कि उसने बैजनाथ मुंडा हत्या कर दी।

अंधविश्वास मे गंवाई जान
घटना की सूचना परिजनों ने तत्काल खलारी पुलिस को दी। सूचना मिलते ही मौके पर पुलिस ने मौक पर पहुंचकर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया और शव को कब्जे में कर पोस्टमार्टम के लिए रांची भेजा गया। फिलहाल हत्या की मूल कारण का पता नहीं चल सका। लेकिन ग्रामीणों का कहना है कि आरोपी ओझा गुणी के चक्कर में ज्यादा रहता था और अनुमान लगाया जा रहा है कि अंधविश्वास में ही उसने 25 वर्षीय बैजनाथ मुंडा की हत्या कर दी।

Show More
Yogendra Yogi Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned