योग से कोरोना के खात्मे का दावा, चीन जाने को तैयार बाबा रामदेव

( Jharkhand News ) इसे योगगुरू बाबा रामदेव का दुस्साहस कहें कि या फिर योग पर उनकी गहरी निष्ठा कि बाबा कोराना से निपटने के लिए चीन जाने ( Ramdev ready to go China ) को तैयार हैं। बाबा ने दावा किया है कि योग के माध्यम से ( Yog can cure Corona ) इस वायरस से निपटा जा सकता है।

By: Yogendra Yogi

Published: 07 Mar 2020, 08:39 PM IST

रांची(रवि सिन्हा): ( Jharkhand News ) इसे योगगुरू बाबा रामदेव का दुस्साहस कहें कि या फिर योग पर उनकी गहरी निष्ठा कि बाबा कोराना से निपटने के लिए चीन जाने ( Ramdev ready to go China ) को तैयार हैं। बाबा ने दावा किया है कि योग के माध्यम से ( Yog can cure Corona ) इस वायरस से निपटा जा सकता है। हालांकि बाबा की चुनौती का अभी चिकित्सकीय परीक्षण होना बाकी है। बाबा रामदेव ने कोरोना को लेकर कहा कि तीन प्रकार के प्राणायाम और पांच तरह की आयुर्वेदिक औषधियों से कोरोना वायरस को समाप्त किया जा सकता है।

चीन को सहयोग को तैयार
योग गुरु ने कोराना वायरस के बढ़ते प्रभाव पर लोगों से सावधानी बरतने की अपील की है। उन्होंने इससे निपटने के लिए चीन को सहयोग देने और खुद चीन जाने को तैयार रहने की बात भी कही। रांची के नामकुम स्थित आचार्यकुलम शिक्षण संस्थान में आयोजित कार्यक्रम में हिस्सा लेने के बाद बातचीत में बाबा रामदेव ने कहा कि दुनिया भर में एक करोड़ लोग कोरोना वायरस से प्रभावित है, भारत आने वाले यात्रियों की भी सघन जांच होनी चाहिए।

वायरस से निपटने का दावा
उन्होंने कहा कि भारतीयों को इससे परेशान होने की जरूरत है, सभी को सावधान रहने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि योग के माध्यम से इस बीमारी से निपटा जा सकता है। बाबा रामदेव ने विदेशी और अप्रवासियों से दूर रहने की सलाह दी है। उन्होंने देश में धार्मिक उन्मादियों की बढ़ती संख्या पर भी चिंता जताई और कहा कि वैचारिक मतभेद को दूर कर सभी के विकास के लिए काम किया जाना चाहिए।

काढ़ा और योग हैं उपचार
योगगुरु ने कहा कि भस्त्रिका, अनुलोम विलोम और कपालभाति से कोरोना को दूर रखा जा सकता है और गिलोय, तुलसी, हल्दी, गोलमिर्च और अदरक का काढ़ा बनाकर प्रतिदिन सेवन करने से शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है। कोरोना को दूर रखा जा सकता है। जिन्हें हो गया है, वह सुबह शाम इस औषधीय काढ़ा का सेवन करें। उनका मानना है कि कोरोना को लेकर भय का वातावरण तैयार किया जा रहा, यह कुछ व्यवसाय को फायदा पहुंच रहा है। सेनेटाईजर और मास्क से कोरोना से बचा नहीं जा सकता। शरीर के अन्य खुले हिस्से से भी कोरोना का वायरस अंदर जा सकता है, इसलिए आतंकित होने के बजाय सावधानी बरतें।

Corona virus
Show More
Yogendra Yogi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned