ये कैसी नि:शुल्क सुविधा, 108 एम्बुलेंस घायल को छोडऩे के लेती है रुपए

harinath dwivedi

Publish: Apr, 17 2018 05:02:01 PM (IST)

Ratlam, Madhya Pradesh, India
ये कैसी नि:शुल्क सुविधा, 108 एम्बुलेंस घायल को छोडऩे के लेती है रुपए

घायल को रतलाम छोडऩे के १०८ ने लिए २०० रुपए, पीडि़त ने की सीएम हेल्प लाइन पर शिकायत तो अधिकारी से बात कराने कहकर ऑपरेटर ने रख दिया फोन

रतलाम। सड़क हादसों में घायलों की मदद के लिए सरकार ने १०८ एम्बुलेंस की भले ही नि:शुल्क व्यवस्था की है, लेकिन रतलाम जिले में एक मरीज से एम्बुलेंस में मौजूद स्टाफ द्वारा रुपए मांगने का मामला सामने आया है। पीडि़त परिवार ने अस्पताल पहुंचने के बाद जब एम्बुलेंस चालक के खिलाफ सीएम हेल्पलाइन पर शिकायत की, तो वहां से भी उसे ठीक से जवाब नहीं मिला।
मामले की शिकायत करने वाले सैलाना के कोटड़ा निवासी मुकेश चरपोटा ने बताया कि रविवार दोपहर उसके पिता मानसिंह घर के बाहर होद से पानी भर रहे थे। तभी उन्हें एक जीप टक्कर मारकर निकल गई। इस हादसे में उन्हे गंभीर चोट आने पर १०८ को बुलाकर उन्हें जिला अस्पताल लाना था। एम्बुलेंस में बैठने के बाद गाड़ी कुछ दूर चली थी और उसमें सवार एक शख्स ने घायल को रतलाम के अस्पताल ले जाने के बदले २०० रुपए मांग लिए। घायल पिता की हालत देख परिजनों ने उस समय राशि दे दी और पिता को उपचार के लिए जिला अस्पताल लेकर पहुंचे।

१८१ पर की शिकायत
सामाजिक कार्यकर्ता संजय मूसले ने बताया कि घायल मानसिंह उनका पुराना परिचित है। उसके घायल होने की सूचना पर वह अस्पताल पहुंचे तो एम्बुलेंस में रुपए लेने की जानकारी मिली थी। मुकेश ने शिकायत करने के लिए १८१ सीएम हेल्पलाइन पर फोन लगाया तो ऑपरेटर ने शिकायत सुनने के बाद वरिष्ठ अधिकारी से बात कराने का बोला। सीएम हेल्पलाइन पर शिकायत दर्ज नहीं की गई।

हर तीन माह में होने वाली बैठक करीब ११ माह बाद २० अप्रैल को होगी
रतलाम। चुनावी साल आते ही अब हर किसी को आमजन की याद आने लगी है। लोगों को शासकीय योजनाओं का लाभ मिल रहा है या नहीं इसकी समीक्षा का दौर भी शुरू हो चुका है। इन्हीं सब में करीब ११ अब दिशा समिति की बैठक भी आयोजित होने जा रही है, जिसमें केंद्र सरकार द्वारा संचालित योजनाओं को आमजन को कितना लाभ मिला है और कितना नहीं उसकी समीक्षा सांसद कांतिलाल भूरिया दिशा समिति की बैठक में करेंगे।

लंबे इंतजार के बाद अब जाकर २० अप्रैल को बैठक होगी। इसमें सांसद की मौजूदगी के साथ ही सभी विधानसभा के विधायक व अन्य जनप्रतिनिधि व अधिकारी मौजूद रहेंगे। बैठक मुख्य रूप से १९ उन बिंदुओं पर आधारित रहेगी, जिनका हर शख्स पर सीधा असर पड़ता है। इसमें पीएम आवास से लेकर स्कूली शिक्षा तक के सभी बिंदुओं को समाहित किया गया है। लंबे अंतराल के बाद अब हो रही बैठक को लेकर अधिकारियों ने भी तैयारी शुरू कर दी है। वहीं जिलां पंचायत ने एजेंडा तैयार कर बैठक में बुलाए गए सभी लोगों तक भिजवा दिए है।

इन कामों की होगी समीक्षा
पीएम आवास योजना, राष्ट्रीय ग्रामीण पेयजल कार्यक्रम, दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण ज्योति योजना, प्रधानमंत्री फसल बीमा, राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन, समेकित बाल विकास योजना, प्रधानमंत्री शहरी आवास योजना, स्वच्छ भारत मिशन, एमएमआरयूटी, एनएलआरएमपी, उज्जवला योजना, सर्व शिक्षा अभियान, राष्ट्रीय सामाजिक सहायता कार्यक्रम, रोजगार गारंटी योजना, पीएम ग्रामीण आवास, स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण, पीएम कृषि सिंचाई योजना, मिड डे मिल, डीडीयूजीकेवाई में अब तक हुए कार्यों की समीक्षा होगी।

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

1
Ad Block is Banned