नगर निगम ने बता दी सर्वसुविधायुक्त कॉलोनी, खराब सड़क पूछ रही सवाल

नगर निगम ने बता दी सर्वसुविधायुक्त कॉलोनी, खराब सड़क पूछ रही सवाल

 

By: sachin trivedi

Published: 31 Jul 2018, 01:58 PM IST

रतलाम. नगर निगम का साधारण सम्मेलन हंगामे के बाद आरोपों में बदल गया है। भाजपा और कांग्रेस के पार्षद खुले तौर पर निगमायुक्त एसके सिंह सहित नगर निगम के अन्य अफसरों पर आरोप लगा रहे है। भाजपा के अल्पसंख्यक वर्ग के वरिष्ठ नेता और पार्षद सलीम मेव ने कॉलोनी नियमितिकरण के मसले पर निगम को घेरा है। मेव ने कहा कि वार्ड क्रमांक 27 की कॉलोनियों को नगर निगम ने हैंडओवर कर पूर्णता का प्रमाण पत्र भी दे दिया है, लेकिन हालात ये हैं कि बारिश के दौरान कॉलोनी मेंं जाना मुश्किल हो गया है। उस कॉलोनी में निर्माण की अनुमति नहीं दी जा रही है। नगर निगम ने अब तक विकास के कार्य भी नहीं कराए है। मालूम हो कि शहर में करीब 20 करोड़ रुपए कॉलोनियों मेंं कार्य के लिए राज्य की सरकार ने मंजूर किए है। इसे शहर के लिए बड़ी सौगात के तौर पर बताया गया। निगम के अधिकारी किसी भी पार्षद की बात पर कार्य नहीं कर रहे है।

 

जलप्रदाय प्रभारी भी बरसे, कहा कोई सुनता नहीं
सम्मेलन के दौरान जलप्रदाय समिति के प्रभारी पार्षद प्रेम उपाध्याय भी अफसरों पर बरस पड़े। उपाध्याय ने कहा कि यहां कोई अधिकारी किसी की सुनने को तैयार नहीं है। महापौर परिषद सहित पार्षदों की बातों को अनसुना कर दिया जाता है। उपाध्याय यहीं नही रूके, बल्कि उन्होंने आयुक्त व बड़े अफसरों को भी घेर लिया।

महिला पार्षद टांक ने उठाया कर्मचारियों का मुद्दा
भाजपा की महिला पार्षद सीमा टांक ने वर्ष 2015 के दैनिक वेतनभोगी कर्मचारियों की जानकारी सदन से मांगी। इस पर नेता पक्ष प्रेम उपाध्याय ने जवाब में कहा कि अफसरों ने इसकी जानकारी ही तैयार नहीं की है। उपाध्याय के इस जवाब पर अन्य भाजपा पार्षद भी विरोध में सामने आ गए और कहा कि सभी के साथ यह हो रहा है। निगम के अधिकारी किसी भी पार्षद की बात पर कार्य नहीं कर रहे है।

 

sachin trivedi Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned