सीएम की सभा से पहले कांग्रेस ने छोड़े काले गुब्बारे

सीएम की सभा से पहले कांग्रेस ने छोड़े काले गुब्बारे

Sachin Trivedi | Updated: 26 May 2018, 02:54:27 PM (IST) Ratlam, Madhya Pradesh, India

केन्द्र सरकार के 4 वर्ष के कार्यकाल को बताया जनता के लिए काला

रतलाम. प्रदेश कांग्रेस के आव्हान पर 26 मई को जिला व शहर कांग्रेस ने विश्वासघात दिवस मनाया। एक ओर मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान शहर आ रहे है तो दूसरी ओर कांग्रेस ने आसमान में काले गुब्बारे छोड़कर विरोध भी जताया। कांग्रेस का आरोप है कि वे सीएम से मिलना चाहते है, लेकिन प्रशासन के अफसर भाजपा के दबाव में अनुमति नहीं दे रहे। कुछ कांग्रेस नेता हेलीपेड पर भी सीएम से मिलने का प्रयास कर सकते है।

जिला व शहर के नेता साथ आए
शहर के दो बत्ती चौराहा के कांग्रेस कार्यालय पर शनिवार को जिला कांग्रेस अध्यक्ष प्रभु राठौर, शहर अध्यक्ष विनोद मिश्रा, महिला कांग्रेस अध्यक्ष अदिति दवेसर, नेता प्रतिपक्ष नगर निगम यास्मीन शैरानी सहित कांग्रेस नेता व पूर्व महापौर पारस सकलेचा ने भाजपा की सरकार पर हमला बोला। सरकार पर गलत नीतियों का आरोप लगाते हुए बुधवार को मंडलम स्तर पर कांग्रेस ने पेट्रोल पंपांे के बाहर धरना दिया था अब तहसील व जिला मुख्यालय पर भी प्रदर्शन कर मूल्यवृद्धि का विरोध किया जा रहा है। धरना प्रदर्शन रतलाम ग्रामीण विधानसभा के धामनोद मंडल, बिलपांक ब्लॉक, नामली ब्लॉक, मुंदड़ी ब्लॉक, तितरी मंडलम, ढकवा मंडलम, रतलाम ग्रामीण ब्लॉक में बांगरोद मंडलम में कई स्थानों पर पेट्रोल पंप पर धरना प्रदर्शन किया गया है। कांग्रेस नेताओं ने कहा कि के्रंद्र राज्य की भाजपा सरकार द्वारा पेट्रोल पर 21.2 प्रतिशत और डीजल पर 43.3 प्रतिशत एक्साइज ड्यूटी लगा रखी है। इन 4 सालों में करीब पेट्रोल ३३ प्रतिशत व डीजल 55 प्रतिशत महंगा हुआ है। मोदी सरकार भारत में एक टैक्स की बात कर रही है तो पेट्रोल-डीजल को जीएसटी के दायरे में क्यों नहीं ला रही है।

महंगाई से लेकर विकास पर भी सवाल
कांग्रेस नेताओं ने कहा कि गैस सिलेंडर कांग्रेस के शासन में 300 रुपए में मिलता था उसे भाजपा की सरकार ने 750 रुपए कर दिए हैं। इसके विरोध में सोमवार को सुबह 10 बजे से दोपहर 2 बजे तक कांग्रेस संगठन मंडलम एवं सेक्टर एवं ब्लॉक स्तर पर स्थानीय पेट्रोल पंपों पर 4 घंटे का धरना प्रदर्शन किया गया। रतलाम। प्रदेश कांग्रेस के आव्हान पर शहर की ब्लॉक कमेटी को छोड़कर जिलेभर में पेट्रोल और डीजल की मूल्यवृद्धि का विरोध किया गया। अंचल के ब्लॉक मुख्यालयों पर कांग्रेस ने पेट्रोल पंपों के बाहर धरना दिया। अब दूसरे और तीसरे चरण मेें तहसील तथा जिला मुख्यालय पर धरना प्रदर्शन के साथ महंगाई विरोध रैली की तैयारी हो रही है। जिला कांग्रेस ने बुधवार को पेट्रोलियनम पदार्थों की बढ़ती कीमत को लेकर विरोध प्रदर्शन किया। अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम कम होने के बावजूद केंद और राज्य सरकार पेट्रोल पर 212 प्रतिशत एक्साइज ड्यूटी और डीजल पर 433 प्रतिशत बढ़ा चुकी है। पत्रकार वार्ता के बाद कांग्रेस नेताओं ने शहर के दो बत्ती चौराहा पर आकर काले गुब्बारे छोड़े और भाजपा की सरकार पर जमकर निशाना साधते हुए नारेबाजी। वहीं, सीएम से मिलने नहीं देने पर प्रशासन के खिलाफ भी हल्ला बोला।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned