सरकार ने माता वैष्णो देवी तीर्थ यात्रा पर लगाई रोक

- आईआरसीटीसी सहित 13 जिलों के कलेक्टरों को शासन ने जारी किया पत्र

 

रतलाम। सरकार ने माता वैष्णो देवी तीर्थ यात्रा पर रोक लगा दी है। इसके पीछे कारणों का कोई भी खुलासा करने को तैयार नहीं है। बीते कई वर्षों से जारी मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन यात्रा के एक बार फिर से रूकने से हर कोई परेशान है। विधानसभा चुनाव के पहले रूकी यात्रा की चुनाव बाद नए सिरे से शुरुआत हुई थी। अभी कुछ माह ही बीते थे कि यात्रा पर एक बार फिर से रोक लगा दी गई है, वह भी तब जब कि श्री माता वैष्णोदवी यात्रा के लिए आवेदक अपने फार्म जमा करा रहे है। एेसे में जिन लोगों ने आवेदन किए है, उनकी यात्रा शुरू होने के पहले ही रूक गई है।

train_7.jpg

यात्रा पर रोक की वजह प्रदेश सरकार ने तो स्पष्ट नहीं की। प्रदेश सरकार द्वारा हालही में 13 जिलों के कलेक्टर व आईआरसीटीसी के क्षेत्रीय प्रबंधक को पत्र जारी किया है, जिसमें 15 फरवरी से 2 मार्च तक ट्रेनों के संचालन कार्यक्रम को निरस्त करने की बात कही गई है। उक्त दिनांक को होने वाली यात्राओं में रतलाम से भी तीर्थ दर्शन यात्रियों को जत्था श्री माता वैष्णो देवी की यात्रा के लिए तैयारी कर रहे थे। कई लोग इसके लिए अपने आवेदन कर चुके है, तो कुछ आवेदन करा ही रहे थे कि इस बीच शासन का यह फरमान जारी होने से उनकी यात्रा की उम्मीदों पर पानी फिर गया।

इनका कहना है
यात्रा पर लगी रोक
- शासन से फिलहाल यात्रा पर रोक के बारे में जानकारी आई है। पत्र में कारणों का उल्लेख नहीं किया गया है। फिलहाल 15 फरवरी से 2 मार्च तक होने वाली यात्रा को रोका गया है।
संदीप केरकेट्टा, सीईओ जिला पंचायत, रतलाम

दो दिन पहले किया निरस्त
- तीर्थ दर्शन के लिए पांच ट्रेन बुक कराई गई थी, लेकिन दो दिन पहले सूचना आई कि यात्रा निरस्त कर रहे है। हमारी तरफ से तैयारी शुरू कर दी गई थी लेकिन यात्रा निरस्त किए जाने के पीछे क्या कारण है, ये नहीं पता।
केके सिंह, क्षेत्रीय प्रबंधक आईआरसीटीसी, भोपाल

Sourabh Pathak Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned