scriptastro tips for remaining puja samagri for happiness and prosperity | ज्योतिष: बची हुई पूजा सामग्री को न करें फेंकने की गलती, इस तरह इस्तेमाल से जीवन में आती है सुख-समृद्धि | Patrika News

ज्योतिष: बची हुई पूजा सामग्री को न करें फेंकने की गलती, इस तरह इस्तेमाल से जीवन में आती है सुख-समृद्धि

Puja Samagri: हिंदू धर्म शास्त्रों में पूजा में इस्तेमाल होने वाली हर सामग्री का बड़ा महत्व होता है। लेकिन अक्सर पूजा के बाद थोड़ी बहुत सामग्री बच ही जाती है। परंतु ज्योतिष शास्त्र के अनुसार बची हुई पूजा सामग्री को इस तरह इस्तेमाल करके...

नई दिल्ली

Updated: July 03, 2022 10:58:06 am

हमारे शास्त्रों में पूजा में इस्तेमाल की जाने वाली हर चीज जैसे रोली, अक्षत, फल, फूल, नारियल आदि का अपना एक अलग महत्व होता है। इन सभी चीजों को बहुत पवित्र माना जाता है। लेकिन अक्सर पूजा के बाद थोड़ी बहुत सामग्री बच ही जाती है। ऐसे में लोग आमतौर पर बची हुई पूजा सामग्री को बहते हुए जल या नदी में प्रवाहित कर देते हैं, लेकिन ज्योतिष शास्त्र के अनुसार यह तरीका सही नहीं है। ज्योतिष के जानकारों के मुताबिक बची हुई पूजा सामग्री के इस्तेमाल से आप अपने जीवन में सुख-समृद्धि ला सकते हैं। तो आइए जानते हैं बची हुई पूजा सामग्री के उपाय...

रोली
शास्त्रों के अनुसार देवी-देवताओं की पूजा कुमकुम रोली के बिना अधूरी मानी जाती है। ऐसे में पूजा के बाद बची हुई रोली को सुहागिन महिलाएं अपनी मांग में लगाती हैं तो उन्हें अखंड सौभाग्य का आशीर्वाद प्राप्त होता है। वहीं घर में किसी नई वस्तु लाने पर उसका पूजन भी पूजा की बची हुई रोली या कुमकुम से करना शुभ माना जाता है।

puja samagri, jyotish shastra, worship material things, supari ke upay, roli puja samagri, puja ke phool, astro tips for money, astrological tips for good luck, astrological remedies to attract money,
ज्योतिष: बची हुई पूजा सामग्री को न करें फेंकने की गलती, इस तरह इस्तेमाल से जीवन में आती है सुख-समृद्धि

अक्षत
पूजा में धन-धान्य का प्रतीक माने जाने वाला अक्षत यदि पूजा की थाली में बच जाए तो उसे अपने रसोईघर के अनाज जैसे गेहूं, चावल आदि में मिला दें। मान्यता है कि इससे मां लक्ष्मी के आशीर्वाद से घर में सदा बरकत बनी रहती है।

फूल
ज्योतिष शास्त्र के अनुसार पूजा के बाद बचे हुए फूलों को इधर-उधर फेंकना नहीं चाहिए, बल्कि अपने घर के मुख्य द्वार पर एक माला में पिरो कर बांध दें। फिर दरवाजे पर बंधे हुए फूल जब पूरी तरह सूख जाएं तो उन्हें अपने घर में किसी गमले में बुरक दें। इससे फूलों के नए पौधे उग आएंगे।

सुपारी
भगवान गणेश की पूजा में सुपारी का बहुत महत्व होता है। आपने देखा होगा कि पूजा के दौरान पान के पत्ते पर स्वास्तिक बनाकर उस पर सुपारी रखी जाती है। लेकिन पूजा की समाप्ति के बाद समझ नहीं आता कि इस सुपारी का क्या करें। ऐसे में ज्योतिष शास्त्र के अनुसार पूजा के बाद सुपारी को एक लाल कपड़े में बांधकर अपनी तिजोरी में रख दें। मान्यता है कि इस उपाय को करने से घर में कभी धन की कमी नहीं होती।

(डिस्क्लेमर: इस लेख में दी गई सूचनाएं सिर्फ मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है। patrika.com इनकी पुष्टि नहीं करता है। किसी भी जानकारी या मान्यता को अमल में लाने से पहले संबंधित विशेषज्ञ की सलाह ले लें।)

यह भी पढ़ें

बारिश के पानी के इन उपायों से करें देवी-देवताओं को प्रसन्न, आरोग्य-सौभाग्य प्राप्ति की है मान्यता

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

श्रीनगर में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़, एक आतंकी को लगी गोली, जवान भी घायल38 साल बाद शहीद लांसनायक चंद्रशेखर का मिला शव, सियाचिन ग्लेशियर की बर्फ में दबकर हो गए थे शहीदराष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू का देश के नाम संबोधन, कहा - '2047 तक हम अपने स्वाधीनता सेनानियों के सपनों को पूरी तरह साकार कर लेंगे'पंजाब में शुरु हुई सेहत क्रांति की शुरुआत, 75 'आम आदमी क्लीनिक' बन कर तैयार, देश के 75वें वर्षगांठ पर हो जाएंगे जनता को समर्पितMaharashtra: सीएम शिंदे की ‘मिनी’ टीम में हुआ विभागों का बंटवारा, फडणवीस को मिला गृह और वित्त, जानें किसे मिली क्या जिम्मेदारीलाखों खर्च कर गुजराती युवक ने तिरंगे के रंग में रंगी कार, PM मोदी व अमित शाह से मिलने की इच्छा लिए पहुंचा दिल्लीशेयर मार्केट के बिगबुल राकेश झुनझुनवाला की मौत ऐसे हुई, डॉक्टर ने बताई वजहBJP ने देश विभाजन पर वीडियो जारी कर जवाहर लाल नेहरू पर साधा निशाना, कांग्रेस ने किया पलटवार
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.