Shukra rashi parivartan 2021: शुक्र का चंद्र की राशि में प्रवेश 22 जून को, जानें किसे देगा लाभ और किसे होगा नुक्सान

इस राशि परिवर्तन का आप पर असर...

देवगुरु बृहस्पति के कुंभ राशि में प्रवेश के ठीक दो दिन बाद यानि मंगलवार, 22 जून 2021 को भाग्य के कारक व भौतिक सुखों को प्रदान करने वाले शुक्र ग्रह venus transit मिथुन राशि से कर्क राशि में गोचर करेंगे। वे यहां 17 जुलाई 2021 तक स्थित रहेंगे। 22 जून 2021 को होने वाले इस परिवर्तन Shukra rashi parivartan से पहले 28 मई के दिन शुक्र ने अपनी राशि बदली थी।

वहीं 17 जुलाई 2021 के बाद ये सिंह राशि में प्रवेश कर जाएंगे। shukra / venus का यह परिवर्तन जहां सबसे ज्यादा कर्क राशि वालों को प्रभावित करेगा। वहीं इसका विशेष असर मीन राशि में देखने को मिलेगा। इसके साथ ही इसका खास असर मिथुन व वृश्चिक पर भी पड़ता दिख रहा है।

Must read- जून 2021 में ग्रहों का राशि परिवर्तन, जानें किस राशि वालें होंगे सबसे ज्यादा प्रभावित

 

rashi_parivartan_of_june_2021

सभी 12 राशियों पर ये रहेगा शुक्र का असर...

1. मेष राशि
इस परिवर्तन के दौरान शुक्र आपकी राशि में चतुर्थ भाव यानि सुख व माता के भाव में गोचर करेंगे। इसका आप पर शानदार असर पड़ेगा। जिसके चलते आपकी आर्थिक स्थिति बेहतर होने के साथ ही आपको कॅरियर में भी सफलता मिलने की उम्मीद है। इस दौरान सेहत अच्छी रहने के बीच कार्यक्षेत्र में बदलाव भी संभव है। कुल मिलाकर यह आपके लिए एक खुशहाल समय रहता दिख रहा है। माता जी के स्वास्थ्य में सुधार की संभावना के बीच धन में भी बढ़ौतरी की उम्मीद है।

उपाय: फ्री में कुछ भी लेने से बचें।

2. वृषभ राशि
इस परिवर्तन के दौरान शुक्र आपकी राशि में तृतीय भाव यानि पराक्रम भाव में गोचर करेंगे। यह परिवर्तन आपके निजी जीवन में कुछ बड़ा बदलाव ला सकता है। वहीं इस समय आपको अच्छे अवसर मिलने के कारण आप इनका लाभ भी उठा सकते हैं।

वहीं शुक्र के इस गोचर के चलते कुछ उलझनों के बीच भाई-बहनों के साथ आपके संबंध और बेहतर हो जाएंगे। जबकि कारोबारियों को लाभ की संभावना के साथ ही विद्यार्थी अपनी शिक्षा पर पूरा ध्यान दे सकेंगे। इस समय आपका स्वास्थ्य अच्छा रहने की संभावना है।

उपाय: किचन में भोजन करें।

Must Read- Mars Rashi Parivartan june 2021: किन राशियों पर होगा अच्छा व बुरा असर, साथ ही जानें बचाव के उपाय

mangal_rashi_parivartan

3. मिथुन राशि
इस परिवर्तन के दौरान शुक्र आपकी राशि में दूसरे भाव यानि धन व वाणी के भाव में गोचर करेंगे। जिसके चलते एक ओर जहां आपकी वाणी में मधुरता का भाव रहेगा। वहीं निवेश में मुनाफा की संभावना के बीच आमदनी में बढ़ोतरी होने के प्रबल योग हैं। पढ़ाई कर रहे बच्चों को भी गोचर अच्छे परिणाम दे सकता है। साथ ही स्वास्थ्य भी इस समय आपका अच्छा बने रहने की उम्मीद है। इसके अलावा इस समय पूर्व में दिए गए धन के वापस आने के चलते आर्थिक क्षेत्र में मजबूती आएगी।

उपाय: हर रोज शाम के समय घर में एक कपूर का दीपक जलाएं।

4. कर्क राशि :
इस परिवर्तन के दौरान शुक्र आपकी ही राशि यानि लग्न भाव में गोचर करेंगे। ऐसे में पुराने निवेश आपको लाभ प्रदान कर सकते हैं। इसके अलावा इस दौरान विदेशी सहयोग से भी आपको लाभ हो सकता है। लेकिन इस समय आपके खर्चों में भी वुद्धि देखने को मिलेगी। यह समय व्यापार और साझेदारी के लिए भी अनुकूल रहने की संभावना के बीच आपके लिए काफी लाभदायक सिद्ध हो सकता है। इस दौरान विवाहित जातकों को जीवन में कुछ परेशानियां सामने करने के साथ ही सेहत का भी खास ख्याल रखना होगा।

उपाय: हर रोज देवी दुर्गा के मंत्रों का जाप करने के अलावा हर शुक्रवार देवी लक्ष्मी की पूजा करें।

5. सिंह राशि
इस परिवर्तन के दौरान शुक्र आपकी ही राशि के द्वादश यानि व्यय भाव में गोचर करेंगे। ऐसे में इस समय आपका खर्च संतुलन से बाहर होता दिख रहा है। इसके अलावा व्यक्तिगत स्तर पर इस समय आप खुद के चारों ओर नकारात्मकता महसूस करेंगे। वहीं विदेशों में या बहुराष्ट्रीय कंपनियों में कार्यरत जातकों को इस समय लाभ की संभावना है। सेहत का खास ख्याल रखने की जरूरत के बीच इस समय आपको विदेश यात्रा का मौका मिल सकता है। जो आपके लिए फायदेमंद रहेगा।

उपाय: शुक्र के मंत्र का पाठ करें।

Must read- सूर्य कर रहे हैं राशि परिवर्तन, जानें किन राशियों के लिए रहेगा विशेष

surya_parivartan_june_2021

6.कन्या राशि :
इस परिवर्तन के दौरान शुक्र आपकी ही राशि के एकादश यानि आय भाव में गोचर करेंगे। ऐसे में इस समय आर्थिक रूप से आपको आय में लगातार वृद्धि मिलने की संभावना है, वहीं आपमें से कुछ लोगों को अन्य तरीकों से भी धन लाभ हो सकता है।

इस समय आपके मित्र आपकी मदद के लिए खड़े रहेंगे, वहीं इस दौरान किसी प्रतिस्पर्धा में आपको पुरस्कार भी मिल सकता है। भाई-बहन को लेकर थोड़े तनाव के बीच सेहत संबंधी कुछ परेशानियां भी आपको परेशान कर सकती हैं। जबकि प्रेमी व वैवाहिक जीवन के लिए यह समय अच्छा रहेगा।

उपाय: भगवान शंकर व माता दूर्गा की पूजा करें।

7. तुला राशि :
इस परिवर्तन के दौरान शुक्र आपकी ही राशि के दशम यानि कर्म भाव में गोचर करेंगे। इसके चलते आपको अपने जीवन में कुछ उतार-चढ़ाव का सामना करना पड़ सकता है। यह एक व्यस्त समय रहेगा, जिसमें आपको बहुत अधिक मेहनत करनी होगी। वहीं इस समय आपको धन से जुड़ी परेशानियों का भी सामना करना पड़ सकता है।

सेहत को लेकर सतर्क रहने के बीच इस समय किसी भी कार्य में टालमटोल करना आपको महंगा पड़ सकता है। एक ओर जहां प्रेमी रोमांटिक समय बिता सकते हैं तो वहीं विवाहित के जीवन में नोक-झोंक होने की संभावना है।

उपाय: शुक्रवार को देवी माता दुर्गा की पूजा करें।

8. वृश्चिक राशि :
इस परिवर्तन के दौरान शुक्र आपकी ही राशि के नवम यानि भाग्य भाव में गोचर करेंगे। यह अवधि नए कार्य करने के लिए अनुकूल होगी वहीं इस दौरान शुभ परिणाम के बीच व्यापारियों को लाभ होने की संभावना भी है। यह समय नए कार्य की शुरुआत करना उत्तम रहेगा।

इसके अलावा व्यवसाय में नए और सकारात्मक बदलाव से कारोबारियों के लाभ में वृद्धि हो सकती है, जबकि नौकरीपेशा लोगों कॅरियर क्षेत्र में अच्छे अवसर मिलेंगे। वहीं निर्माण से जुड़े कार्यों को लेकर आप नवीनीकरण कर सकते हैं। आप समय आपको त्वचा संक्रमण को लेकर सावधान रहना होगा।

उपाय: शुक्र बीज मंत्र का जाप करें।

Must Read - Rashi Parivartan on 20 June: वक्री गुरु का कुंभ में राशि परिवर्तन, इन 3 राशि वालों को बनाएगा मालामाल!

brahaspati_rashi_parivartan_june2021

9. धनु राशि :
इस परिवर्तन के दौरान शुक्र आपकी ही राशि से अष्टम यानि आयु भाव में गोचर करेंगे। इस समय आपको सावधान रहने की खास आवश्यकता रहेगी। साथ ही लोगों से सामंजस्य बिठाने में आपको कुछ परेशानियों का सामना भी करना पड़ सकता है।

जीवनसाथी का स्वास्थ्य भी इस समय आपकी परेशानियों का कारण बन सकता है। इस समय अचानक लाभ या हानि भी हो सकती है, ऐसे में किसी को पैसा उधार न दें। कुल मिलाकर इस समय आपको इस समय धोखों से सर्तक रहने की आवश्यकता रहेगी। इस दौरान सेहत को लेकर आपको सतर्क रहना होगा अन्यथा पेट संबंधी किसी दिक्कत की संभावना बनती दिख रही है।

उपाय: रामरक्षास्त्रोतम का पाठ हर रोज करें।

10. मकर राशि :
इस परिवर्तन के दौरान शुक्र आपकी ही राशि से सप्तम यानि विवाह भाव में गोचर करेंगे। ऐसे समय में आर्थिक स्थिति में सुधार की संभावना के बीच पदोन्नति का योग बनता दिख रहा है। जिसके चलते जीवन में अनुकूल बदलाव आ सकते हैं साथ ही जीवनसाथी से मधुर संबंध स्थापित होने की भी उम्मीद है। वहीं इस समय साझेदारी वाले व्यापार में भी कामयाबी मिलने की संभावना हैं। इस दौरान कार्यक्षेत्र में आपके काम की प्रशंसा होने के अलावा आपको शानदार परिणाम भी मिल सकते हैं।

उपाय: छोटी बच्चियों को उपहार देने के साथ ही शिक्षा प्राप्ति में उनकी मदद करें।


11. कुंभ राशि :
इस परिवर्तन के दौरान शुक्र आपकी ही राशि से छठे यानि रोग व शत्रु भाव में गोचर करेंगे। ऐसे में इस समय तनाव व झगड़े बढ़ सकते हैं। जिसके चलते अशांति में इजाफा होगा। वहीं इस अवधि में कुछ नए अवसर मिलने के साथ ही आपको अत्यधिक मेहनत भी करनी होगी।

खर्चों में वृद्धि के साथ ही किसी तरह की परेशानी आने पर उसे समझदारी से दूर करने की कोशिश करें। सेहत का ख्याल रखने के साथ ही इस समय अपने अनावश्यक खर्चों पर भी नजर रखें। इस समय शत्रुओं भी बेहद सतर्क रहना होगा।

उपाय: शुक्रवार को देवी लक्ष्मी को खीर का भोग लगाएं।

12. मीन राशि
इस परिवर्तन के दौरान शुक्र आपकी ही राशि से पांचवें यानि बुद्धि व पुत्र भाव में गोचर करेंगे। इस समय आपको अपनी बुद्धि के उपयोग से खास सफलता मिलने की उम्मीद है। साथ ही इस समय आप काफी कुछ नया भी सीख सकते हैं। आपको इस समय भाग्य का साथ मिलेगा। जिसके चलते कार्यक्षेत्र में आपको हर काम में सफलता हासिल हो सकती है।

यह समय हर लिहाज से अच्‍छा रहने की संभावना के बीच नौकरी पेशा लोगों को कार्यक्षेत्र में कुछ अच्छे समाचार मिलने की उम्मीद है। इस समय अपने बेवजह के खर्चों को नियंत्रित कर आप अपनी आर्थिक स्थिति को मजबूत कर सकते हैं। ऐसे में कुल मिलाकर ये समय आपके लिए शुभ साबित होता दिख रहा है।

उपाय: शुक्रवार को सफेद वस्त्र धारण करने के साथ ही सफेद चंदन का तिलक लगाएं।

दीपेश तिवारी
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned