scriptWhat Does It Mean To See Your Shop Or New City In Your Dream? | स्वप्न शास्त्र: वित्तीय मजबूती का संकेत होता है सपने में अपनी दुकान देखना, जानिए किसी शहर का सपना किस बात का है इशारा | Patrika News

स्वप्न शास्त्र: वित्तीय मजबूती का संकेत होता है सपने में अपनी दुकान देखना, जानिए किसी शहर का सपना किस बात का है इशारा

Dream Interpretation Workplace: स्वप्न शास्त्र के मुताबिक हमें दिखाई देने वाले सपने कई तरह के संकेत देते हैं। कई बार हम सपनों में अपने काम से जुड़ी चीजों को देखते हैं।

नई दिल्ली

Updated: May 26, 2022 12:37:24 pm

सपना देखना एक सामान्य प्रक्रिया है। लेकिन स्वप्न शास्त्र के अनुसार सपनों के हमें दिखाई देने वाली चीजें, लोग या जगह का काफी महत्व बताया गया है। इनसे हमें अपने जीवन में होने वाली घटनाओं के विभिन्न संकेत भी मिलते हैं। इसी प्रकार हमें कई बार सपनों में अपने काम की जगह या उससे जुड़ी चीजें नजर आती हैं तो कभी हम खुद को किसी शहर में पाते हैं। तो आइए जानते हैं कि ऐसे सपने किस बात की ओर इशारा करते हैं...

sapne me dukan dekhna, sapne me naya shahar dekhna, strong financial position, dhan labh ke sapne, sapne me dukan me grahak dekhna, money related dreams, सपने में दुकान देखना, सपने में दुकान में ग्राहक देखना,
स्वप्न शास्त्र: वित्तीय मजबूती का संकेत होता है सपने में अपनी दुकान देखना, जानिए किसी शहर का सपना किस बात का है इशारा

1. सपने में अपनी दुकान दिखाई देना
स्वप्न शास्त्र के अनुसार यदि आपको सपने में अपनी दुकान या कार्यस्थल दिखाई देता है तो यह एक अच्छा संकेत माना जाता है। यह सपना इस बात का संकेत है कि आप निकट भविष्य में किसी नए व्यापार में संलग्न हो सकते हैं या फिर अपने ही व्यवसाय में कोई परिवर्तन कर सकते हैं। साथ ही उस कार्य में आपको लाभ होने से आपकी वित्तीय स्थिति और बेहतर होगी।

2. सपने ने दुकान पर ग्राहकों की भीड़ देखना
यदि आपको सपने में अपनी दुकान पर ग्राहकों की भीड़ दिखाई दी है तो यह एक बहुत शुभ सपना माना जाता है। यह सपना धन लाभ की तरफ इशारा करता है और आने वाले समय में आपको खूब तरक्की भी प्राप्त होने वाली है।

3. सपने में नया शहर देखना
स्वप्न शास्त्र कहता है कि यदि आप सपने में स्वयं को किसी नए शहर में पाते हैं तो यह भी एक अच्छा संकेत होता है। इस सपने के दिखाई देने का मतलब है कि जल्द ही आपको कोई दिली तमन्ना पूरी होने वाली है। आपके रोजगार की दृष्टि से यह सपना काफी लाभकारी माना जाता है। जिसका सकारात्मक प्रभाव आपके जीवन पर पड़ता है।

(डिस्क्लेमर: इस लेख में दी गई सूचनाएं सिर्फ मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है। patrika.com इनकी पुष्टि नहीं करता है। किसी भी जानकारी या मान्यता को अमल में लाने से पहले संबंधित विशेषज्ञ की सलाह ले लें।)

यह भी पढ़ें

चाणक्य नीति: एक अच्छे लीडर में होती हैं ये सभी खूबियां

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान में 26 से फिर होगी झमाझम बारिश, यहां बरसेगी मेहरबुध ने रोहिणी नक्षत्र में किया प्रवेश, 4 राशि वालों के लिए धन और उन्नति मिलने के बने योगबुध जल्द अपनी स्वराशि मिथुन में करेंगे प्रवेश, जानें किन राशि वालों का होगा भाग्योदयपनीर, चिकन और मटन से भी महंगी बिक रही प्रोटीन से भरपूर ये सब्जी, बढ़ाती है इम्यूनिटीबेहद शार्प माइंड के होते हैं इन राशियों के बच्चे, सीखने की होती है अद्भुत क्षमतानोएडा में पूर्व IPS के घर इनकम टैक्स की छापेमारी, बेसमेंट में मिले 600 लॉकर से इतनी रकम बरामदझगड़ते हुए नहर पर पहुंचा परिवार, पहले पिता और उसके बाद बेटा नहर में कूदा3 हजार करोड़ रुपए से जबलपुर बनेगा महानगर, ये हो रही तैयारी

बड़ी खबरें

Maharashtra Political Crisis: शिंदे खेमे में आ चुके हैं सरकार बनाने भर के विधायक! फिर क्यों बीजेपी नहीं खोल रही अपने पत्ते?Maharashtra Political Crisis: ‘मातोश्री’ में मंथन! सड़क पर शिवसैनिकों के उपद्रव का डर, हाई अलर्ट पर मुंबई समेत राज्य के सभी पुलिस थानेMaharashtra Political Crisis: 24 घंटे के अंदर ही अपने बयान से पलट गए एकनाथ शिंदे, बोले- हमारे संपर्क में नहीं है कोई नेशनल पार्टीBharat NCAP: कार में यात्रियों की सेफ़्टी को लेकर नितिन गडकरी ने कर दिया ये बड़ा काम, जानिए क्या होगा इससे फायदा2-3 जुलाई को हैदराबाद में BJP की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक, पास वालों को ही मिलेगी इंट्री, सुरक्षा के कड़े इंतजामMumbai News Live Updates: शिवसेना ने कल पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक बुलाई, वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से जुड़ेंगे उद्धव ठाकरेनीति आयोग के नए CEO होंगे परमेश्वरन अय्यर, 30 जून को अमिताभ कांत का खत्म हो रहा है कार्यकालCBSE ने बदला सिलेबस: छात्र अब नहीं पढ़ेगे फैज की कविता, इस्लाम और मुगल साम्राज्य सहित कई चैप्टर हटाए
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.