सात साल बाद आखिर तिजोरी तोड़ने में सफल हो गए चोर, परिवार हुआ कंगाल

Manoj singh Chouhan

Publish: Jul, 13 2018 08:42:30 PM (IST)

Rewa, Madhya Pradesh, India
सात साल बाद आखिर तिजोरी तोड़ने  में सफल हो गए चोर, परिवार हुआ कंगाल

गढ़ थाने के बहेरा कोठार गांव में हुई घटना, तिजोरी व पेटी ले गए चोर

रीवा। चोरों ने घर में सेंध लगाकर गुरुवार रात लाखों रुपए का माल पार कर सनसनी फैला दी। घर से चोर तिजोरी व पेटी ले गए थे जिसे बाहर तोडकऱ उसमें रखा सारा सामान समेटकर चंपत हो गए। वारदात को अंजाम देने वाले आरोपियों का अभी तक पता नहीं चल पाया है।

गढ़ थाना के बहेरा कोठार निवासी रामनरेश तिवारी (65) के घर में गुरुवार रात चोरों ने धावा बोल दिया। पीडि़त का पूरा परिवार रीवा आ गया था और वे खुद रात में अहरी में थे। सूने घर में सेंध लगाकर चोर अंदर घुसे थे। बेखौफ चोरों ने घर की आलमारी तोड़ी। अंदर रखी पेटियां व पुराने जमाने की वजनी तिजोरी लेकर चंपत हो गए। तिजोरी व पेटी को घर से कुछ दूर ले जाकर तोड़ा जिसमें रखे डेढ़ लाख रुपए नगद सहित सोने व चांदी के जेवर चोरों के हाथ लग गए। सारा माल समेटकर चोर चंपत हो गए।

सुबह जैसे ही चोरी की जानकारी पूरे गांव में सनसनी फैल गई। पीडि़त की शिकायत पर पुलिस मौके पर पहुंच गई। फिंगर प्रिंट एक्सपर्ट वीरेन्द्र पाण्डेय, श्रीनिवास व अर्पित सेन ने घटनास्थल का निरीक्षण किया। वारदात को अंजाम देने वाले आरोपियों का अभी तक पता नहीं चल पाया है। पीडि़त को बिजली का बिल व सहकारी बैंक का ऋण अदा करना था जिसके लिए एक दिन पूर्व ही दामाद डेढ़ लाख रुपए दे गया था। वारदात के पीछे किसी करीबी व्यक्ति का हाथ होने की आशंका जताई जा रही है।

दो बार पहले भी तिजोरी तोडऩे का कर चुके थे प्रयास

इससे पहले भी चोरों ने उनके घर में दो बार तिजोरी तोडऩे का प्रयास किया था। 7 व 3 साल पूर्व चोरों ने तिजोरी को ले जाने का प्रयास किया था लेकिन वजन अधिक होने से वे तिजोरी को नहीं ले जा पाये थे। इस बार शायद चोर पूरी तैयारी के साथ आये थे और वे तिजोरी को घर से दो सौ मीटर दूर तक ले जाने में कामयाब हो गये।

Ad Block is Banned