गेहूं पंजीयन केन्द्रों पर अव्यवस्था से भडक़े कलेक्टर , DRCS समेत तीन अफसरो से जवाब तलब

जिले में गेहूं उपार्जन पंजीयन के लिए केन्द्रों पर नहीं लगाए गए हैं पोस्टर-बैनर

रीवा. जिले में गेहूं उपार्जन पंजीयन केन्द्रों की व्यवस्था विभागीय अफसरों की अनदेखी की भेंट चढ़ गई है। कलेक्टर फील्ड में भ्रमण से लौटने के बाद जिम्मेदारों को कड़ी फटकार लगाई है। कलेक्टर बसंत कुर्रे ने पंजीयन केन्द्रों पर लापरवाही को लेकर उपायुक्त सहकारिता विजय पांडेय, जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक महाप्रबंधक आरएस भदौरिया और जिला विपणन अधिकारी नेहा तिवारी को कारण बताओ नोटिस जारी जवाब-तलब किया है। इतना ही नहीं कलेक्टर ने कहा है कि जिले में पंजीयन से लेकर अन्य व्यवस्थाओं में गड़बड़ी मिलने पर जिम्मेदारों के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी।

कलेक्टर को इन केन्द्रों पर मिली गड़बड़ी
कलेक्टर गत दिवस हनुमना-मऊगंज क्षेत्र में भ्रमण पर पहुंचे। उन्होंने पन्नी, पटेहरा (देवरा), पांती (बन्ना) केन्द्र पर भ्रमण किया था। पंजीयन केन्द्र में समर्थन मूल्य के तहत किसानों को मिलने वाली सुविधाओं व पंजीयन कराने के लिए दस्तावेज आदि की जानकारियों के बैनर तक नहीं लगाए गए थे। इतना ही नहीं केन्द्रों पर पंजयीन का आवेदन तक उपलब्ध नहीं था। हैरान करने वाली बात तो यह कि कलेक्टर के पूछताछ में पता चला कि केन्द्रों पर न तो समिति प्रबंधक और न ही विभागीय अधिकारियों भ्रमण किया है।

लापरवाही पर पंजीयन
कलेक्टर ने लापरवाही पर पंजीयन के काम में लगे कर्मचारियों को चेतावनी दी है कि गेहूं उपार्जन के पंजीयन में किसी भी तरह की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। कलेक्टर ने उपायुक्त सहकारिता, जीएमएससीबी और डीएमओ को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है। साथ ही केन्द्रों पर व्यवस्था बनाए जाने का आदेश दिया है। कलेक्टर ने केन्द्रों पर व्यवस्थाओं की जिला खाद्य नियंत्रक ठाकुर राजेन्द्र ङ्क्षसह से जानकारी मांगी है।

Show More
Rajesh Patel Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned